पुलिस एनकाउंटर में मारे गए मोस्ट वांटेड नक्सली का एके 47 समेत हथियार की बड़ी खेप बरामद

by

Ranchi: राजधानी रांची के ग्रामीण इलाकों में चल रहे अवैध गन फैक्टरी का उद्भेदन करते हुए पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार और हथियार बंनाने के सामान भी बरमाद किया. हथियार का ये काला कारोबार नगड़ी, नरकोपो और मांडर इलाके में चल रहा था। मामले में पुलिस ने एक आरोपी को भी गिरफ्तार किया तो वहीं एयरपोर्ट इलाके से पुनई उराँव के एक सहयोगी को गिरफ्तार किया जिसके पास से पुनई की AK 47 को भी बरामद किया.

रांची में पीएलएफआई के खिलाफ छेड़े गए अभियान में पुलिस को एक बड़ी सफलता हाँथ लगी है. पुलिस ने उग्रवादी पुनाई के सहयोगी संदीप उरांव को गिरफ्तार किया है. इसके पास से पुनाई की AK 47 बरामद की गई है. संदीप ने बताया कि पुनाई उसके पास ही हथियार को छिपा कर रखता था. वहीं इस दौरान 70 राउंड 7.62 एमएम की कारतूस भी पुलिस ने संदीप की निशानदेही पर बरामद किया है. संदीप को पुनाई ने एक स्विफ्ट कार भी दे रखी थी, जिसे पुलिस ने जप्त कर लिया है. पुलिस के द्वारा ये पूरी कार्रवाई एयरपोर्ट थाना क्षेत्र में की गई.

Read Also  31 वर्षीय विधायक अंबा प्रसाद पर FIR, 48 लाख अवैध निकासी का आरोप

वहीं दूसरी तरफ ग्रामीण इलाके मांडर  में चल रहे अवैध मिनी गन फैक्टरी का उद्भेदन करने में पुलिस को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है. नगड़ी और नरकोपी में चल रहे अवैध मिनी गन फैक्टरी का उद्भेदन करते हुए भारी मात्रा में अवैध हथियार की बड़ी खेप के साथ हथियार बनाने के सामान भी बरामद किया गया है. मामले की जानकारी देते हुए एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने बताया कि फिलहाल पुलिस इस तहकीकात में जुटी है कि इनकी सप्लाई कहां-कहां होती थी, मामले में पुलिस ने मो रकीब को गिरफ्तार किया है.

जानकारी के अनुसार ये हथियार नक्सलियों के साथ साथ बड़े आपराधिक संगठनो तक होती थी हालांकि पुलिस मामले में तफ्तीश की बात कह रही है. पुलिस की सक्रियता से बड़े अपराध गिरोह का खात्मा पुलिस ने कर दिया है, लेकिन वैसे संगठनों के खात्मा भी जरूरी है जो और अर्बन नक्सली के रूप में शहर में छुप के बैठे हैं.

Read Also  झारखंड में संस्कृत विद्यालयों के लिए 5 करोड़ 10 लाख और मदरसों के लिए 58 करोड़ 85 लाख रुपए आर्थिक सहायता की मंजूरी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.