Take a fresh look at your lifestyle.

जेपीएससी में अब नहीं होगा कोई लोचा, सुधार के साथ फिर से जारी होगा सिविल परीक्षा का विज्ञापन

1 175

Ranchi: जेपीएससी सिविल परीक्षा का विज्ञापन दोबारा जारी होगा. इस प्रक्रिया में 15 से 20 दिनों का समय लग सकता है. विज्ञापन जारी करने से पहले इस बात का ध्‍यान दिया जाएगा कि गलती की कोई गुंजाईश नहीं रहे. झारखंड सरकार के मुख्‍य सचिव डीके तिवारी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि जिन वजहों से जेपीएससी के सिविल परीक्षाओं पर बार-बार सवाल उठाये जाते हैं और कोर्ट का दरवाजा खटखटाया जाता है, उन कमियों को दूर किया जाएगा.

जेपीएससी ने 27 फरवरी को जेपीएससी 7वीं, 8वीं और 9वीं एक साथ तीन साल के सिविल परीक्षाओं के लिए विज्ञापन निकाला गया था. इसके बाद मीडिया में खबर प्रकाशित होने के बाद जेपीएससी सिविल परीक्षा के विज्ञापन को रद्द कर दिया गया है.

इसकी जानकारी देते हुए मुख्‍य सचिव डीके तिवारी ने कहा कि जेपीएससी सिविल परीक्षा 2017-2019 को वापस ले लिया गया है. उन्‍होंने कहा कि विभाग अभी इसकी नियमावली फिर से तैयार करेगी कि क्‍या प्रक्रिया है क्‍योंकि हर बार परीक्षा में कोई न कोई समस्‍या हो जाती है. किसी न किसी समूह से शिकायत हो जाती है. इसलिए इस पर हम 15-20 दिनों में एक निश्चित नियमावली तय कर लेंगे. उसके बाद फिर से जेपीएससी सिविल परीक्षाओं के विज्ञापन निकाले जाएंगे.

मुख्‍य सचिव ने कहा कि यहां ध्‍यान देने की बात है कि किन कारणों से लोगों ने आपत्तियां की किस कारण से समस्‍याएं उत्‍तन्‍न हुईं. किस कारण से मामले कोर्ट में गए. अब तक की सभी परीक्षाएं कोर्ट में गए. उन्‍हीं सब मामलों में जिनमे लोग हाई कोर्ट, सुप्रीम कोर्ट गए. ऐसे मामलों को का ऐसा समाधान करना चाहते हैं कि कभी किसी को कोई शिकायत न हो.

1 Comment
  1. Ved Kumar says

    #JPSC की 2017, 2018 एवं 2019 की परीक्षा में उत्पन्न विसंगतियों की जांच हेतु उच्च स्तरीय समिति का गठन स्वागत योग्य कदम है। चुकी 6th Jpsc की परीक्षा अभी भी #प्रक्रियाधीन है, अतः उच्च स्तरीय समिति 6th की त्रुटियों पर भी विचार करे। साथ ही समिति में छात्र प्रतिनिधियों को भी शामिल किया जाए।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: