13 महीने से वेतन नहीं मिला, हड़ताल पर जा सकते हैं 70 हजार पुलिसकर्मी

by

#Ranchi : झारखंड पुलिस एसोसिएशन और पुलिस मेंस एसोसिएशन ने मंगलवार को संयुक्त रूप से राज्य सरकार के खिलाफ आंदोलन करने की घोषणा की है. पुलिस एसोसिएशन के अध्यक्ष योगेन्द्र सिंह ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पहले चरण में 30, 31 जुलाई और एक अगस्त को राज्य के 70 हजार पुलिसकर्मी काले बिल्ले लगाकर काम करेंगे. इसके बाद 17 अगस्त को सभी जिलों के पुलिसकर्मी अपने-अपने पुलिस अघीक्षक कार्यालय के समक्ष उपवास पर बैठेंगे, जबकि उनकी केंद्रीय टीम झारखंड पुलिस मुख्यालय के सामने उपवास पर बैठेगी.

बाद में सितम्बर माह में 05 दिनों की हड़ताल की जायेगी. हड़ताल की तारीख बाद में घोषित की जायेगी. झारखंड पुलिस एसोसिएशन के महामंत्री अक्षय राम ने कहा कि अगर राज्य सरकार उनकी मांगों को मान लेती है तो अांदोलन के निर्णय को स्थगित कर देंगे.

Read Also  Modi 2.0: 7 राज्यों की विधानसभा चुनाव के पहले कैबिनेट में बड़े बदलाव की तैयारी

झारखंड पुलिस एसोसिएशन और मेंस एसोसिएशन ने राज्य सरकार के सिपाही से सीधे एसआई की भर्ती रद्द करने की मांग की है. एसोसिएशन का मानना कि सिपाही को सीधे दारोगा बना दिया जायेगा, तो कई लोगों का प्रमोशन बाधित हो जायेगा.

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने एक कार्यक्रम के दौरान घोषणा की थी कि राज्य के पुलिसकर्मियों को 13 माह का वेतन दिया जायेगा लेकिन मुख्यमंत्री की घोषणा के दो साल बीत जाने के बाद भी अभी तक यह व्यवस्था सरकार की तरफ से लागू नहीं की गयी है.

एसोसिएशन ने कहा कि शहीद होने या फिर किसी घटना में अपनी जान गंवा चुके पुलिसकर्मियों के परिजनों को जब नौकरी दी जाती है, तो उनसे न्यूनतम योग्यता मैट्रिक पास मांगी जाती है लेकिन कई मामलों में ऐसा नहीं हो पाता है.इसलिए इस मामले में उम्र सीमा खत्म की जाये.

Read Also  #InternationalDayOfYoga : कोरोना संक्रमण के बीच योग के लिए उत्‍साह

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.