Take a fresh look at your lifestyle.

जबीर मोती लंदन में गिरफ्तार, दाऊद इब्राहिम का संभालता था डी कंपनी

दाऊद के कई राज उजागर हो सकेंगेे

0 18

#London / New Delhi: 1993 मुंबई बम धमाकों के गुनहगार अंडरवर्ल्डह डॉन दाऊद इब्राहिम का करीबी और दायां हाथ जबीर मोती लंदन में गिरफ्तार किया गया है. जानकारी के मुताबिक उसे लंदन की चारिंग क्रॉस पुलिस ने शुक्रवार को हिल्टैन होटल से गिरफ्तार किया है. उसकी गिरफ्तारी से भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को बड़ी सफलता मिली है.

डी कंपनी और दाऊद से जुड़े होंगे खुलासे

माना जा रहा है कि जबीर से पूछताछ में डी कंपनी के संबंध में गहराई से जानकारी मिल सकेगी और दाऊद के कई राज उजागर हो सकेंगेे. ब्रिटेन की एजेंसियां उससे वहां पर होने वाली वारदातों में डी कंपनी के शामिल होने संबंधी और ब्रिटेन में उसकी कार्यप्रणाली संबंधी जानकारी भी लेने का प्रयास करेंगी.

जबीर मोती संभालता था दाऊद इब्राहिम का डी कंपनी

जबीर मोती दाऊद इब्राहिम की डी कंपनी का वित्ती य कामकाज संभालता है. वही इसका इंचार्ज है. लंदन पुलिस को यह सफलता जबीर मोती के दाऊद इब्राहिम, उसकी पत्नीक और कराची व दुबई में रहने वाले उसके रिश्तेमदारों के बीच वित्तीिय लेनदेन संबंधी मामलों की जांच के दौरान मिली.

पाकिस्‍तानी नागरिक है जबीर मोती

जबीर पाकिस्ताीन का नागरिक है और दस साल के वीजा पर वह ब्रिटेन आया था. जबीर दाऊद का खास गुर्गा है. वह दाऊद की पत्नी महजबीं, उसके बेटे मोइन नवाज, उसकी दो बेटियों महरूक और महरीन, उसके दामाद जुनैद और औरंगजेब के आर्थिक कामकाज संभालता था. पाकिस्ताान, खाड़ी देशों, ब्रिटेन, यूरोप और दक्षिण एशियाई देशों में फैले दाऊद इब्राहिम के काले कारोबार को जबीर ही संभालता था.

ब्रिटिश जांच एजेंसिंयों की गिरफ्त में दाऊद का गुर्गा

सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि दाऊद के सभी काले कारोबार से होने वाली कमाई को आतंकियों की मदद के लिए इस्तेमाल किया जाता है. यह भी बताया जा रहा है कि दाऊद के परिवार को ब्रिटेन में बसाने संबंधी विकल्पज में जबीर मुख्यह भूमिका में है. कराची में दाऊद के परिवार के आधिपत्ये वाली संपत्ति में जबीर की खुद की भी प्रॉपर्टी है.

हाल ही में जबीर मोती ने बारबाडोस, एंटिगुआ, डोमिनियन रिपब्लिक में दोहरी नागरिकता पाने और हंगरी में स्थासयी रेजिडेंट स्टेदटस पाने की भी कोशिश की थी. वहीं दाऊद इब्राहिम 1993 में मुंबई में हुए बम धमाकों को मुख्ये आरोपी है. इन धमाकों में करीब 250 लोगों की मौत हुई थी. दाऊद को स्पेकशल डेजिग्नेपटेड इंटरनेशनल टेररिस्ट (SDGT) घोषित किया गया है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.