बिल्ली की पोट्टी से बनती है दुनिया की सबसे महंगी कॉफी

by

New Delhi: क्‍या आप जानते हैं दुनिया की सबसे महंगी कॉफी बिल्‍ली की पोट्टी से बनती है. यकीन नहीं करेंगे पर ये सच है कि दुनिया की सबसे महंगी कॉपी बगान में नहीं उगाई जाती है, बल्कि इसका उत्‍पादन बिल्‍ली की पोट्टी से होता है और अब भारत में भी इस महंगी कॉफी का प्रोडक्‍शन शुरू हो गया है.

भले ही दुनिया की सबसे महंगी कॉफी बिल्‍ली की पोट्टी से बनती है, लेकिन आप कॉफी पीने के शौकीन हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है. दुनिया की सबसे महंगी कॉफी ‘सिवेट’ का उत्पादन भारत में शुरू हो गया है. कर्नाटक के कुर्ग जिले में इसका उत्पादन हो रहा है.

कैसे बनती है दुनिया की सबसे महंगी कॉफी

खास बात यह है कि सिवेट बिल्ली के मल (पूप) से बनती है. भारत एशिया में कॉफी का तीसरा सबसे बड़ा उत्पादक और निर्यातक देश है.

Kopi Luwak price in India: 20-25 हजार रुपये किलो है कीमत. वैश्विक बाज़ार में सिवेट काफी की कीमत 20-25 हजार रुपये किलो है. ये कॉफी उन बीन्स से बनती है जो कि सीवेट कैट्स पचा नहीं पाती है. ये बीज उसके मल से चुन लिए जाते हैं. इसके बाद उसे धोकर भूना जाता है. सिवेट कॉफी को लुवर्क काफी भी कहते हैं. कॉफी के पकने के चरण में सिवेट बिल्ली कॉफी की चेरी को खाती है जिसका गूदा वह पचा लेती है लेकिन गूदे के अंदर के बीच को वह पचा नहीं पाती है. यह बीन मल त्याग के समय साबूत निकल जाता है.

अमीरों की पंसद है यह कॉफी माना जाता है कि इस कॉफी में बड़ी मात्रा में पोषक तत्व पाये जाते हैं. इसके लिए बीन्स को प्राप्त करने के लिए काफी खर्च करना होता है. सिवेट कॉफी को खाड़ी देशों, अमेरिका और यूरोप में अमीर लोग पीते हैं.

कर्नाटक में बनती है दुनिया की सबसे महंगी कॉफी

भारत के सबसे बड़े कॉफी उत्पादक राज्य कर्नाटक में कूर्ग कॉन्सोलिटेड कमोडिटीज (सीसीसी ) ने छोटे पैमाने पर सिवेट का उत्पादन किया जाता है. सीसीसी के संस्थापकों में से एक नरेन्द्र हेबर का कहना है कि शुरुआत में हम सिवेट कॉफी का उत्पादन छोटे पैमाने पर कर रहे हैं. 2015-16 में भारत में इसका 60 किलोग्राम उत्पादन हुआ है. 2016-17 में 200 किलोग्राम उत्पादन हुआ था.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.