MP Board 12th Result 2020: एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्‍ट आज, mpbse.nic.in पर Online Check करने से पहले जान लें जरूरी बात

by

News Highlights

MP Board 12th Result 2020: मध्य प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (एमपीबीएसई) की ओर से 12वीं के रिजल्ट की राह देख रहे 8 लाख से ज्यादा छात्र-छात्राओं का इंतजार आज समाप्त होने वाला है.

मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) आज नतीजों की घोषणा करने जा रहा है. बोर्ड द्वारा राज्य में स्थित और राज्य बोर्ड से सम्बद्ध विद्यालयों में कक्षा हायर सेकेण्डरी (12वीं) कक्षा की बोर्ड परीक्षा के नतीजों की घोषणा आज किये जाने की जानकारी बोर्ड द्वारा पिछले सप्ताह दी गयी थी.

MP Board 12th Result 2020 का डेट और टाइम

एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020 को लेकर प्राप्त जानकारी के अनुसार सेकेण्डरी और हायर सेकेण्डरी कक्षाओं के परिणामों की घोषणा दोपहर 3.30 बजे तक की जा सकती है. मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा 12वीं के नतीजों जारी किये जाने को लेकर दी गयी आधिकारिक जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट, mpbse.nic.in या mpresults.nic.in पर की जाएगी. 

एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020: कहां करें चेक (MP Board 12th Result 2020: Where to Check)

मध्य प्रदेश बोर्ड द्वारा एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020 चेक करने के लिए छात्रों को बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट, mpbse.nic.in पर विजिट करना होगा. एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट अतिरिक्त mpresults.nic.in पर की जाएगी. इससे पहले भी मध्य प्रदेश बोर्ड कक्षा 10 रिजल्ट 2020 घोषणा बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट पर ही की गयी थी, इसलिए छात्रों अपने एमपीबीएसई 12वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा से सम्बन्धित किसी भी प्रकार के अपडेट के लिए बोर्ड की ऑफिशियल पर समय-समय पर विजिट करते रहना चाहिए.

हालांकि, छात्र अपने परिणामों की घोषणा से सम्बन्धित लेटेस्ट अपडेट के लिए इस पेज पर भी विजिट कर सकते हैं.

एमपी बोर्ड कक्षा 12वीं रिजल्ट 2020: ऐसे करें चेक (MP Board Class 12th Result 2020: Steps to Check)

  • मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) द्वारा एमपी बोर्ड कक्षा 12वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा ऑफिशियल वेबसाइट, mpbse.nic.in पर की जाएगी.
  • छात्रों को अपना एमपीबीएसई 12वीं रिजल्ट 2020 चेक करने के लिए बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करने के बाद होम पेज पर दिये गये रिजल्ट के लिंक पर क्लिक करके रिजल्ट पेज पर जा सकते हैं.
  • रिजल्ट पेज पर जाने के बाद छात्रों को अपने सम्बन्धित परीक्षा के लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद सम्बन्धित कक्षा के लिए नतीजों को पेज ओपेन होगा.
  • इस पेज पर छात्रों को अपना रोल नंबर और अप्लीकेशन नंबर भरकर सबमिट करना होगा. सबमिट करते ही परीक्षार्थी अपना मध्य प्रदेश कक्षा 12 रिजल्ट 2020 देख पाएंगे.
  • साथ ही, वे अपना स्कोर कार्ड भी देख पाएंगे जिसके दिये गये प्रिंट के ऑप्शन से हार्ड कॉपी ले पाएंगे.

एमपी बोर्ड रिजल्ट 2020 चेक करते समय रखें इन बातों का ध्यान (Point To Be Remembered While Checking MP Board Result 2020)

छात्रों को अपना एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020 चेक करते समय कई बातों का ध्यान रखना चाहिए. ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करने के बाद छात्र यदि अपने सम्बन्धित कक्षा के लिंक पर क्लिक नहीं करते हैं तो रोल नंबर और अप्लीकेशन नंबर भरकर सबमिट करने के बाद रिजल्ट दिखाई नहीं देगा, ऐसे में छात्र निराश हो सकते हैं. इससे बचने के लिए छात्रों को एंमपी बोर्ड रिजल्ट 2020 के पेज पर अपने सम्बन्धित परीक्षा के रिजल्ट के लिंक पर ही क्लिक करना चाहिए.

