ओरमांझी के Pundag Toll Plaza से सरकार को अब तक मिला 3 अरब 85 करोड़ से अधिक राजस्व, MEP Infrastructure पर करोड़ों बकाया

by

Ranchi: ओरमांझी के पुंदाग टोल प्‍लाजा (Pundag Toll Plaza) में हर साल टोल टैक्‍स की बढ़ोतरी की जा रही है. इससे आम वाहन मालिक त्रस्‍त हैं. सरकारी आंकड़ों में यहां से हर साल करोड़ों रुपये टोल टैक्‍स वसूली होती है. लेकिन टोल टैक्‍स वसूल करने वाली ठेका कंपनियां सरकार को वह रकम जमा नहीं कर रही हैं. इस संबंध में लोकल खबर ने खास जानकारी जुटाई है. पहली कड़ी में जानिए उन ठेका कंपनियों के बारे में जिन्‍होने सरकार के पास पुंदाग टोल प्‍लाजा से वसूली गई टोल टैक्‍स जमा नहीं किये हैंं. आगे की कड़ी में ओरमांझी के पुंदाग टोल प्‍लाजा से टोल टैक्‍स बढ़ोतरी और इसके कारणों का खुलासा करते रहेंगे.

Read Also  हड़िया-दारू निर्माण और बिक्री छोड़ अलग व्यवसाय अपना रहीं आदिवासी महिलाएं

रांची से रामगढ़-हजारीबाग होते हुए Hazaribagh-Ranchi Except Ramgarh Bypass साल 2013 से चल रहा है. 114 किलोमीटर दूरी की इस 4 लेन हाईवे के पुंदाग टोल प्‍लाजा से केंद्र सरकार को टोल टेक्स से अब तक 3 अरब 85 करोड़ 73 लाख 47 हजार 38 रुपये की राजस्व प्राप्त हो चुकी है. वहीं MEP Infrastructure pvt ltd पर करोड़ों रूपये टोल टैक्स का भुगतान सरकार को नहीं किया है.

ओरमांझी स्थित पुंदाग टोल प्लाजा से टोल टेक्स की वसूली 4 सिंतबर 2013 से ही शुरू हुई. पिछले सात सालों में यहां से हर साल टोल टैक्स वूसली में 10 गुना से अधिक वृद्धि हुई.

ओरमांझी टोल प्लाजा (Pundag Toll Plaza) से हर साल कितनी टोल टैक्स की वसूली

  • 2013 में ₹8,95,52,904.00
  • 2014 में ₹34,89,74,568.00
  • 2015 में ₹47,46,03,271.00
  • 2016 में ₹48,91,91,093.00
  • 2017 में ₹62,57,30,753.00
  • 2018 में ₹70,26,74,801.00
  • 2019 में ₹87,61,97,001.00
  • 2020 में (22.08.2020 तक)- ₹25,02,22,647.00

ओरमांझी टोल प्लाजा से टोल टैक्स वसूल करने वाली एजेंसियां

  • विरेंद्र कुमार व्यास:                                      30 सितंबर 2013 से 16 दिसंबर 2013 तक
  • M/s Konark Infrastructure Lte:                                   16 दिसंबर 2013 से 4 जनवरी 2016 तक
  • M/s West Well Iron & Steel Pvt. Ltd:                         4 जनवरी 2016 से 30 मार्च 2016 तक
  • M/s MEP Infrastructure Developers Ltd        30 मार्च 2016 से 4 अप्रैल 2017 तक
  • M/s Skylark Infra Engineering Pvt. Ltd          4 अप्रैल 2017 से 4 अप्रैल 2018 तक
  • M/s Sahakar Global Ltd                                 4 अप्रैल 2018 से 1 अगस्तर 2020 तक
Read Also  झारखंड अनलॉक 3: शॉपिंग मॉल खुलेंगे, सिनेमा-स्‍कूल बंद रहेंगे

MEP Infrastructure ने टोल टैक्स वूसल कर नहीं किया सरकार को भुगतान

ओरमांझी टोल प्लाजा (Pundag Toll Plaza) से टोल टैक्स वसूली के लिए सहाकार ग्लोबल लिमिटेड को 4 अप्रैल 2018 से 1 अगस्त 2020 तक ठेका दिया गया. इस दौरान इस कंपनी ने करोड़ों रुपये टोल टैक्स वसूली किया. वहीं कंपनी ने सरकार को अभी भी 4 करोड़ रूपये राजस्व भुगतान बाकी है. इसे कंपनी द्वारा डिपोजिट परफॉरमेंस सिक्यूरिटी से एडजस्ट करने की बात कही गई है.

वहीं MEP Infrastructure का टोल टैक्स भुगतान एनएचआई स्तर पर पेमेंट बकाया है. इस ठेका कंपनी ने ओरमांझी टोल प्लाजा से 30 मार्च 2016 से 4 अप्रैल 2017 तक टोल टैक्स वसूली किया. साल 2016 में ओरमांझी टोल प्लाजा से 48 करोड़ 91 लाख 91 हजार 93 रुपये टोल टैक्स की वसूली की गई. वहीं साल 2017 में यहां से 62 करोड़ 59 लाख 30 हजार 753 रुपये टोल टैक्स वसूली की गई.

Read Also  हेमंत सोरेन अचानक दिल्ली गए राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी

इस मामले पर आरटीआई कार्यकर्ता ‍ दीपेश कुमार निराला ने कहना है कि ओरमांझी टोल प्लाजा में हर साल टोल टैक्स बढ़ाया जा रहा है. इससे वाहन मालिक त्रस्त‍ हैं. यहां टोल टैक्स  क्यों बढ़ाई जा रही है. इस संबंध में मैने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण से सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत जानकारी मांगी है. इसके तहत टोल टैक्स  बढ़ोतरी के नियम, टोल टैक्स वूसली करने वाली ठेका कंपनियों की जानकारी पूछी गई है.

ओरमांझी टोल टैक्स (Pundag Toll Plaza) से जुड़ी और भी खबरें आगे जारी रहेंगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.