लॉकडाउन: घर खाली कराने की धमकी दे रहे 30 मकान मालिकों के खिलाफ केस दर्ज

by

New Delhi: राजधानी दिल्ली (Delhi) में अब भी कई लोग ऐसे हैं जो लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान भी गरीब मजबूर मजदूरों (Labour) पर घर का किराया देने के लिए दबाव बना रहे हैं. जो मकान का किराया (House rent) नहीं दे पा रहे हैं उनको मकान खाली कराने की धमकी दे रहे हैं. दिल्ली में ऐसे 30 मकान मालिकों ( landlords) के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

दिल्ली के अलग-अलग जिलों में पुलिस ने सरकारी आदेश का उल्लंघन करने के मामाले में मकान मालिकों के खिलाफ केस दर्ज किया है. उत्तर पश्चिमी दिल्ली में 10 मकान मालिकों, उत्तरी दिल्ली में 12, द्वाराका में 1 दक्षिण पश्चिम दिल्ली में 2, बाहरी दिल्ली में 3, शाहदरा और दक्षिणी दिल्ली में 1-1 मकान मालिक पर केस दर्ज किया गया है. ये सभी अपने किराएदारों पर किराया देने का दबाव बना रहे थे.

बता दें कि लॉकडाउन के कारण लाखों गरीब प्रवासी मजदूरों की रोज चली गई है. वहीं लॉकडाउन के कारण अब उनके पास मकान का किराया तो दूर खाने के लिए भी पैसे नहीं हैं. ऐसे में ये मजदूर अपने घर जाने के लिए पैदल ही निकलने लगे थे. तब दिल्ली सरकार ने आदेश दिया था कि कोई भी मकान मालिक अपने किराएदार से जबरन किराए का पैसा नहीं वसूलेगा.

जबरन किराया लेने वालों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश

दिल्ली सरकार ने अपने आदेश में कहा था कि सभी मकान मालिक अपने किराएदारों से लॉकडाउन के दौरान किराया न वसूलें. जो भी ऐसा करेगा उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्वारई की जाएगी. वहीं सरकार ने ये भी कहा था कि जो लोग किराया देने में असमर्थ हैं उनका किराया दिल्ली सरकार देगी.

मजदूरों के पैदल जाने पर रोक

बता दें कि इन दिनों देश के कोने-कोने से गरीब मजबूर प्रवासी मजदूर अपने घर जाने के लिए पैदल निकलते दिखाई दे रहे हैं और वहीं उनके साथ होते हादसों की खबरें भी लगातार आ रही हैं. इसके बाद से दिल्ली सरकार किसी भी मजदूर के पैदल घर जाने पर रोक लगा दी है. सरकार का कहना है कि वो मजदूरों को भेजने के लिए ट्रेन की व्यवस्था करेगी, कोई भी मजदूर पैदल अपने घर के लिए नहीं निकलेगा.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.