Take a fresh look at your lifestyle.

अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस के बारे में जानें ये जरूरी बातें

0 39

New Delhi: अंतरराष्‍ट्रीय नर्स दिवस हर साल 12 मई को मनाया जाता है. यह दिवस मुख्य रूप से विश्वभर की नर्सेज के सम्मान में मनाया जाता है. दरअसल, नर्सेज विश्वभर में अलग-अलग बीमारियों से पीड़ित लोगों की मदद करती हैं. मरीजों की सुविधाओं के लिए ही नर्स काम करती हैं ताकि वो उनकी उचित देखभाल कर सकें.

नर्सों को बीमार व्यक्ति के बारे में हर प्रकार की जानकारी रखनी पड़ती है और इसके बाद मरीजों की शारीरिक स्थितियों को देखते हुए वो उनके इलाज में मदद करनी पड़ती हैं. दुनिया भर में फैली कोरोनावायरस महामारी के इस दौर में नर्सों की भूमिका और भी बड़ी हो गई है.

नर्सें दिन-रात काम करती हैं. नर्स, मरीजों को दी जाने वाली हर प्रकार की सुविधाओं और सेवाओं का खयाल रखती हैं. नर्सें, मरीजों को जल्दी ठीक करने और उनकी हर तरह से देखभाल करने का काम करती हैं. 12 मई को नर्स दिवस इसके संस्थापक के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है, जिन्हें नाइटिंगेल ऑफ फ्लोरेंस (Nightingale of Florence) कहा जाता है. 

कैसे हुई अंतरराष्ट्रिय नर्स दिवस की शुरुआत

दरअसल, नाइटिंगेल ऑफ फ्लोरेंस, मॉर्डन नर्सिंग की फाउंडर थीं. उन्होंने क्रीमिया के युद्ध के दौरान कई महिलाओं को नर्स की ट्रेनिंग दी थी और कई सैनिकों का इलाज भी किया था. उन्होंने नर्सिंग को एक पेशा बनाया और वह विक्टोरियन संस्कृति की एक आइकन बनीं. विशेष रूप से वह “लेडी विद द लैंप” (Lady With the Lamp) के नाम से जानी गईं क्योंकि वह रात के वक्त कई सैनिकों का इलाज किया करती थीं. 

इसके बाद 1860 में, नाइटिंगेल ने लंदन में सेंट थॉमस अस्पताल में अपने नर्सिंग स्कूल की स्थापना के साथ पेशेवर नर्सिंग की नींव रखी थी. यह दुनिया का पहला नर्सिंग स्कूल था, जो अब लंदन के किंग्‍स कॉलेज का हिस्सा है. नर्सिंग में अपने अग्रणी कार्य के कारण पहचान बनाने वाली फ्लोरेंस के नाम पर ही नई नर्सों द्वारा नाइटिंगेल प्लेज ली जाती है. नर्स के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फ्लोरेंस नाइटिंगेल मेडल ही सबसे उच्च प्रतिष्ठत है. दुनिया भर में अंतरराष्‍ट्रीय नर्स दिवस फ्लोरेंस के जन्मदिन पर मनाया जाता है.

जनवरी 1974 में फ्लोरेंस नाइटिंगेल की याद में 12 मई को अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस मनाए जाने का प्रस्ताव यूएस में पारित हुआ था. हालांकि, इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ नर्स (ICN) 1965 से अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस मनाता आ रहा है. हर साल इस मौके पर ICN अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस किट वितरित करता है. इस किट में आम लोगों की जानकारी के लिए कुछ किताबें होती हैं, जिन्हें सब देशों की नर्सों द्वारा इस्तेमाल किया जाता है. 

अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस 2020 की थीम

ICN की वेबसाइट के मुताबिक, इस साल नर्स दिवस की थीम ”विश्व स्वास्थ्य के लिए नर्सिंग है.” यह नर्सों और जनता को अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस मनाने के लिए प्रोत्साहित करेगा. साथ ही यह लोगों को इसके प्रति जागरूक भी करेगा ताकि आने वाली पीढ़ी नर्स परिवार का एक हिस्सा बनने के लिए प्रोत्साहित हों.

यहां आपको बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा पहले ही 2020 को नर्सों और मिड वाइव्ज के नाम कर दिया गया है. दरअसल, विश्वभर के कई देशों में फैले कोरोनावायरस के कारण लगातार अपनी ड्यूटी कर रहीं नर्स और मिडवाइव्ज को देखते हुए यह साल उनके नाम किया गया है. 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.