कोरोना का खतरा, भारत के 19 राज्यों में लॉकडाउन

by

New Delhi: कोरोना के खतरे को देखते हुए सोमवार को देश के 19 राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों को पूरी तरह से लॉकडाउन यानि बंद कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें: कोरोना पर हेमंत सोरेन बोले- हर दिन एक नई चुनौती के लिए तैयार रहें, आप इस लड़ाई के योद्धा

भारत के लॉकडान होने वाले 19 राज्‍यों की सूची

  • बिहार
  • हरियाणा
  • चंडीगढ़
  • गोवा
  • जम्मू व कश्मीर
  • राजस्थान
  • पश्चिम बंगाल
  • दिल्ली
  • कर्नाटक
  • अरुणाचल प्रदेश
  • त्रिपुरा
  • छत्तीसगढ़
  • आंध्रप्रदेश
  • लद्दाख
  • पंजाब
  • नागालैंड
  • महाराष्ट्र
  • केरल
  • झारखंड

इसके अलावा 6 राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों में आंशिक बंदी लागू कर दिया गया है. तीन राज्य ऐसे हैं जहां कोविड के संक्रमण को देखते हुए पूरी सजगता बरतने के आदेश जारी किए गए हैं. रविवार को देश के 75 जिलों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था.

Read Also  तबाही मचाने 175 किमी रफ्तार से आ रहा है तौकाते चक्रवात

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव के लव अग्रवाल ने सोमवार को प्रेसवार्ता में बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए बंदी का पालन करना बेहद जरुरी है. इसलिए राज्यों को सख्ती से इसका पालन करने को कहा गया है.

उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जो लोग बंदी के आदेश का उल्लंघन करते पाए जाते हैं उनके खिलाफ राज्य महामारी एक्ट और आईपीसी की धाराओं के तहत कार्रवाई की जाए. इस बारे में गृहमंत्रालय ने सभी राज्यों के पुलिस महानिदेशकों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आदेश जारी किए हैं.

इसे भी पढ़ें: रांची में कोरोना वायरस के साथ-साथ बर्ड फ्लू का भी खतरा

देश की 12 निजी लैब को कोविड की जांच की दी गई अनुमति

  • देश में कोविड की जांच के लिए 12 निजी लैब को अनुमति दे दी गई है.
  • दिल्ली में रोहिणी स्थित लाल पैथ
  • गुजरात में यूनिपैथ स्पेशलिटी लेबोरेटरी अहमदाबाद,
  • हरियाणा के गुरुग्राम में एसआरएल लिमिटेड
  • स्ट्रैंड लाइफ साइंसेस
  • कर्नाटक में न्यूबर्ग आनंद रेफ्रेंस लैब बंगलुरू
  • तमिलनाडु में वेल्लोर के क्लिनिकल वायरोलॉजी विभाग
  • चेन्नई के अपोलो अस्पताल का लैब
Read Also  Cyclone Tauktae गुजरात में मचा सकता है भारी तबाही, गृह मंत्रालय ने जारी किया एडवाइजरी

साथ ही महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में पांच लैब का चयन किया गया है. आईसीएमआर के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने बताया कि इन सभी 12 लैब के देश भर में 15 हजार से ज्यादा कलेक्शन सेंटर हैं. इसके अलावा सरकार की 111 लैब भी कार्य कर रही है. टेस्टिंग किट के उपलब्धता के सवाल पर उन्होंने कहा कि एनआईवी पूणे के अलावा दो निजी कंपनियों को भी टेस्ट किट बनाने की अनुमति दे दी गई है.

दूसरे देशों में फंसे भारतीयों को निकाला जाएगा

विदेश मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव दम्मु रवि ने बताया कि नीदरलैंड के एम्सटर्डम, लंदन और कुआलालंपुर के ट्रांसिट कैंप में फंसे भारतीय लोगों को लाने के लिए सारे प्रयास किए जा रहे हैं. शाम तक लंदन से एयरएशिया से कुछ भारतीय लाए जा रहे हैं, बाकी स्थानों से भी लाने के प्रयास किए जा रहे हैं.

Read Also  ममता बनर्जी के भाई की कोरोना से मौत

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.