Take a fresh look at your lifestyle.

झारखंड कांग्रेस को मिला आदिवासी नेतृत्व, रामेश्वर उरांव बने नये प्रदेश अध्यक्ष

0 133

Ranchi: झारखंड प्रदेश कांग्रेस को नया अध्‍यक्ष मिल गया है. कांग्रेस ने झारखंड का नेतृत्‍व के लिए इस बार आदिवासी चेहरा चुना है. झारखंड विधानसभा चुनाव के मूड को देखते हुए कांग्रेस ने रामेश्‍वर उरांव को सूबे का कमान सौंपा है.

खास बातें

  • रामेश्‍वर उरांव को कांग्रेस ने बनाया प्रदेश अध्‍यक्ष
  • 5 कार्यकारी अध्‍यक्ष भी बनाये गये
  • केशव महतो, इरफान अंसारी, मानस सिन्‍हा, संजय पासवान और राजेश ठाकुर कार्यकारी अध्‍यक्ष
  • झारखंड विधानसभा चुनाव में करेंगे नेतृत्‍व

इसके साथ ही झारखंड के लिए 5 कार्यकारी अध्‍यक्ष भी बनाये गये हैं. जानकारी के अनुसार  केशव महतो कमलेश, इरफ़ान अंसारी, मानस सिन्हा, संजय पासवान और राजेश ठाकुर को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया है.

सोमवार को दिल्‍ली में उनके नाम की औपचारिक घोषणा थोड़ी देर में की जाएगी.

रामेश्‍वर उरांव का नाम झारखंड कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद की दौड़ में सबसे आगे चल रहा थे. वह लोहरदगा सीट से सांसद भी रह चुके हैं.

इसके पहले एक पखवाड़े से अधिक समय तक झारखंड कांग्रेस का अध्‍यक्ष पद खाली पड़ा हुआ था. 9 अगस्‍त 2019 को डॉ अजय कुमार ने प्रदेश अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफा दे दिया था.

कांग्रेस में रामेश्वर उरांव का कद

  • डॉ. रामेश्वर उरांव मनमोहन सिंह सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं.
  • उरांव 14 फरवरी 1947 को पलामू के चियांकी में पैदा हुए थे.
  • रामेश्वर उरांव ने 1972 में राष्ट्रीय पुलिस सेवा में शामिल होने से पहले रांची विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में पीएचडी की उपाधि प्राप्त की थी.
  • 7 अप्रैल, 2008 को रामेश्वर उरांव ने मनमोहन सिंह सरकार के तहत पहली कैबिनेट में एक आदिवासी मामलों के मंत्री के रूप में शपथ ली थी.
  • मनमोहन सिंह सरकार में वे अनुसूचित जनजाति आयोग के चेयरमैन भी रहे हैं.
  • साल 2009 में भाजपा के सुदर्शन भगत ने उन्हें हराकर लोहरदगा लोकसभा सीट छीन ली थी.
  • साल 2014 में भी रामेश्वर उरांव को सुदर्शन भगत से हार का सामना करना पड़ा था.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.