रॉयल एनफील्ड की 5 एपिक राइड्स: हर एडवेंचर राइडर का सपना

by


21 जून को विश्व मोटरसाइकिल दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिन मोटरसाइकलिंग की भावना को समर्पित है, जिसका जश्न इसके शौकीन अपनी सुकून भरी राइड के साथ मनाते हैं। लेकिन मोटरसाइकलिंग सिर्फ राइडिंग करने तक ही सीमित नहीं है, यह इससे कहीं गुना अधिक है। यह बहुत मायने रखता है कि आपके पास किस तरह की मोटरसाइकिल है या उसका उपयोग क्या है। यह उस संबंध के बारे में है, जिसे आप अपनी मोटरसाइकिल के साथ साझा करते हैं। प्रतिष्ठित मोटरसाइकिल ब्रांड और लीज़र मोटरसाइकलिंग स्पेस में अग्रणी, रॉयल एनफील्ड हमेशा से ही अपनी शानदार राइड्स और मोटरसाइकिल के अनुभवों के माध्यम से, राडर्स को खूबसूरत दुनिया की सैर कराने और और खुद से मिलाने के लिए प्रतिबद्ध है। राइडर्स को ‘राइड मोर’ के लिए लगातार प्रोत्साहित करते हुए ब्रांड ने ‘प्योर मोटरसाइकलिंग अनुभव’ की अद्भुत खोज का हिस्सा बनने के लिए कम्युनिटी को एक सूत्र में बाँधा है।


यहाँ रॉयल एनफील्ड की कुछ शानदार राइड्स दी गई हैं, जिन्होंने राइडर्स और राइडिंग के प्रति उत्साही लोगों के लिए मोटरसाइकलिंग अनुभवों के नए दरवाज़े खोले हैं।
ऐसा माना जाता है कि जुलाई हिमालय की सवारी करने का सबसे सटीक मौसम है और रॉयल एनफील्ड की मार्की सवारी का भी सही समय है। हिमालयन ओडिसी, जो लद्दाख के भीषण पहाड़ी इलाकों की पहली राइड्स में से एक है, की शुरुआत 1999 में हुई थी। इस वर्ष के लद्दाख सर्किट की अग्रणी राइड, हिमालयन ओडिसी, अपने 18वें संस्करण के साथ 3 वर्ष बाद फिर वापस आ गई है और राइडर्स को दुनिया की नई सबसे ऊँची मोटरेबल रोड, उमलिंग ला की सैर कराने के लिए प्रतिबद्ध है। यह राइडर्स को 17 दिनों की एडवेंचर राइडिंग के दौरान हिमालय के परिदृश्य को फिर से देखने का अवसर प्रदान करती है, जिनमें कुछ सबसे चुनौतीपूर्ण इलाकों, वॉटर क्रॉसिंग और अज्ञात सड़कों की राइडिंग शामिल है, जो बिल्कुल नए अनुभव से राइडर्स को रूबरू कराएगी। इस वर्ष हिमालयन ओडिसी एक टिकाऊ मोटरसाइकिल यात्रा की धारणा को प्रचारित करने के उद्देश्य से ‘एकल-उपयोग-प्लास्टिक-सवारी’ पर ध्यान केंद्रित करेगा।

प्राकृतिक हिमालयी मार्गों का पता लगाने के लिए अपनी खोज को जारी रखते हुए, रॉयल एनफील्ड ने इस वर्ष की शुरुआत में हिमालयन एडवेंचर मस्टैंग 2022 को होस्ट किया है। इसमें नेपाल के ऊँचे पहाड़ों की राइडिंग शामिल है, जहाँ पर्यटकों का आना-जाना नहीं होता है। दुनिया के कुछ सबसे ऊँचे पहाड़ों से आच्छादित, अन्नपूर्णा और धौलागिरी की 8000 मीटर की चोटियाँ, चीन की सीमा और तिब्बती पठार, मस्टैंग का प्राचीन ‘निषिद्ध साम्राज्य’ है। राइडर्स ने पोखरा से शुरू होकर लो मंथांग तक एक कठिन यात्रा की। काली गंडकी कण्ठ (दुनिया की सबसे गहरी घाटी) के साथ सवारी करते हुए, राइडर्स ने सदियों पुराने मठों के लिए पहचाने जाने वाले घामी और ज़ारंग के रमणीय गाँवों से गुजरते हुए लो की खड़ी चढ़ाई से पहले कागबेनी को पार किया।

हिमालयी मार्ग रॉयल एनफील्ड का आध्यात्मिक घर है, और हिमालय में सुंदर और छिपे हुए स्थानों का पता लगाने के लिए, रॉयल एनफील्ड ने हिमालयन एडवेंचर- रोंगबुक को भी होस्ट किया है। यह राइड नेपाल और तिब्बत के ऊँचे पहाड़ों पर सवारी करने का मौका देती है, जहाँ पर्यटकों की आवाजाही बहुत कम होती है। अपने पिछले संस्करण में, रॉयल एनफील्ड ने हिमालय क्षेत्र, तिब्बत स्थित दुनिया की आठ हजार मीटर चोटियों में से तीन, माउंट एवरेस्ट, शीशपंगमा और चो ओयू की यात्रा संपन्न कराई थी। रोंगबुक की सवारी का मुख्य आकर्षण शीशपंगमा है, और चो ओयू बेस कैंप की यात्रा समान रूप से आश्चर्यजनक है।

एक शैली के रूप में मोटरसाइकलिंग का फोटोग्राफी के साथ एक मजबूत तालमेल है, और इस प्रकार राइड पर जाने के दौरान मोटरसाइकिल के साथ ही एस्ट्रल फोटोग्राफी के लिए विशेष जुनून रखने वाले राइडर्स के लिए, ब्रांड ने विशेष रूप से एस्ट्रल राइड को क्यूरेट किया है, जो कि रॉयल एनफील्ड द्वारा एक पूर्ण मास्टरस्ट्रोक और राइड के रोमांच के साथ फोटोग्राफी की खुशियों का सम्मिश्रण है। रॉयल एनफील्ड ने इस राइड की होस्टिंग कच्छ के रण में प्राचीन टीलों और चांगथांग के खूबसूरत पठार में की है, और इस वर्ष ब्रांड की योजना अद्भुत स्पीति घाटी में एस्ट्रल फोटोग्राफी का पता लगाने की है, जिससे मोटरसाइकिल और फोटोग्राफी में नए क्षितिज खुलेंगे।












हिमालयन एडवेंचर- ज़ांस्कर, एक ऐसी राइड है, जो विशेष रूप से रॉयल एनफील्ड मालिकों के लिए डिज़ाइन की गई है, जो पहले हिमालय की सवारी कर चुके हैं, लेकिन अब और अधिक रोमांच की तलाश कर रहे हैं। यह राइड मोटरसाइकिल के अधिक शुद्ध रूप का अनुभव प्रदान करती है, जहाँ ऑफ-रोड राइडिंग, चुनौतीपूर्ण इलाके, वॉटर क्रॉसिंग और मोटरेबल सड़कों का विशेष अनुभव प्राप्त होगा। यह बाहरी दुनिया से अप्रभावित, ज़ांस्कर घाटी के माध्यम से नई अज्ञात सड़कों के माध्यम से राइड करने का एक शानदार अवसर प्रदान करती है। 7,000 मीटर ज़ांस्कर की चोटियों और 3,600 मीटर की ऊँचाई के साथ ग्रेट हिमालयन रेंज के शानदार पहाड़ों के आश्रय, प्राचीन तिब्बती बौद्ध संस्कृति के वास्तविक अंतिम गढ़ों में से एक है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.