झारखंड बजट सेशन 2021 में भाजपा विधायकों ने गेरुआ टीशर्ट पहनकर किया हंगामा, बाद में सीएम के साथ कराया फोटो सेशन

by

Jharkhand Budget Session 2021 विधानसभा में बुधवार को वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव के बजट भाषण के दरम्यान भाजपा विधायकों ने हंगामा किया. कई तरह के नारा लिखा हुआ भगवा टीशर्ट पहकर विधयक वेल में बैठ गए. इस दौरान उन्होंने नारेबाजी भी की. विधायकों ने सदन के अंदर जय श्रीराम के नारे भी लागाए. भाजपा विधायक नीलकंठ सिंह मुंडा समानांतर बजट भाषण पढऩे लगे. यह पूर्ववर्ती सरकार का बजट भाषण था. मजे की बात यह है कि हंगामे के बाद भाजपा विधायकों ने मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन के साथ फोटो सेशन भी कराया.

Read Also  झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन, जानिए क्‍या है गाइडलाइन

भाजपा को विधायक को सदन से बाहर जाने का आदेश

स्पीकर रबींद्रनाथ महतो ने इसपर आपत्ति जताई. विधानसभा अध्‍यक्ष ने कहा कि यह आचरण सदन की मर्यादा के अनुकूल नहीं है. इस दौरान सीटी बजाने पर सिंदरी के विधायक इंद्रजीत महतो को उन्होंने सदन से बाहर निकालने का आदेश दिया. नीलकंठ सिंह मुंडा के समानांतर भाषण के दौरान भाजपा विधायकों ने खूब तालियां बजाई. इससे वित्त मंत्री का भाषण स्पष्ट नहीं सुनाई पड़ रहा था.

बुधवार को सुबह 11 बजे विधानसभा अध्यक्ष रवींद्र नाथ महतो ने जैसे ही विधानसभा की कार्यवाही शुरू की, विपक्ष ने नारेबाजी शुरू कर दी. दस मिनट तक विधानसभा अध्यक्ष विपक्ष को शांत कराने की कोशिश करते रहे. भाजपा के विधायकों से भगवा रंग के टीशर्ट को निकालने के लिए भी कहा, लेकिन विपक्ष तैयार नहीं हुआ. इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष ने दिन के 12 बजे तक के लिए सदन को स्थगित कर दिया.

Read Also  झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन, जानिए क्‍या है गाइडलाइन

भाजपा विधायकों ने बजाई सीटी

दोबारा सदन शुरू हुआ, तब वित्त मंत्री ने अपना बजट भाषण पढ़ा, लेकिन विपक्ष का विरोध जारी रहा. सदन शुरू होने से पहले भवनाथपुर के विधायक भानु प्रताप शाही सीटी लेकर विधानसभा हॉल में पहुंचे थे. उन्होंने विपक्ष के अपने सभी साथी विधायकों को सीटी भेंट की, ताकि सदन के दौरान सीटी बजाकर विरोध जता सकें.

सदन में गूंजा जय श्री राम का नारा

बजट सत्र में संपूर्ण विपक्ष ने सदन में जय श्री राम का नारा लगाया. सत्र शुरू होने के पहले सत्ता पक्ष व विपक्ष के विधायक विधानसभा हॉल में पहुंच गए थे. इसी बीच विपक्ष के हंगामे के बीच मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी विपक्ष के विधायकों के पास पहुंच गए और उनके साथ फोटो खिंचवाकर माहौल को खुशनुमा करने की कोशिश की. हंसी-मजाक भी चला, इसके बावजूद बजट भाषण के दौरान दोनों पक्ष के बीच तल्खी बनी रही.

Read Also  झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन, जानिए क्‍या है गाइडलाइन

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.