MP Election 2018: भिंड में पुलिस ने दबंग उम्मीदवारों को किया नजरबंद

by

New Delhi: मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावों की वोटिंग सुबह 8 बजे से शुरू हो गई है. इसी बीच सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम करने में लगे पुलिस-प्रशासन ने राज्य के भिंड जिले में तीन विधानसभाओं के दबंग उम्मीदवारों को नजरबंद कर दिया है. किसी तरह के अप्रिय हालात पैदा न हों, इसलिए यह कदम उठाया गया है.

पुलिस ने प्रत्याशियों पर शिकंजा करते हुए उन्हें सरकारी गेस्ट हाउस में रखा है. अटेर से बीजेपी प्रत्याशी अरविंद भदौरिया और कांग्रेस उम्मीदवार हेमंत कटारे को किया सर्किट हाउस में नजरबंद किया गया है. वहीं, लहार से कांग्रेस के डॉ. गोविंद सिंह और बीजेपी के रसाल सिंह को लहार रेस्ट हाउस में नजरबंद कर बैठा दिया गया है.

उधर, भिंड विधानसभा के बीजेपी प्रत्याशी चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी और समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार नरेंद्र सिंह कुशवाह को भी भिंड सर्किट हाउस पर पुलिस-प्रशासन ने नजरबंद किया है.

मोबाइल पर ले रहे अपडेट

चंबल इलाके के भिंड जिले की अटेर, भिंड और लहार विधानसभाओं के उम्मीदवार नजरबंदी के दौरान अपने-अपने क्षेत्रों के कार्यकताओं से हर पल की अपडेट ले रहे हैं. चुनाव खत्म होने के बाद ही उन्हें यहां से छोड़ा जाएगा.

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

आधिकारिक जानकारी के अनुसार, चुनाव में कानून व्यवस्था और शांतिपूर्ण मतदान के उद्देश्य से केंद्रीय सुरक्षाबलों की 650 कंपनियां तैनात की गई हैं. इसके साथ ही प्रदेश के बाहर से आए 33 हजार होमगार्ड भी निर्वाचन ड्यूटी में तैनात किए गए हैं. राज्य के संवेदनशील जिलों में सुरक्षा बल की ज्यादा कंपनियां तैनात की गई हैं. बालाघाट जिले में केंद्रीय सुरक्षाबलों की 76 कंपनियां, भिंड में 24, छिदवाड़ा और मुरैना में 19-19, सागर और भोपाल में 18-18 कंपनियां तैनात की गई हैं. प्रदेश के 85 प्रतिशत पुलिस बल और होमगार्ड के 90 प्रतिशत बल चुनाव कार्य में तैनात किए गए हैं.

सुरक्षा व्यवस्था के लिये बालाघाट, मंडला और भोपाल में एक-एक हेलीकप्टर तैनात रहेंगे. संचार व्यवस्था बेहतर करने के लिए 20 सेटेलाइट फोन एवं 28 हजार वायरलेस सेट चुनाव में उपयोग किए जा रहे हैं. भारतीय निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार, संवेदनशील मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग एवं सीसीटीवी की व्यवस्था की गई है. वेबकास्टिंग के माध्यम से 6,655 मतदान केंद्रों पर लाइव प्रसारण और 6,400 मतदान केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरा से विशेष निगरानी की व्यवस्था की गई है. इस कार्य के लिए प्रत्येक मतदान केंद्र पर एक अतिरिक्त व्यक्ति भी नियुक्त किया गया है. बता दें कि पूरे राज्य में कुल 65,341 मतदान केंद्र हैं जिनमें से शहरी क्षेत्र में 17,036 जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में 48,305 मतदान केंद्र हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.