श्रीराम जन्मोत्सव समारोह पर भारी पड़ रहा कोरोना का साया, दुर्गा मंदिरों से भीड़ गायब

by

Begusarai: वैश्विक महामारी नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण कहर ने मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम जन्मोत्सव, श्रीराम दरबार की सामूहिक पूजा और चैती दुर्गा पूजा पर भी संकट के बादल ला दिए हैं. तमाम जगह होने वाले सामूहिक रामनवमी ध्वजारोहण कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें: तब्लीगी मरकज के मौलाना ने पुलिस को पत्र लिखकर मांगे थे वाहन पास

जिला भर में 25 से अधिक जगहों पर लगने वाले चैती दुर्गा मेला पर स्वत: रोक लग गई है. राम जन्मोत्सव के मौके पर होने वाला ध्वजारोहण तो होगा, लेकिन सामूहिक रूप से नहीं होगा और कोई सामूहिक कार्यक्रम नहीं होंगे. विभिन्न मंदिर, ठाकुरवाड़ी एवं घरों में शांतिपूर्वक ध्वजारोहण किया जाएगा तथा अधिक भीड़ नहीं हो इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा.

Read Also  किसानों के राहत के लिए बिहार में बनेगा ‘मंकी हाउस’

इसी तरह धबौली, खम्हार समेत तमाम जगहों पर लगने वाले चैती दुर्गा एवं राम दरबार पूजा स्थल पर मेला नहीं लगाया गया है, भगवती दुर्गा एवं राम दरबार की सिर्फ पूजा-अर्चना हो रही है. मंगलवार की रात ही निशा पूजा और जागरण के बाद भक्तों के दर्शन के लिए मंदिर के पट खोल दिए गए हैं तथा पूजा अर्चना हो रही है, लेकिन भीड़ नहीं लगाया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें: पीएम केयर्स फंड में अनुदान पर सौ फीसदी टैक्‍स की छूट, अध्यदेश जारी

देश को कोरोना के कहर से बचाने की गुहार

संक्रमण से बचने के लिए लोग खुद ही नहीं निकल रहे हैं. जो लोग सोशल डिस्टेंस बनाकर पूजा करने आ रहे हैं वह ना केवल परिवार के सुख-समृद्धि की कामना कर रहे हैं, बल्कि परिवार, समाज और देश को कोरोना के कहर से बचाने की भी गुहार लगा रहे हैं .

Read Also  बिहार के विधायक और मंत्री आज लगाएंगे कोरोना का टीका

वहीं, शक्तिपीठ जयमंगलागढ़ में सर्वमंगला सिद्धाश्रम द्वारा होने वाले सामूहिक ध्वजारोहण एवं पूजन कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया है. सर्वमंगला सिद्धाश्रम के संस्थापक स्वामी चिदात्मन जी महाराज बताया कि विगत वर्षों से रामनवमी तिथि को राष्ट्रहित, जनहित, समाजहित, संस्कृतिहित में दिव्य शक्तिपीठ माता जयमंगला गढ़ में सामूहिक ध्वजारोहण होता आ रहा था.

इसे भी पढ़ें: कोरोना के खिलाफ जंग के लिए मठ-मंदिरों ने खोले खजाने

लेकिन वर्तमान वैश्विक प्राकृतिक संकट को देखते हुए राजाज्ञां के अनुसार भारतवासियों के कल्याण के लिए तत्काल रामनवमी ध्वजारोहण के कार्यक्रम को स्थगित किया जाता है. माता जी की कृपा से जब यह संकट निर्विघ्नं टल जाएगा उसके बाद शास्त्रानुसार शुभ दिन को देखते हुए ध्वजारोहण का कार्यक्रम धूमधाम से मनाया जाएगा.

Read Also  किसानों के राहत के लिए बिहार में बनेगा ‘मंकी हाउस’

उन्होंने बताया कि इस समय लॉकडाउन की राजाज्ञां हम भारतवासियों के सर्वविघ्न कल्याण के लिए है. इसका पालन करते हुए अपने-अपने स्थान पर माता जी से प्रार्थना करें कि सभी भारतवासी निर्विघ्नं इस प्राकृतिक विपदा के संकट से निजात पा सकें और पूरे विश्व ब्रह्मांड के मानव का कल्याण हो.

हमने भी अपने आप को सिद्धाश्रम के मुख्य द्वार की लक्ष्मण रेखा को नहीं लांघा है, आप भी अपने दरवाजे की लक्ष्मण रेखा को पार नहीं करें इसी में सबका कल्याण है.

Categories Bihar

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.