Take a fresh look at your lifestyle.

झामुमो-कांग्रेस की आज हेमंत आवास में बैठक, गठबंधन को लेकर है 4 सीटों पर पेंच

0 13

Ranchi: झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस के बीच 4 सीटों में चुनाव लड़ने को लेकर पेंच फंसा हुआ है. इसे सुलझाने को लेकर आज झामुमो और कांग्रेस के बीच अहम बैठक होनी है. यह बैठक कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष की हेमं सोरेन के साथ होगी.

दिल्ली में कांग्रेस की केंद्रीय स्क्रीनिंग कमेटी की बुधवार को हुई बैठक में सीट शेयरिंग पर इसी वजह से निर्णय नहीं लिया जा सका. कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रामेश्वर उरांव व विधायक दल के नेता आलमगीर आलम आज हेमंत से बात करेंगे. 4 सीटों पर फॉर्मूला तय हो गया तो गठबंधन की घोषणा हो जाएगी.

गांडेय, सिसई, गुमला और घाटशिला पर अड़े दोनों दल 

ये 4 सीटें कांग्रेस अपने दो पूर्व अध्यक्षों सरफराज अहमद-प्रदीप बलमुचू, मौजूदा अध्यक्ष रामेश्वर उरांव और एक पूर्व मंत्री गीताश्री उरांव के लिए चाहती है. लेकिन इन चारों पर 2014 में झामुमो दूसरे स्थान पर थी, इसलिए वह भी अड़ी हुई है.

इधर झामुमो ने बुधवार को औपचारिक घोषणा कर दी कि विधानसभा चुनाव गठबंधन के तहत लड़ा जाएगा. साथ ही यह भी साफ कर दिया कि वह 42 से अधिक सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

पार्टी की केंद्रीय समिति की बैठक के बाद कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि ये आंकड़ा 45 या 43 हो सकता है. 8 नवंबर को झामुमो पहली सूची भी जारी कर देगा. हालांकि ये सीटें कौन सी होंगी और गठबंधन का स्वरूप क्या होगा इस पर उन्होंने कहा कि गुरुवार तक तस्वीर साफ होगी.

शिबू के चुनाव लड़ने पर हेमंत ने कहा

हेमंत सोरेन ने कहा कि गुरुजी चुनाव लड़ेंगे या नहीं यह उनकी इच्छा पर निर्भर करता है। वे चाहेंगे तो पार्टी लड़ाएगी। 

बाबूलाल मरांडी ने नहीं दिया मिलने का समय 

एक सवाल के जवाब में हेमंत सोरेन ने कहा कि झाविमो अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी से उन्होंने मिलने का समय मांगा है. हालांकि उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि बाबूलाल मरांडी ने अब तक उन्हें मिलने का समय नहीं दिया है. वामदलों के साथ बातचीत को लेकर उन्होंने कहा कि देखते हैं कि क्या हो सकता है. कुछ लोग 16 तो कुछ लोग 15 सीट पर चुनाव लड़ने की बात कर रहे है. 

वामदलों का अलग रहना लगभग तय… 

कांग्रेस, राजद व झामुमो के बीच वामदलों के लिए चिन्हित 5 सीटें आपस में बांटने पर सहमति बनी है। 

कांग्रेस के किसी विधायक का नहीं कटेगा टिकट, 9 को फिर होगी बैठक 

कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की दिल्ली में बुधवार काे हुई बैठक में ये तो तय हो गया कि किसी मौजूदा विधायक का टिकट नहीं काटा जाएगा। मगर प्रत्याशियों की सूची पर अंतिम मुहर नहीं लग पाई है। गुरुवार को रांची में पार्टी प्रदेशाध्यक्ष की हेमंत सोरेन से मुलाकात के बाद 9 नवंबर को दोबारा स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक होगी। बुधवार की बैठक में 81 सीटों पर चर्चा हुई, मगर फोकस गठबंधन पर रहा। 

बात बनी तो यूं बंट सकती हैं सीटें 

झामुमो 43

कांग्रेस 30

राजद 08 

बिन पायलट नहीं उड़ता जहाज 

हेमंत सोरेन ने स्पष्ट कहा कि चुनाव नेतृत्व के साथ लड़ा जाएगा। पार्टी का यह मानना है कि बिना पायलट के जहाज नहीं उड़ सकता है, क्योंकि हवाई जहाज में बैठे सभी ढाई सौ लोग जहाज नहीं उड़ा सकते। 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.