इसके अतिरिक्त एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020 चेक करने के पूर्व अपना एडमिट कार्ड तैयार रख लेना चाहिए. कई बार छात्र अपने डिटेल को मेमोरी के आधार पर भरने का प्रयास करते हैं, ऐसे में परिणाम के न दिखने की संभावना बढ़ जाती है. इसलिए छात्रों को अपना रोल नंबर और अप्लीकेशन नंबर या तो अच्छे याद कर लेना चाहिए या अपना एडमिट कार्ड साथ में रखना चाहिए ताकि वे रिजल्ट एक ही प्रयास में देख पाएं.

एमपीबीएसई रिजल्ट 2020 परिणामों की तिथि (MPBSE Result 2020: Date of Declaration)

मध्य प्रदेश बोर्ड द्वारा कक्षा 10 और कक्षा 12 की इस वर्ष की बोर्ड परीक्षाओं के परिणामों की घोषणा की तिथि के बारे में बोर्ड द्वारा जानकारी उपलब्ध करा दी गयी है. इसके अनुसार एमपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा 4 जुलाई 2020 को की गयी थी जबकि 12वीं के नतीजे आज दोपहर में घोषित किये जाएंगे.

एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं रिजल्ट 2020 की संक्षिप्त जानकारी (MP Board Result 2020 Brief Details)

एमपी बोर्ड 10वीं, 12वीं रिजल्ट 2020 का इंतजार कर रहे छात्रों को ध्यान देना चाहिए कि परिणामों की घोषणा बोर्ड द्वारा तिथि जारी किये जाने के बाद की जाएगी. एमपी बोर्ड रिजल्ट 2020 जारी किये जाने पर छात्र जान पाएंगे कि वे परीक्षा की उनकी पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के आधार पर उन्हें उत्तीर्ण घोषित किया गया है कि नहीं. यदि उत्तीर्ण घोषित किया गया है तो किस श्रेणी में, प्रथम, द्वितीय या तृतीय.

साथ ही, छात्र एमपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट 2020 या एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020 के माध्यम से जान पाएंगे कि उन्हें प्रत्येक विषय या पेपर में कितने प्राप्तांक मिले हैं. प्राप्तांकों के आधार पर छात्र जान पाएंगे कि उन्हें किस विषय में हॉनर्स या डिस्टिंक्शन या डिविजन के अनुसार अंक प्राप्त हुए हैं. विभिन्न विषयों के लिए प्राप्तांकों के आधार पर छात्र यदि किसी विषय में अंसतुष्ट होते हैं या उन्हें लगता है कि उन्हें अमुक विषय में अधिक अंक मिलने चाहिए थे, तो इन परिस्थितियों में वे अपनी उत्तर पुस्तिकाओं की फिर से जांच यानि स्क्रूटिनी के लिए आवेदन कर पाएंगे.

एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं रिजल्ट 2020: क्या कहते हैं पिछले साल के आकड़े (MP Board 10th & 12th Result 2020: Last Year’s Statistics)

पिछल वर्ष की बात करें तो एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा 15 मई को की गयी थी और 19 लाख से अधिक छात्रों के नतीजे घोषित किये गये थे. पिछले वर्ष मध्य प्रदेश बोर्ड ने एमपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट 2020 और एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा एक ही दिन की गयी थी.

पिछले वर्ष की सकेण्डरी कक्षा की परीक्षा में 11 लाख से अधिक छात्र सम्मिलित हुए थे और 61.32 फीसदी परीक्षार्थियों को सफल घोषित किया गया था. कुल उत्तीर्ण घोषित छात्रों में से 59.15 फीसदी छात्र और 63.69 फीसदी छात्राएं सफल हुईं थीं. वहीं, अगर हायर सेकेण्डरी कक्षाओं की बात करें तो 7.32 लाख परीक्षार्थी 12वीं की परीक्षाओं में सम्मिलित हुए थे और पास होने वाली अभ्यर्थियों का प्रतिशत 37 फीसदी रहा. कुल उत्तीर्ण घोषित परीक्षार्थियों में से छात्राएं आगे रहीं थी और इनका उत्तीर्ण प्रतिशत 76.31 फीसदी रहा. छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशित 68.94 फीसदी रहा था.

एमपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट 2020: जानें पिछले साल का हाल (MP Board 10th Result 2020: Last Year’s Analysis)

एमपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा का इंतजार कर रहे छात्रों को ध्यान देना चाहिए पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष एमपीबीएसई 10वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा में देरी हुई है, जहां पिछले वर्ष परिणाम 15 मई को घोषित कर दिये गये गये थे, वहीं इस वर्ष परिणामों की घोषणा जुलाई 2020 के प्रथम सप्ताह में जारी किये जाने की उम्मीद जताई जा रही है.

पिछले वर्ष मध्य प्रदेश बोर्ड की परीक्षा में लड़कियां लड़कों से आगे रहीं थीं. जहां 59.15 फीसदी छात्र उत्तीर्ण हुए थे तो वहीं 63.69 फीसदी छात्राएं पास हुईं थीं. पिछले वर्ष की परीक्षाओं में 10वीं (नियमित) कक्षा की बोर्ड परीक्षा में 335738 छात्र प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुए थे जबकि 192083 परीक्षार्थी द्वीतीय श्रेणी और 2451 छात्र तृतीय श्रेणी पास हुए थे.

वहीं, मध्य प्रदेश 10वीं सप्लीमेंट्री परिणामों में 103230 छात्र उत्तीर्ण हुए थे और 231251 छात्रों को अनुत्तीर्ण घोषित किया गया था. साथ ही, हाई स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा (स्वाध्यायी) में उत्तीर्ण छात्रों का प्रतिशत 18.89 फीसदी था.

एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020: जानें पिछले साल का हाल (MP Board 12th Result 2020: Last Year’s Analysis)

बात करें अगर पिछले साल के एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट की तो पिछले वर्ष की हायर सेकण्डरी स्कूल सर्टिफिकेट मुख्य परीक्षा (10+2) में नियमित कक्षा की परीक्षाओं के लिए कुल 589109 छात्रों ने पंजीकरण कराया था और इनमें से 585759 छात्र सम्मिलित हुए थे.

इनमें से 584664 छात्रों के परिणामों की घोषणा की गयी और कुल 423155 छात्रों को सफल घोषित किया गया था. कुछ सफल परीक्षार्थियों की सफलता का प्रतिशत 72.37 था. इनमें से छात्राएं अधिक सफल रहीं थीं, जिनका उत्तीर्ण प्रतिशत 76.31 था और छात्रों का प्रतिशत 68.94 रहा था. इससे अलग स्वाध्यायी छात्रों की सफलता का प्रतिशत देखें तो 10वीं की तुलना में 12वीं स्वाध्यायी छात्रों की सफलता का प्रतिशत 30.90 रहा था.

ध्यान देने वाली बात यह है कि स्वाध्यायी परीक्षार्थियों में भी छात्राएं आगे रहीं थी. जहां उत्तीर्ण घोषित कुल परीक्षार्थियों में से 33.32 फीसदी छात्राएं थीं तो वहीं 29.42 प्रतिशित छात्र थे. हालांकि, स्वाध्यायी परीक्षार्थियों में प्रथम श्रेणी में सिर्फ 7644 अभ्यर्थी उत्तीर्ण हुए तो द्वीतीय श्रेणी में 22922 परीक्षार्थी सफल हुए थे.

एमपी बोर्ड रिजल्ट 2020 चेक करने के बाद क्या? (After Checking MPBSE Board Result 2020)

एमपी बोर्ड रिजल्ट 2020 चेक कर लेने के बाद सबसे पहले छात्रों को अपने स्कोर कार्ड या मार्कशीट को प्रिंट कर लेना चाहिए. यदि रिजल्ट की घोषणा के साथ ही डिजिटल मार्कशीट भी उपलब्ध करायी जाती है तो छात्रों को अपनी मार्कशीट निर्धारित प्रक्रिया के अनुसार प्रिंट कर लेनी चाहिए और मार्कशीट की सॉफ्ट कॉपी को भी सेव कर लेना चाहिए.

