Take a fresh look at your lifestyle.

पुलिस इंस्‍पेक्‍टर ने अपनी पत्‍नी समेत तीन लोगों पर चलाई गोली, एक की मौत

0 5

Jamshedpur (Jharkhand): झारखंड के जमशेदपुर से एक बड़ी खबर है. यहां एक पुलिस इंस्पेक्टर (Police Inspector) ने अपनी पत्‍नी समेत तीन लोगों पर गोली चला दी. इनमें से एक की मौत हो गई है. यह घटना जमशेदपुर के सोनारी  स्थित नौलखा अपार्टमेंट की है.

घटना शुक्रवाद सुबह की है. इंस्पेक्टर ने अपनी पत्नी, उसके तथाकथित ब्वायफ्रेंड (Boy Friend) और उसकी मां को गोली मारी. इसमें ब्वायफ्रेंड की मां की मौत हो गई. पत्नी और ब्वायफ्रेंड गंभीर हालत में इलाज के लिए टीएमएच (TMH) में भर्ती कराए गए हैं.

जानकारी के अनुसार पुलिस इंस्पेक्टर मनोज गुप्‍ता पहले से निलंबित चल रहे हैं. वह पहले पश्चिमी सिंहभूम जिले के गुदड़ी थाना में थानेदार थे.

सर्विस रिवाल्‍वर से मारी गोली

जानकारी के अनुसार पुलिस इंस्पेक्टर मनोज गुप्ता की पत्नी पूनम गुप्ता शुक्रवार की सुबह ही पटना से जमशेदपुर लौटी थी. पटना से कथित ब्यॉयफ्रैंड चंदन और चंदन की मां सीमा देवी भी साथ ही आए थे. सभी लिफ्ट अपने से उपर गए और आठ बजकर 11 मिनट पर फ्लैट में दाखिए हुए.

यह देखकर इंस्पेक्टर आपा खो बैठा और आठ बजकर 31 मिनट पर सर्विस रिवाल्वर से पत्नी, उसके कथित ब्यायफ्रैंड और उसकी मां को गोली मार दी. गोली मारने के बाद वह भाग निकले. ब्यायफ्रैंड भी पटना के मीठापुर का ही रहने वाला है.

घायल ब्‍वायफ्रैंड भाग गया

गोली चलने की आवाज सुनकर अपार्टमेंट और आसपास के इलाके में भागमभाग मच गई. पहुंचे लोगों ने तीन लोगों को लहूलुहान देखा जो सन्न रह गए. पुलिस को सूचना दी गई और तीनों को तत्काल टीएमएच पहुंचाया गया. इस दौरान एक महिला की मौत हो गई.

इंस्पेक्टर की पत्नी को दो गोली लगी है. एक गोली पेट में गली और आरपार हो गई. दूसरी गोली पैर में लगी है और उसकी हालत गंभीर बताई गई है. वही तथाकथित ब्यायफ्रैंड की हालत खतरे से बाहर है. गोली मारने के बाद मनोज गुप्ता पैदल ही भाग खड़ा हुआ. उसकी तस्वीर सीसीटीवी में कैद हुई है.

पत्नी की शिकायत पर ही इंस्पेक्टर हुआ था सस्पेंड

इंस्पेक्टर मनोज गुप्ता का पत्नी से विवाद चल रहा था. पत्नी ने उसके खिलाफ प्रताड़ना की शिकायत जमशेदपुर के बिष्टुपुर थाना में की. इसी के बाद मनोज गुप्ता को सस्पेंड किया गया था.

शिकायत दर्ज होने की जानकारी मिलने के बाद 22 जुलाई को ही पश्चिमी सिंहभूम के आरक्षी अधीक्षक ने निलंबित करने के साथ गिरफ्तारी का आदेश जारी किया था.

पुलिस अब मनोज गुप्ता को ढूंढने में जुटी है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.