LIVE: पीएम मोदी ने बताया- नई राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति 2020 क्‍या है, राष्‍ट्रपति ने दिया बधाई

Live update on PM Modi’s discussion on new education policy:  राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति 2020 (National Education Policy 2020) और उसके परिवर्तनकारी प्रभाव के विषय पर आयोजित होने वाले राज्‍यपालों और विश्‍वविद्यालयों के वाइस चांसलरों के सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को आज राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 10:30 बजे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करेंगे. 

Live update on PM Modi’s discussion on new education policy

राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर राज्यपालों के सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षा को लेकर सरकार का दखल जितना कम से कम हो, उतना अच्छा है. पीएम मोदी ने साथ ही कहा कि नई शिक्षा नीति में पढ़ने से ज्यादा सीखने पर महत्व दिया गया है.

उन्होंने कहा, ‘देश की आकांक्षाओं को पूरा करने का महत्वपूर्ण माध्यम शिक्षा नीति और शिक्षा व्यवस्था होती है. शिक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी से केंद्र , राज्य सरकार, स्थानीय निकाय, सभी जुड़े होते हैं. लेकिन ये भी सही है कि शिक्षा नीति में सरकार, उसका दखल, उसका प्रभाव, कम से कम होना चाहिए.’

पीएम मोदी ने कहा कि शिक्षा नीति से जितना शिक्षक, अभिभावक जुड़े होंगे, छात्र जुड़े होंगे, उतना ही उसकी प्रासंगिकता और व्यापकता, दोनों ही बढ़ती है. देश के लाखों लोगों ने, शहर में रहने वाले, गांव में रहने वाले, शिक्षा क्षेत्र से जुड़े लोगों ने, इसके लिए अपना फीडबैक दिया था, अपने सुझाव दिए थे.

राष्ट्रीय शिक्षा नीति की स्वीकारता की ये है बड़ी वज़ह

पीएम मोदी बोले गांव में कोई शिक्षक हो या फिर बड़े-बड़े शिक्षाविद, सबको राष्ट्रीय शिक्षा नीति, अपनी शिक्षा शिक्षा नीति लग रही है. सभी के मन में एक भावना है कि पहले की शिक्षा नीति में यही सुधार तो मैं होते हुए देखना चाहता था. ये एक बहुत बड़ी वजह है राष्ट्रीय शिक्षा नीति की स्वीकारता की.

आज दुनिया भविष्य में तेजी से बदलते Jobs, Nature of Work को लेकर चर्चा कर रही है. ये पॉलिसी देश के युवाओं को भविष्य की आवश्यकताओं के मुताबिक knowledge और skills, दोनों मोर्चों पर तैयार करेगी. नई शिक्षा नीति, पढ़ने के बजाय सीखने पर फोकस करती है, और पाठ्यक्रम से और आगे बढ़कर गहन सोच पर ज़ोर देती है. इस पॉलिसी में प्रक्रिया से ज्यादा Passion, Practicality और Performance पर ज़ोर दिया गया है.

इस कार्यक्रम को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर कहा कि मैं कल 7 सितंबर को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 और इसके परिवर्तनकारी प्रभाव पर राष्ट्रपति जी, राज्यपालों और विश्वविद्यालयों के वाइस चांसलरों के साथ एक सम्मेलन में भाग लूंगा. इस कांफ्रेंस के दौरान होने वाले संवाद देश को ज्ञान केंद्र बनाने की कोशिशों को मजबूती प्रदान करेंगे.

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को लेकर किए जा रहे इस कार्यक्रम को शिक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित किया जा रहा है. शिक्षा मंत्रालय द्वारा इस कार्यक्रम का विषय उच्च शिक्षा के क्षेत्र में बदलावों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की भूमिका रखा गया है.

आज होने वाले इस कार्यक्रम में सभी राज्यों के शिक्षा मंत्री विश्वविद्यालयों के वाइस चांसलर हिस्सा लेंगे. बताया जा रहा है कि नेप 2020, 21वीं सदी की पहली शिक्षा नीति है, जिसमें राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1946 के 34 वर्ष बाद घोषित किया गया है. इसे स्कूल और उच्च शिक्षा स्तर में सुधारों के लिए लाया गया है. ऐसा माना जा रहा है कि इस नीति के लागू होने से एक न्याय संगत और ज्ञान युक्त समाज तैयार करने में मदद मिलेगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.