Take a fresh look at your lifestyle.

झारखंड का बजट सत्र 28 फरवरी से, 18 कार्यदिवस का होगा सेशन

0 21

Ranchi: हेमंत सोरेन सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट सत्र 18 दिनों का होगा. बजट सत्र 28 फरवरी से 28 मार्च तक चलेगा. हेमंत सरकार ने मंत्रिमंडल विस्‍तार के बाद पहले कैबिनेट में कई और महत्‍वपूर्ण निर्णय लिये.

झारखंड कैबिनेट में लिये गये महत्‍वपूर्ण फैसले

झारखंड में 18 कार्यदिवस का बजट सत्र

पंचम झारखंड विधानसभा के (द्वितीय) बजट सत्र दिनांक 28 फरवरी 2020 से 28 मार्च 2020 तक होगी. 03 मार्च 2020 को अन्य कार्यक्रमों के अतिरिक्त वित्तीय वर्ष 2020-21 बजट पेश किया जाएगा. पूरे सत्र में कुल कार्य दिवस 18 दिन के होंगे.

गंभीर बीमारी में सहायता

मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी उपचार योजना अंतर्गत राज्य के ऐसे व्यक्तियों को जिनकी सकल वार्षिक आय लगातार तीन वर्षों तक रुपए 8 लाख से कम हो, उन्हें असाध्य रोगों यथा- सभी प्रकार के कैंसर, किडनी प्रत्यारोपण एवं गंभीर लीवर रोग तथा एसिड अटैक से प्रभावितों को चिकित्सा सहायता अनुदान की स्वीकृति दी गई. एसिड अटैक के मामलों में आय की बाध्यता नहीं होगी. आय का प्रमाण पत्र अंचल अधिकारी द्वारा निर्गत प्रमाण पत्र ही मान्य होगा. मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी उपचार योजना अंतर्गत सभी प्रकार के कैंसर रोग, किडनी प्रत्यारोपण, तथा गंभीर लीवर रोगों के लिए प्रत्येक मामले में 5 लाख तक की चिकित्सा अनुदान सिविल सर्जन द्वारा ही स्वीकृत की जाएगी.

चुनाव में लगाये गये सुरक्षा बलों के लिए मानदेय भुगतान

विधानसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रतिनियुक्त किए गए केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल/राज्य सशस्त्र पुलिस बलों के मानदेय भुगतान के लिए झारखंड आकस्मिकता निधि से रुपए 12 करोड़ 27 लाख 63 हजार मात्र अग्रिम लिए जाने की घटनोत्तर स्वीकृति दी गई.

भंडार पाल सुरेंद्र प्रसार का नियमितीकरण

झारखंड राज्य के अधीनस्थ अनियमित रूप से नियुक्त एवं कार्यरत कर्मियों की सेवा नियमितीकरण नियमावली 2015 के तहत अनियमित रूप से नियुक्त एवं कार्यरत एकमुश्त भंडार पाल सुरेंद्र प्रसाद, सुवर्णरेखा नहर प्रमंडल जमशेदपुर की सेवा निम्न वर्गीय लिपिक (वेतन रुo 19900/- लेवल-2) के पद पर नियमितीकरण की स्वीकृति दी गई.

राज्‍यपाल का अभिभाषण

पंचम झारखंड विधानसभा के प्रथम सत्र में राज्यपाल महोदय द्वारा दिए गए अभिभाषण पर मंत्री परिषद की घटनोत्तर स्वीकृति दी गई.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.