दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों, छात्रोंऔर पर्यटको को वापस लाने की छूट, केंद्र सरकार ने जारी की गाइडलाइन

by

New Delhi : केंद्रीय गृह मंत्रालय ने देश भर में अलग-अलग जगहों पर फंसे प्रवासी मजदूरों, पर्यटकों और छात्रों को निकाले जाने की छूट दे दी है. लॉकडाउन पर सरकार का यह बड़ा फैसला है.

लॉकडाउन में देश के अलग-अलग जगहों पर बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर और छात्र फंसे हुए हैं. कई जगहों पर पर्यटक भी लॉकडाउन की पाबंदी का सामना कर रहे हैं.

ऐसे में सरकार का यह कदम उन्हें काफी राहत देने वाला है. राजस्थान के कोटा में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले बिहार सहित अन्य राज्यों के छात्र फंसे हैं.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए 24 अप्रैल को 21 दिनों के लिए देशव्यापी लॉकडाउन का ऐलान किया था.

इसके बाद 14 अप्रैल को पीएम मोदी ने लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाने की घोषणा कर दी.

देशभर में 31 हजार से ज्यादा लोग हो चुके हैं संक्रमित

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देशभर में अब तक कोरोना वायरस से 31332 लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिसमें से 1007 लोगों की मौत हो चुकी है. देश में 7695 मरीज इस महामारी से ठीक भी हुए हैं और एक व्यक्ति देश से बाहर चला गया है. भारत में अभी भी कोरोना वायरस के 22629 एक्टिव केस मौजूद हैं.

महाराष्ट्र में कोरोना से हो चुकी से 400 लोगों की मौत

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के कुल संक्रमितों की संख्या 9318 हो गई है, जबकि मरने वालों का आंकड़ा 400 पहुंच गया है. राज्य में 1388 लोग कोरोना वायरस से ठीक भी हुए हैं. महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले मुंबई से आए हैं यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या 6 हजार से ज्यादा हो गई है. मुंबई में पिछले तीन दिनों में कोरोना के 1,000 नए मामले सामने आए हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.