काफिला पर हमले के बाद जेपी नड्डा ने साधा ममता बनर्जी निशाना

by

Kolkata: पश्चिम बंगाल में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमला किया गया. कारों पर पत्थर मारे गए. जिससे कार के शीशे टूट गए और पत्थर अंदर जा लगे.

इस घटना के बाद अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राज्य और केंद्र सरकार में टकराव बढ़ गया है. जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले के बाद बीजेपी ने राज्य में राष्ट्रपति शासन की मांग की है. वहीं अब गृह मंत्रालय ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ से पश्चिम बंगाल की वर्तमान स्थिति और कानून-व्यवस्था को लेकर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है.

घटना पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने टीएमसी पर निशाना साधा है, उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि आज बंगाल में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के ऊपर हुआ हमला निंदनीय है. केंद्र सरकार इस हमले को पूरी गंभीरता से ले रही है. बंगाल सरकार को इस प्रायोजित हिंसा के लिए प्रदेश की शांतिप्रिय जनता को जवाब देना होगा.

Read Also  1 से 5 करोड़ तक की योजना के अप्रूवल का अधिकार सचिवों से छीनकर मंत्रियों को मिलेगा

घटना के बाद जेपी नड्डा ने प्रेस से कहा, यह घटना ममता जी की मानसिकता के बारे में बोलती है. मुझे बताया गया है कि उन्होंने मुझे बहुत सारे नाम दिए हैं. ममता जी यह आपकी संस्कृति के बारे में बोलती है. यह बंगाली संस्कृति नहीं है. हमें बंगाली संस्कृति का पालन करने पर गर्व है.

नड्डा ने कहा, ममता जी जिस शब्दावली का इस्तेमाल पीएम के लिए करती हैं, वह बताती है कि यह बंगाल को कितना नीचे ले गई है. हमें दुख होता है. बंगाल सभी का है … आने वाले चुनावों में लोग उन्हें ‘नमस्कार’ कहेंगे और भाजपा के कमल खिलाएंगे. हम 200 से अधिक सीटें जीतेंगे.

Read Also  हेमंत सोरेन अचानक दिल्ली गए राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी

घटना के बाद सीएम ममता बेनर्जी ने हमले पर सवाल उठाते हुए ममता बनर्जी ने इसे नौटंकी करार दिया और कहा कि नाटक और हॉग मीडिया के जरिए बीजेपी लोगों को रैली तक नहीं ला सकी. क्या इसकी योजना बनाई गई? उन्होंने कैसे वीडियो तैयार किए. जबकि बीएसएफ और सीआरपीएफ के रहते कोई आपको कैसे छू सकता है?

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.