स्थानीय टीवी न्यूज चैनल की खबर को झारखंड राज्‍य को-ऑपरेटिव बैंक ने कहा भ्रामक और तथ्यहीन, सीईओ ने जारी किया खंडन

by

Ranchi: झारखंड राज्‍य को-ऑपरेटिव बैंक ने रांची से संचालित स्‍थानीय टीवी न्‍यूज चैनल द्वारा चलाये गए खबर को तथ्यहीन और भ्रामक बताते हुए खबर का खंडन किया है.

अपने खंडन में झारखंड राज्‍य को-ऑपरेटिव बैंक के सीईओ प्रेम प्रकाश ने लिखा है कि, “न्यूज़ चैनल झारखंड राज्य का एक लोकप्रिय चैनल है आपके द्वारा बैंक से तथ्यों को बिना तहकीकात किए इस तरह का भ्रामक न्यूज़ दिखाया जाना आपके विश्वसनीयता पर प्रहार करती है, इस तरह के समाचारों से बैंक की छवि धूमिल होती है एवं बैंक के व्यवसाय पर प्रतिकूल असर पड़ता है. झारखंड राज्य सहकारी बैंक लिमिटेड आपके द्वारा चलाए जा रहे उपरोक्त न्यूज़ का सिरे से खंडन करती है.

Read Also  हेमंत सरकार गिराने की साजिश में शामिल कांग्रेसी विधायकों के खिलाफ हो सकती है कार्रवाई

झारखंड राज्‍य को-ऑपरेटिव बैंक के सीईओ के अनुसार उक्त न्यूज़ चैनल ने एक खबर चलाई थी जिसमें कहा गया था कि कोपरेटिव बैंक ने

” कोलकाता के फर्जी कम्पनी को बांट दिया लोन”

“प्रेजा फाउंडेशन को बांट दिया 38 करोड़ का लोन”

“फर्जी कम्पनी को बांट दिया सहकारी बैंक ने लोन”

“कृषि ऋण के बदले बाट दिया एजुकेशन लोन”

इसके बाद बैंक कोपरेटिव बैंक के सीईओ ने इन खबरों का खंडन करते हुए विज्ञप्ति जारी की है.

पढ़िए पूरी खंडन वाली विज्ञप्ति,

जिसमें कहा है कि

बता दें कि सहकारिता अध्‍ययन मंडल ने प्रेस कांफ्रेंस जारी कर झारखंड को-ऑपरेटिव बैंक पर कई आरोप लगाए.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.