Take a fresh look at your lifestyle.

चंद्रयान 3 मिशन को इसरो 2021 में करेगा पूरा, पीएमओ के राज्‍यमंत्री ने महत्‍वपूर्ण जानकारी

0 20

New Delhi: भारत चंद्रयान 3 मिशन (Chandrayaan 3 Mission) को पूरा करने की तैयारी कर रहा है. इसे अगले साल 2021 के पहले 6 माह के अंदर पूरा करने की तैयारी की जा रही है. चंद्रयान 3 में डिजाइन, क्षमता समेत कई खास बातों पर जोर दिया जा रहा है. जैसा कि सभी जानते हैं भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) पिछले साल यानि 2019 में चंद्रयान 2 का प्रक्षेपन किया था. इस मिशन में विक्रम लैंडर चांद की सतह पर उतरने से पहले संपर्क टूट गया था.

लैंडर और रोवर से संपर्क टूटने के कारण मिशन अपने सभी उद्देश्यों को तो हासिल नहीं कर सका. फिर भी इसने भारत के अंतरिक्ष विज्ञान और तकनीक के इतिहास में एक नया अध्याय जोड़ने का काम किया. ISRO ने बताया था कि मिशन की 90 से 95 फीसदी प्रक्रिया को सफलतापूर्वक पूरा किया गया.

इस दौरान कई नई तकनीकों के सफल परीक्षण के साथ उनके बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां हासिल हुईं और इस मिशन का एक अहम हिस्सा- ऑर्बिटर अब भी सामान्य ढंग से काम कर रहा है. यह चांद को और ज्यादा समझने में वैज्ञानिकों की मदद करेगा.

राज्यमंत्री ने लोकसभा में दी चंद्रयान 3 से जुड़ी जानकारी

पीएमओ में राज्यमंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह ने लोकसभा में चंद्रयान 3 से जुड़ी जानकारी दी. रविकुमार डी. के सवाल के लिखित जवाब में डा. जितेन्द्र सिंह ने बताया कि चंद्रयान-3 की तैयारी इससे पहले प्रक्षेपित चंद्रयान-2 से सबक लेते हुए की गई है.

एक अन्य सवाल के जवाब में सिंह ने बताया कि इसरो ने युवा वैज्ञानिकों के लिए एक कार्यक्रम की शुरूआत की गई है. मंत्री ने बताया, ‘इसरो वर्ष 2019 से सरकारी स्कूलों के छात्रों के लिए युवा विज्ञानी कार्यक्रम- युविका नामक एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है.’

राज्य मंत्री ने कहा कि प्रत्येक राज्य /केंद्रशासित प्रदेश से 9वीं कक्षा में पढ़ने वाले 3 छात्रों का ऑनलाइन पंजीकरण के माध्यम से इस कार्यक्रम के लिये चयन किया जाता है. यह दो सप्ताह का कार्यक्रम है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.