पाक मीडिया का दावा पीएम मोदी ने नवाज शरीफ को लिखा निजी पत्र

by

New Delhi: पाकिस्तानी मीडिया ने दावा किया है कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री और पीएमएल-एन के सुप्रीमो नवाज शरीफ को लेटर लिखा है. इस खत में पीएम मोदी ने नवाज शरीफ की अम्‍मी के निधन पर संवेदना व्यक्त की है.

डॉन न्यूज के मुताबिक, पिछले सप्ताह भारतीय दूतावास की तरफ से यह खत पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष और नवाज की बेटी मरियम नवाज को सौंपा गया और गुजारिश की गई कि पिता नवाज शरीफ तक संदेश पहुंचा दें, जो पिछले साल से लंदन में रह रहे हैं.

Read Also  हेमंत सोरेन अचानक दिल्ली गए राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी

नवाज शरीफ को लिखे मोदी की चिट्ठी में लिखा क्‍या है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले महीने पीएमएल-एन प्रमुख नवाज शरीफ को एक निजी पत्र लिखकर उनकी मां के निधन पर दुख व्यक्त किया. यह पत्र 27 नवंबर को लिखा गया था जिसे पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) द्वारा बृहस्पतिवार को जारी किया गया. पत्र में प्रधानमंत्री मोदी ने 22 नवंबर को हुए शरीफ की मां के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया.

समाचार पत्र डॉन ने बृहस्पतिवार को बताया कि यह पत्र पिछले सप्ताह इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग द्वारा शरीफ की बेटी और पीएमएल-एन उपाध्यक्ष मरियम नवाज को भेजा गया तथा उनसे आग्रह किया गया कि वह इस बारे में लंदन में रह रहे अपने पिता को अवगत करा दें.

Read Also  झारखंड अनलॉक 3: शॉपिंग मॉल खुलेंगे, सिनेमा-स्‍कूल बंद रहेंगे

नरेंद्र मोदी ने पत्र में लिखा, प्रिय मियां साहिब, 22 नवंबर को लंदन में आपकी मां बेगम शमीम अख्तर के निधन के बारे में जानकर मुझे गहरा दुख हुआ है. मैं दुख की इस घड़ी में संवेदना व्यक्त करता हूं. 

पीएम मोदी और नवाज शरीफ

प्रधानमंत्री ने 2015 में लाहौर की अपनी संक्षिप्त औचक यात्रा के दौरान शरीफ की मां के साथ अपनी बातचीत को याद करते हुए कहा, उनकी सादगी और गर्मजोशी वास्तव में बहुत ही हृदयस्पर्शी थी. उन्होंने कहा, दुख की इस घड़ी में, मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि वह आपको और आपके परिवार को इस अपूरणीय क्षति को सहन करने की शक्ति प्रदान करें.

गौरतलब है कि दिसंबर 2015 में पीएम मोदी काबुल से लौटते हुए अचानक लाहौर पहुंचे थे. यहां नवाज शरीफ ने उनका स्वागत किया और यहां से दोनों नेता एक चॉपर के जरिए राइविंड पहुंचे थे. मोदी यहां नवाज शरीफ की पोती की शादी समारोह में कुछ देर के लिए शामिल हुए थे.

Read Also  1 से 5 करोड़ तक की योजना के अप्रूवल का अधिकार सचिवों से छीनकर मंत्रियों को मिलेगा

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.