Take a fresh look at your lifestyle.

झारखंड विधानसभा चुनावः कड़ी सुरक्षा के बीच पहले चरण में 13 सीटों पर वोटिंग

0

Ranchi: विधानसभा के पहले चरण के तहत छह जिलों की 13 विधानसभा सीटों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शनिवार की सुबह 7 बजे से मतदान शुरू हुआ. मतदाताओं की जागरूकता के कारण कई बूथों पर पहले मतदान करने को लेकर लोगों की लाइन सुबह छह बजे से ही लगने लगी थी. अभी तक शांतिपूर्ण मतदान हो रहे हैं. कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है. गढ़वा और छतरपुर में कुछ बूथों पर ईवीएम में खराबी की शिकायतें जरूर मिली हैं. 



  • – कई मतदान केंद्रों पर ईवीएम में खराबी की शिकायतें
  • – मतदान में 37,83,055 मतदाता करेंगे वोटिंग 
  • – 174 पुरुषों और 15 महिलाओं समेत कुल 189 उम्मीदवार चुनाव मैदान में 

निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है. इसे लेकर नक्सल प्रभावित इलाके में 71 कंपनी केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल और लगभग 15 हजार जवानों की तैनाती की गई है. पहले चरण में 13 सीटों के लिए होनेवाले मतदान में 37,83,055 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. इसमें चतरा (एससी), गुमला (एसटी), बिशुनपुर (एसटी), लोहरदगा (एसटी), मनिका (एसटी), लातेहार (एससी), पांकी, डाल्टेनगंज, विश्रामपुर, छत्तरपुर (एससी), हुसैनाबाद, गढ़वा और भवनाथपुर सीट के लिए कुल 189 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. इनमें 174 पुरुष और 15 महिला उम्मीदवार हैं, जबकि 4,892 मतदान केंद्रों पर 37,83,055 मतदाता वोट डालेंगे. इन मतदाताओं में 19,81,694 पुरुष, 18,01,356 महिला और 5 थर्ड जेंडर के मतदाता हैं. इसके अलावा नए मतदाताओं (18-19 साल के) की कुल संख्या 1,05,822 है. इसमें 57,687 पुरुष और 48135 महिला हैं.

सबसे ज्यादा 28 अभ्यर्थी भवनाथपुर सीट से, सबसे कम 9 उम्मीदवार 

चतरा में सबसे ज्यादा 28 अभ्यर्थी भवनाथपुर सीट से हैं, जबकि सबसे कम 9 उम्मीदवार चतरा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. इसके अलावा गुमला (एससी) सीट से 12, बिशुनपुर (एसटी) सीट से 12, लोहरदगा (एसटी) सीट से 11, मनिका (एसटी) सीट के लिए 10, लातेहार (एससी) सीट के लिए 11, पांकी सीट के लिए 15, डाल्टेनगंज सीट के लिए 15, विश्रामपुर सीट के लिए 19, छतरपुर (एससी) सीट के लिए 12, हुसैनाबाद सीट के लिए 19 औऱ गढ़वा सीट के लिए 16 अभ्यर्थी चुनाव मैदान में हैं. इस तरह इस चरण में 189 अभ्यर्थी चुनाव लड़ रहे हैं. 

4892 मतदान केंद्र

 पहले चरण की 13 सीटों के लिए कुल 4,892 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इसमें शहरी क्षेत्र 307 औऱ ग्रामीण इलाके में 4585 मतदान केंद्र स्थित हैं. इसके अंतर्गत चतरा में 475, गुमला में 313, बिशुनपुर 349, लोहरदगा में 324, मनिका में 321, लातेहार में 358, पांकी में 326, डाल्टेनगंज में 426, विश्रामपुर में 367, छतरपुर में 335, हुसैनाबाद में 341, गढ़वा में 455 और भवनाथपुर में 502 मतदान केंद्र हैं. 

 1,262 मतदान केंद्रों की हो रही वेबकास्टिंग 

13 सीटों पर स्वतंत्र, निष्पक्ष औऱ पारदर्शी चुनाव कराने के लिए मतदान के दिन वेबकास्टिंग के जरिए चयनित मतदान केंद्रों की गतिविधियों पर पल-पल नजर रखी जा रही है. इस चरण के चुनाव के लिए 1,262 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग की जा रही है. इसके तहत चतरा में 119, गुमला में 106, विशुनपुर में 86, लोहरदगा में 81, मनिका में 77, लातेहार में 89, पांकी में 80, डाल्टेनगंज में 157, विश्रामपुर में 72, छतरपुर में 58, हुसैनाबाद में 74, गढ़वा में 117 औऱ भवनाथपुर में 146 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग की जा रही है. इन मतदान केंद्रों से होने वाली वेबकास्टिंग की मॉनिटरिंग मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय, झारखंड रांची एवं सभी जिलों के जिला निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय में बनाए गए वेबकास्टिंग नियंत्रण कक्ष से हो रही है. 

 121 महिला संचालित मतदान केंद्र 

मतदान में महिलाओं की सहभागिता को बढ़ाने के लिए 13 विधानसभा सीटों के चुनाव में 121 महिला संचालित मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इसके अंतर्गत चतरा में 06, गुमला में 12, लोहरदगा में 09, मनिका में 19, लातेहार में 26, पांकी में 02, डाल्टेनगंज में 36, विश्रामपुर में 02, छतरपुर में 01, हुसैनाबाद में 04, गढ़वा में 02 औऱ भवनाथपुर में 02 महिला संचालित मतदान केंद्र बनाए गए हैं. 

 417 आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए हैं 

पहले चरण के चुनाव को लेकर 417 आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इसके अंतर्गत चतरा में 26, गुमला में 46, बिशुनपुर में 29, लोहरदगा में 18, मनिका में 14, लातेहार में 20, पांकी में 29, डाल्टेनगंज में 85, विश्रामपुर में 30, छतरपुर में 35, हुसैनाबाद में 49, गढ़वा में 13 औऱ भवनाथपुर में 23 आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए हैं. 

 झारखंड में 19 जिले नक्सल प्रभावित 

राज्य में 19 जिले नक्‍सल प्रभावित हैं. इनमें 13 जिले अति संवेदनशील की श्रेणी में आते हैं. कुल 67 विधानसभा क्षेत्र नक्‍सल प्रभावित हैं. इन क्षेत्रों में मतदान के दिन सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम किये गए हैं.

71 कंपनी की हुई इस प्रकार तैनाती

नक्सल प्रभावित इलाकों में मतदान के दौरान और इससे पूर्व हेलिकॉप्टर से नेत्रा कैमरे के माध्यम से नक्सलियों और उग्रवादियों की गतिविधि पर नजर रखी जा रही है. सीआरपीएफ की 12 कंपनी, बीएसएफ की 16 कंपनी, आइटीबीपी की 13 कंपनी, सीमा सुरक्षा बल की 10 कंपनी, सीआईएसएफ की 10 कंपनी और आरपीएफ की 10 कंपनी सहित कुल 71 कंपनियों की तैनाती की गई है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More