यदि परिणामों में किसी भी प्रकार की त्रुटि दिखती है या आपके विवरणों (स्पेलिंग, आदि) में कोई गलती मिलती है तो जल्द से बोर्ड से सम्पर्क करना चाहिए. आमतौर पर बोर्ड द्वारा इस प्रकार की स्थितियों के लिए हेल्पलाइन जारी किया जाता है.

वहीं, यदि परीक्षार्थी अपना प्राप्तांकों से असंतुष्ट होते हैं तो उनके पास विकल्प होता है कि वे अपना उत्तर पुस्तिकाओं की फिर से जांच के लिए आवेदन कर पाएं. कॉपियों की फिर से जांच के लिए बोर्ड द्वारा परिणामों की घोषणा के बाद ऑफिशियल वेबसाइट पर अप्लीकेशन फॉर्म उपलब्ध कराया जाता है.

जानें मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल के बारे में (About M.P. Board of Secondary Education)

मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल यानि एमपी बोर्ड की स्थापना वर्ष 1965 में मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा अधिनियम, 1965 के तहत की गयी थी. एमपी बोर्ड यानि एमपीबीएसई मध्य प्रदेश राज्य में विद्यालयी शिक्षा की देख-रेख के साथ-साथ नियमन और बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन करता है. बोर्ड द्वारा प्रत्येक वर्ष फरवरी और मार्च के माह में सेकण्डरी और हायर सेकण्डरी कक्षाओं के लिए बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन किया जाता है. इन परीक्षाओं में लाखों छात्र सम्मिलित होते हैं. परीक्षाओं के आयोजन के बाद बोर्ड द्वारा नतीजों की घोषणा मई में की जाती है लेकिन इस वर्ष कोविड-19 महामारी के चलते न सिर्फ परीक्षाओं के आयोजन में बाधा आई बल्कि परिणामों की घोषणा में भी देरी हुई है. मध्य प्रदेश बोर्ड मुख्यालय शिवाजी नगर, भोपाल में स्थित है और इसके मुख्य अधिकारियों में चेयरमैन, सचिव, अतिरिक्त सचिव, उप-सचिव, आदि शामिल हैं. वहीं, परीक्षाओं से जुड़े कार्यों की देखरेख एग्जाम कंट्रोलर द्वारा की जाती है.

10वीं/12वीं रिजल्ट्स के बाद क्या करें? (What to do After the 10th/12th Results?)

एमपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट 2020 और एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा के बाद छात्रों को चाहिए कि यदि वे अपना मार्क्स से असंतुष्ट हैं तो वे अपनी कॉपियों की फिर से जांच के लिए आवेदन करें या इंप्रूवमेंट के लिए फॉर्म भरें. अंतिम परिणामों प्राप्त होने के बाद जहां 10वीं के छात्रों को अपने अंकों और रूचि के अनुसार अगली कक्षा 11वीं के लिए स्ट्रीम का चुनाव करते हुए दाखिला लेना होता है, वहीं 12वीं के छात्रों को भी अपने अंकों और रूचि के अनुसार उच्च शिक्षा के पाठ्यक्रमों और कॉलेज का चुनाव करते हुए प्रवेश से सम्बन्धित फॉर्म भरने होते हैं.

यदि पहले से फॉर्म भर चुके हैं तो उनके प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी में जुट जाना चाहिए। इन सब से अलग, यदि आप एमपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट 2020 या एमपी बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2020 में अनुत्तीर्ण घोषित किये जाते हैं तो ऐसे में आपको निराश नहीं होना चाहिए. अपनी कमजोरियों का विश्लेषण करते हुए अपनी तैयारियों को और भी बेहतर बनाते हुए फिर से प्रयास करना चाहिए ताकि आपका एमपीबीएसई 10वीं रिजल्ट या एमपीबीएसई 10वीं रिजल्ट अगली बार बेहतर हो पाए.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.