मास्टरमाइंड ने बताया ‘क्यों कराया खूंटी का कोचांग गैंगरेप’

by
#Khunti : जॉन जुनास तिडू व बलराम सामद ने गिरफ्तारी के बाद पुलिस पुछताछ में यह खुलासा किया है कि दोनों ने खूंटी के कोचांग गैंगरेप की घटना को क्‍यों अंजाम दिया. पुलिस ने बताया कि जॉन जुनास तिडू और बलराम सामद ने पूछताछ में स्‍वीकार किया कि उन्‍होंने पीएलएफआई के बाजी समद उर्फ टकला और जुनास मुंडू को गैंगरेप की घटना के लिए उकसाया था. उसने खासतौर पर कहा था कि ये प्रशासन को हमारे बारे में सूचना दे सकते हैं, इसलिए इनकी बेईज्‍जती करना जरूरी है.

Read Also  मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की मानहानि मामले में ट्विटर फेसबुक को नोटिस

जॉन जुनास तिडू व बलराम सामद कई पुराने मामलों पर मोस्‍ट वांटेड

जॉन जुनास तिडू व बलराम सामद पर खूंटी गैंगरेप और सांसद कडिया मुंडा के हाउस गार्ड को अगवा कर बंधक बनाने के मामले आरोप है. मोस्‍ट वांटेड इन दोनों अभियुक्‍तों को पुलिस को कई पुराने मामलों पर भी तलाश थी. इनके खिलाफ कई थानों में मामले दर्ज हैं. जॉन जुनास तिडू के खिलाफ 12 मामले और बलराम सामद के खिलाफ 8 मामलों पर पुलिस को उनकी तलाश थी.

जॉन जुनास तिडू व बलराम सामद की गिरफ्तारी की कहानी

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तारी के लिए कई टीमों का गठन किया गया था, जो जॉन जुनास तिडू और बलराम समद की गिरफ्तारी के लिए पुलिस उप महानिरीक्षक के निदे्रश पर लगातार छापामारी कर रहे थे. इसी कडी में प्राप्‍त सूचनाओं के आधार पर दोनों की गिरफ्तारी हो सकी. पुलिस ने बताया कि 22 जुलाई 2018 को जॉन जुनास तिडु की गिरफ्तारी बस स्‍टैंड, हाता चौक जमशेदपुर से की गई. वहीं बलराम सामद की गिरफ्तारी खूंटी के एनएच 75 के पास जीवन टोला से की गई.

पूछताछ में दी कई अहम जानकारी

पत्‍थलगडी के विकृत स्‍वरूप के बारे में पूछताछ करने पर दोनों ने बताया कि कृष्‍णा हासदा और गुजरात में सतपति कल्‍ट के संप्रदाय के लोगों की विचारधार से प्रभावित होकर ऐसा कार्य कर रहे थे. दोनों अभियुक्‍तों ने एसी भारत सरकार कुटुम्‍ब परिवार काट्सवान, गुजरात जाने की बात भी स्‍वीकार की है. दोनों ने पत्‍थलगडी के विकृत स्‍वरूप को प्रसारित करने वालों की जानकारी दही है और गुजरात व दूसरे राज्‍यों के किन लोगों से प्रभावित हुए हैं, सबका खुलासा कर नाम बताया है. इसके पहले कोचांग गैंगरेप मामले में फादर अल्‍फोंस आईंद, एरिया कमांडर बाजी समद उर्फ टकला, जुनास मुंडू, अजूब सांडी पूति और आशीष लोंगा की गिरफ्तारी हो चुकी है.

Read Also  झारखंड में ब्लैक फंगस महामारी घोषित, कैबिनेट की मुहर

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.