किसानों के आंदोलन के बीच सियासत तेज, प्रियंका गांधी ने राहुल गांधी का वीडियो शेयर करते हुए खड़ा किया सवाल

by

New Delhi: कृषि कानूनों को लेकर कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर है. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वांड्रा ने किसानों के पक्ष में एक बार ट्वीट किया है. एक वीडियो शेयर करते हुए प्रियंका गांधी ने पूछा है कि किसान कानून बिना किसानों से बात किए कैसे बन सकते हैं?

इसे भी पढ़ें: ‘कोविडशील्ड’ से गंभीर साइड-इफेक्ट का दावा, अब वैक्सीन कंपनी करेगी 100 करोड़ का मुकदमा

प्रियंका गांधी का ट्वीट

प्रियंका गांधी ने ट्वीट में लिखा, “नाम किसान कानून. लेकिन सारा फायदा अरबपति मित्रों का. किसान कानून बिना किसानों से बात किए कैसे बन सकते हैं? उनमें किसानों के हितों की अनदेखी कैसे की जा सकती है? सरकार को किसानों की बात सुननी होगी. आइए मिलकर किसानों के समर्थन में आवाज उठाएं.”

Read Also  झारखंड सरकार का बड़ा आदेश- 50% कर्मचारियों पर चलेगा सरकारी कार्यालय

राहुल गांधी ने भी वही वीडियो शेयर करते हुए लोगों से किसानों के पक्ष में आवाज उठाने की गुजारिश की है. उन्होंने ट्वीट में लिखा, “मोदी सरकार ने किसान पर अत्याचार किए- पहले काले क़ानून फिर चलाए डंडे लेकिन वो भूल गए कि जब किसान आवाज उठाता है तो उसकी आवाज पूरे देश में गूंजती है. किसान भाई-बहनों के साथ हो रहे शोषण के खिलाफ आप भी #SpeakUpForFarmers अभियान के माध्यम से जुड़िए.”

इसे भी पढ़ें: जीपीटी-3 AI इंसानी दिमाग की तरह खुद किस्से-कहानियां, कंप्यूटर कोडिंग करता है

राहुल गांधी का वीडियो

वीडियो में भी देश के अन्नदाता किसानों के लिए आवाज उठाने की बात कही गई है. वीडियो में कहा गया है, “कभी सोचा आपने किसान कौन है? कौन है जिनकी आत्महत्या की खबर से अखबार की स्याही लाल हो जाती है? कभी सोचा आपने कि इस ठंड में सैकड़ों किमी दूर से दिल्ली की ओर आते हड्डियां गला देने वाली इस ठंड में पानी की बौछारों की प्रवाह न करने वाले ये लोग कौन हैं? किस मिट्ठी के बने हैं ये लोग? अगर अबतक नहीं सोचा, तो अब सोच लें. क्योंकि यही वो लोग हैं, जिनकी वजह से हमारी और आपकी भूख शांत होती हैं. किसान हमारा पेट भर रहा है. हमें भी अपना काम करना चाहिए. हमारी जिम्मेदारी बनती है कि अगर हमारा अन्नदाता मुश्किल में है तो हम उसके लिए आवाज उठाए.”

Read Also  झारखंड में लॉकडाउन को लेकर मंत्री रामेश्‍वर उरांव ने कहा- परिस्थितियों के अनुरूप बढ़ेगी सख्‍ती

इसे भी पढ़ें: अनुसूचित जाति में शामिल करने के लिए 9 जातियों का प्रस्‍ताव केंद्र भेजेगी झारखंड सरकार

केंद्र ने किसानों से कहा- ‘कृषि कानून पर गलतफहमी ना रखें’

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने किसानों से ट्वीट कर कहा, ‘कृषि कानून पर गलतफहमी ना रखें. पंजाब के किसानों ने पिछले साल से ज्यादा धान मंडी में बेचा और ज़्यादा MSP पर बेचा. MSP भी जीवित है और मंडी भी जीवित है और सरकारी खरीद भी हो रही है.’

वहीं केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने मंडी खत्म न होने की बात दोहराई है. उन्होंने कहा, “नए कृषि कानून APMC मंडियों को समाप्त नहीं करते हैं. मंडियां पहले की तरह ही चलती रहेंगी. नए कानून ने किसानों को अपनी फसल कहीं भी बेचने की आज़ादी दी है. जो भी किसानों को सबसे अच्छा दाम देगा वो फसल खरीद पायेगा चाहे वो मंडी में हो या मंडी के बाहर.”

Read Also  झारखंड में कोरोना से मर रहे मरीज और 7 जिलों में पीएम केयर्स फंड से मिले 100 वेंटिलेटर बेकार

1 thought on “किसानों के आंदोलन के बीच सियासत तेज, प्रियंका गांधी ने राहुल गांधी का वीडियो शेयर करते हुए खड़ा किया सवाल”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.