Take a fresh look at your lifestyle.

झारखंड: सभी विधानसभा क्षेत्रों में आजसू ने मनाया संकल्‍प दिवस

0

Ranchi: आजसू पार्टी ने 22 जून को झारखंड के सभी विधानसभा क्षेत्रों में संकल्प दिवस कार्यक्रम मनाया. इस मौके पर पार्टी के प्रमुख सुदेश कुमार महतो ने कहा है कि आजसू के स्थापना के साल बढ़े हैं और हमारी जिम्मेदारियां भी बढ़ी हैं.

एक दल और उसके कार्यकर्ता की भूमिका आम अवाम के साथ जुड़ाव से परखा जाता है. इसलिए जनभावना के अनरूप चलने और झारखंडी विचारों को स्थापित करने का हम सभी संकल्प लें.

आजसू ने 33 सालों का सफर पूरा किया है. आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो अपने गृह क्षेत्र सिल्ली में संकल्प सभा कार्यक्रम में शामिल हुए. वे सोनाहातु प्रखंड के जाड़ेया के कार्यक्रम में शामिल हुए और पार्टी कार्यकर्ताओं से रूबरू हुए.

सुदेश कुमार महतो ने का कि आज से 33 साल पहले जिस झारखंडी विचारधारा को लेकर आजसू की नीव रखी गई थी उस विचारधारा को सुरक्षित रखना हमारा परम कर्तब्य है. इस संकल्प दिवस के पावन अवसर पर पुनः झारखंडी मुल्यों, संस्कृति एवं स्वाभिमान की सुरक्षा का संकल्प दोहराना है.

झारखंडी अधिकार, संघर्ष, भावनाओं और सपने को साकार करने के लिए पार्टी सदा संघर्षरत रहेगी। हमने काफी उतार-चढ़ाव देखे हैं. अलग राज्य गठन से पहले और गठन के बाद तक संघर्ष और त्याग का एक इतिहास रहा है. लेकिन इतना भर काफी नहीं है.

आजसू के लिए गर्व और गौरव का पल तब होगा जब झारखंडी विषयों, जनमानस के अनुरूप राज्य को देश के नक्शे पर उभारने में हम सभी कामयाब हो सकेंगे.

उन्होंने कहा कि आजसू से लोगों की उम्मीदें इसलिए है कि हम विकास की बुनियाद आधारित राजनीति करते हैं, झारखंडी विचारधारा की राजनीति करते हैं. लोगों के दिलों में जगह बनाने की कोशिश करते हैं. इसी का परिणाम है कि इस साल के लोकसभा चुनाव में पार्टी को खुशी के साथ सफलता मिली है.

आजसू पार्टी राज्य से निकलकर राष्ट्रीय स्तर पर झारखंड की बात पहुंचाने के काबिल बन सकी है. जाहिर है ये जिम्मेदारी हम सबों को लिए अहम है. इसलिए यह संकल्प भी मजबूती के साथ लें कि जनमत का सम्मान करते रहेंगे.

श्री महतो ने कहा कि वे हमेशा से इन बातों के हिमायती रहे हैं कि हर एक कार्यकर्ता नेतृत्व करने की क्षमता रखे. कार्यकर्ता जब लीडर बनता है, तो संकल्प निखर कर साकार होते हैं.

संकल्प सभा के जरिए जनता के सवालों पर संघर्ष जारी रखने, क्षेत्रीय और जमीनी विषयों तथा मुद्दों पर सरकार का ध्यान खींचते रहने तथा झारखंडी जनमानस के अनुरूप समस्य़ाओं के समाधान के लिए रास्ते तलाशने का संकल्प लिया गया. साथ ही पार्टी की एकजुटता बनाए रखने के लिए आपस में विचारों का आदान प्रदान किया गया.

उधर रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र में आयोजित संकल्प सभा में पार्टी के सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी ने कहा कि आज का दिन हमारे लिए गौरव का है. पार्टी का झंडा लहराता रहे, इसके लिए टीम भावना से काम करने की जरूरत है.

चंद्रप्रकाश नेसंघर्ष के रास्ते चलकर आजसू ने झारखंड में सामाजिक और राजनीतिक पटल पर अपनी अलग पहचान बनाई है. स्थापना दिवस एक मौका होता है जब हम साल भर जनता की उम्मीदों के साथ चलने और उनके सवालों के समाधान के लिए संकल्प लेते हैं. ये संकल्प कमजोर नहीं पड़ें, इसका भी ख्याल रखना जाना चाहिए. उन्होंने कार्यकर्ताओं को बधाई दी.

जुगसलाई में आजसू के विधायक और झारखंड सरकार के मंत्री रामचंद्र सहिस ने कहा कि झारखंड अलग राज्य की लड़ाई में आजसू ने बहुत कुर्बानी दी है. और अब अलग राज्य के सपने साकार करने में पार्टी सकारात्मक भूमिका अदा कर रही है. उन्होंने कहा कि स्थापना दिवस हर साल मनाए जाते रहे हैं. लेकिन कई मोड़ आते हैं जब उसका वक्त बेहद अहम होता है. अगले कुछ ही महीनों बाद विधानसभा का चुनाव है। इसलिए कार्यकर्ता इसका भी संकल्प लें कि पार्टी अपनी नीति सिद्धांत के अनुरूप जनता के बीच विश्वास बढ़ायेगी. उन्होंने कहा कि कुशल नेतृत्व और कार्यकर्ताओं की मेहनत की नतीजा है कि दिल्ली की राजनीति में आजसू की पहचान बढ़ी है.

राज्य भर में सांसद, मंत्री, विधायक एवं पार्टी पदाधिकारियों ने संकल्प सभा में शिरकत की

संकल्प दिवस के मौके पर विधायक राजकिशोर महतो टुंडी में, पूर्व मंत्री उमाकांत रजक चंदनकियारी में, लंबोदर महतो गोमिया में, रौशनलाल चौधरी बड़कागांव में, चक्रधरपुर में सिद्धार्थ महतो एवं रामलाल मुण्डा, मंटू महतो सिंदरी में, डॉ देवशरण भगत खिजरी में, राजेंद्र मेहता कांके में, हटिया में हसन अंसारी एवं भरत काशी, ललित ओझा, हरिश कुमार, ज्ञान सिन्हा, गौतम सिंह रांची में, मनोज चंद्रा सिमरिया में, में शामिल हुए.

आजसू पार्टी की इस बार लोकसभा में भी भागीदारी हुई है. लिहाजा राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी अपनी पहुंच और पकड़ को और कैसे आगे ले जा सके, इसके लिए भी विचार विमर्श किया गया.

संकल्प सभा के जरिए ही आजसू राज्य में सकारात्मक और समेकित विकास में अपनी मौजूदगी को विशेष बनाए रखने के लिए चर्चा की गयी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More