दिल्‍ली में महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, केजरीवाल के खिलाफ प्रदर्शन

by

New Delhi: दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लिखी चिट्ठी है, जिसमें उन्‍होंने कहा है कि पड़ोसी राज्यों से दिल्ली में पेट्रोल ₹9 लीटर महंगा बिक रहा है. वहीं डीजल ₹2 लीटर महंगा बिक रहा है.

इस एसोसिएशन ने कहा कि दिल्ली की सीमा 15 किलोमीटर तक पड़ोसी राज्यों से लगती है और इसीलिए दिल्ली वाले पड़ोसी राज्यों में जाकर पेट्रोल और डीजल खरीद रहे हैं. एसोसिएशन ने यह भी कहा कि पहले दिल्ली में पेट्रोल डीजल की कीमत कम होती थी लेकिन VAT के चक्कर में यह कीमत पिछले कुछ सालों में काफी बढ़ गई है. एसोसिएशन ने पेट्रोल और डीजल के स्मगलिंग की भी चिंता जताई है.

दिल्ली कांग्रेस का केजरीवाल के खिलाफ प्रदर्शन

पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों का मुद्दा लगातार पर गर्माता जा रहा है और इसी मुद्दे को लेकर दिल्ली कांग्रेस ने केजरीवाल सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया.

दिल्ली कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी ने केजरीवाल सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि केजरीवाल पंजाब सरकार के मॉडल पर दिल्ली में तुरंत प्रभाव से पेट्रोल पर कम से कम VAT में 10 रुपये और डीजल पर 5 रुपये कम करके दिल्ली की जनता को राहत दें, जिस तरह पंजाब की कांग्रेस सरकार ने किया है.

अनिल कुमार ने कहा कि केजरीवाल अपने आप को दिल्ली का बेटा कहते है, जिसको साबित करने का यह उनके लिए सही समय है. उन्होंने कहा कि जब-जब केजरीवाल दूसरे राज्यों में चुनावी यात्रा पर जाते है, बार-बार दिल्ली मॉडल का गुणगान करते है, अब वक्त आ गया है कि कांग्रेस के पंजाब मॉडल को दिल्ली में लागू किया जाए.

अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली की जनता पहले से ही महामारी बेरोजगारी और आर्थिक तंगी से गुजर रही है. खाद्य पदार्थों के दाम आसमान छू रहे हैं. महंगाई पर नियंत्रण करने में केजरीवाल का दिल्ली मॉडल पूरी तरह विफल रहा है.

अनिल चौधरी ने कहा कि पेट्रोल-डीजल की दरों में बढ़ोत्तरी के कारण बढ़ती महंगाई से देश सहित दिल्ली के लोग परेशान है, पिछले 7 वर्षों में केजरीवाल की दिल्ली सरकार ने डीजल और पेट्रोल पर वैट टैक्स से 25 हजार करोड़ से भी अधिक अपने खजाने में जमा कर चुकी है. अब समय आ गया है कि वे दिल्ली की जनता से वसूले गए पैसे का इस्तेमाल उन्हें पेट्रोल व डीजल पर वैट में कटौती करके दिल्ली के लोगों को राहत दें.

Categories Delhi

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.