Take a fresh look at your lifestyle.

लोकसभा चुनाव 2019: तीसरे चरण में 340 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले, 392 करोड़पति

0

New Delhi: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) के तीसरे चरण का चुनाव आगामी 23 अप्रैल को होगा. इस चरण में कुल 13 राज्यों के 1612 उम्मीदवार चुनाव मैदान में है. एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) (ADR Report) ने 13 राज्यों की 115 सीटों पर चुनाव लड़ रहे 1612 उम्मीदवारों में से 1594 का विश्लेषण किया है, जिसमें से 340 यानी 21 प्रतिशत आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवार हैं जबकि 392 करोड़पति हैं.

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक 340 दागी उम्मीदवारों के अलावा तीसरे चरण में 392 करोड़पति, 230 गंभीर आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवार हैं.

14 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर दोषसिद्ध मामले घोषित किये हैं. 13 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर हत्या (आईपीसी-302) से संबंधित मामले घोषित किये हैं. 30 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर हत्या का प्रयास (आईपीसी-307) से संबंधित मामले घोषित किये हैं. 14 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर अपहरण से संबंधित मामले घोषित किये हैं. 29 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर महिलाओं से बलात्कार (आईपीसी-376) मामले घोषित किये हैं. 1594 उम्मीदवारों में से 26 उम्मीदवारों ने अपने ऊपर भड़काऊ भाषण से संबंधित मामले घोषित किये हैं.

पार्टी कुल उम्मीदवार दागदार गंभीर आपराधिक केस
भाजपा 97 38 26
कांग्रेस 90 40 24
बसपा 92 16 9
सीपीआई 19 11 6
शिवसेना 22 7 6
सपा 10 5 4
एनसीपी 10 6 5

 

उम्मीदवारों की संपत्ति एक करोड़ से ज्यादा

एडीआर ने जिन 1594 उम्मीदवारों के हलफनामों का विश्लेषण किया है, उनमें 392 यानी 25 प्रतिशत उम्मीदवारों की संपत्ति एक करोड़ से ज्यादा है. भाजपा के 97 में से 81 उम्मीदवार (84 प्रतिशत), कांग्रेस के 90 उम्मीदवारों में 74 (82 प्रतिशत), सपा के 10 में से 9 (90 प्रतिशत), सीपीआई(एम) के 10 (53 प्रतिशत), बसपा के 12 (13 प्रतिशत) और शिवसेना के 09 (41 प्रतिशत) और एनसीपी के 10 में से सात यानी 70 प्रतिशत उम्मीदवारों के पास एक करोड़ से अधिक की संपत्ति है. तीसरे चरण में उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 2.95 करोड़ रुपये है.

पार्टी संपत्ति (करोड़ रुपए में)
भाजपा 97 13.01
कांग्रेस 90 10.96
बसपा 92 1.22
सीपीआई 19 1.76
शिवसेना 22 2.69
सपा 10 28.52
एनसीपी 10 48.49
तृणमूल 9 4.93

तीसरे चरण के तीन सबसे अमीर उम्मीदवार

कुंवर देवेंद्र सिंह यादव- (सपा) एटा (उप्र) 204,64,15,655 रुपये

भोंसले श्रीमंत छत्रपति प्रतापसिंह महाराज- एनसीपी-सतारा (महाराष्ट्र)-199, 68,13,173 रुपये

प्रवीण सिंह-कांग्रेस-बरेली (उप्र)-147,76,86,028 रुपये.

सबसे कम आय वाले तीन उम्मीदवार

श्रीवेंकटेश्वर, हिंदुस्तान जनता पार्टी,बीजापुर (कर्नाटक),09 रुपये.

श्रीजीत पीआर, निर्दलीय, वायनाड (केरल),120 रुपये

जॉनसन वसंत कोल्हापुरे, निर्दलीय, पुणे (महाराष्ट्र) 200 रुपये.

अधिकतम देनदारी घोषित करने वाले उम्मीदवार

रंजीत सिन्हा हिन्दूराव नायक निंबलंकर- भाजपा -माढ़ा (महाराष्ट्र)-संपत्ति 127 करोड़-देनदारी 89 करोड़.

डॉ.विरुपक्शप्पा-कांग्रेस-बेलगाम (कर्नाटक) संपत्ति 31 करोड़-देनदारी 22 करोड़.

रमेशभाई धधुका-भाजपा-पोरबंदर (गुजरात) संपत्ति 35 करोड़-देनदारी 21 करोड़ है.

पैन विवरण: 183 (12 प्रतिशत ) उम्मीदवारों ने अपने पैन का विवरण दिया है.

आयकर विवरण में सबसे ज्यादा वार्षिक आय घोषित करने वाले उम्मीदवार : 32 उम्मीदवारों ने अपनी वार्षिक आय एक करोड़ से ज्यादा घोषित की है.

शैक्षणिक योग्यता: 788 (49 प्रतिशत ) उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता 5वीं और 12वीं के बीच घोषित की है जबकि 681 (43 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपने शैक्षणिक योग्यता स्नातक और इससे ज्यादा घोषित की है. 57 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता साक्षर और 23 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता निरक्षर घोषित की है.

उम्मीदवारों की आयु: 562 (35 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी आयु 25 से 40 वर्ष के बीच घोषित की है जबकि 760 (48 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी आयु 41 से 60 वर्ष के बीच घोषित की है. 265 (17 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी आयु 61 से 80 के बीच घोषित की है. तीन उम्मीदवारों ने अपनी आयु 80 वर्ष से अधिक घोषित की है. चार उम्मीदवारों ने अपनी आयु घोषित नहीं की है.

उल्लेखनीय है कि पहले चरण 1266 उम्मीदवारों में से 213 ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किये थे जबकि दूसरे चरण में 1590 उम्मीदवारों में से 251 ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किये थे.

Download ADR Report:

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More