Take a fresh look at your lifestyle.

न्यूक्लियस मॉल प्रबंधन के खिलाफ सीबीआई जांच के लिए हाईकोर्ट में दायर हुई पीआईएल

0 19

Ranchi: झारखंड हाइकोर्ट में बुधवार को न्यूक्लियस मॉल प्रबंधन के खिलाफ सीबीआई जांच के लिए सेंटर फॉर आरटीआई के पंकज कुमार यादव ने जनहित याचिका दायर की. यादव ने अपनी याचिका में सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय को प्रतिवादी बनाते हुए आरोप लगाया है कि मॉल का नक्शा पास करने में नियमों की अनदेखी की गई, जो निर्माण क्षेत्र निर्धारित था उससे 45 हजार वर्गफीट अधिक का निर्माण किया गया है. मॉल का निर्माण खाली जमीन के 50 प्रतिशत में ही होना चाहिए, लेकिन न्यूक्लियस मॉल के मालिक ने 75 फीसदी हिस्से पर निर्माण किया है.

नक्शा के अनुसार, पांचवें फ्लोर पर पारदर्शी सीट से छत बनानी थी, लेकिन कंक्रीट की छत बनाई गई है. पार्किंग के लिए भी पर्याप्त जगह नहीं छोड़ी गई है. बी-1, बी-2 और ग्राउंड फ्लोर में 128-128 वाहनों के पार्किंग की व्यवस्था करनी थी, लेकिन मॉल में 200 वाहनों के पार्क करने की ही क्षमता है. याचिकाकर्ता का आरोप है कि पार्किंग क्षेत्र का व्यावसायिक उपयोग किया जा रहा है और दुकानें चल रही हैं. एस्केलेटर बनाने में भी नियमों का पालन नहीं हुआ है. पिछले दिनों एस्केलेटर से गिरकर एक बच्चे की मौत भी हो चुकी है.

200 मीटर दायरे में स्कूल कॉलेज नहीं होने चाहिए

सिनेमेटोग्राफी एक्ट का भी उल्लंघन किया गया है. इस एक्ट के अनुसार, सिनेमा हॉल के 200 मीटर दायरे में स्कूल और कॉलेज नहीं होने चाहिए, लेकिन मॉल के बगल में ही वीमेंस कॉलेज और कई शिक्षण संस्थान हैं. याचिकाकर्ता ने आरोप लगाया है कि मॉल में कुछ सफेदपोशों और भ्रष्ट अफसरों के भी पैसे लगे हैं, जिसकी जांच होनी चाहिए.

साभार: दैनिक भाष्‍कर

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.