इंटरनेशनल एथलीट फ्लोरेंस बारला के पास नहीं है शौचालय सुविधा, रोटरी रांची साउथ ने उठाया सहयोग का बीड़ा

by

Ranchi: रोटरी रांची साउथ के अध्यक्ष रथीन भद्रा ने इंटरनॅशनल एथेलीट फ्लोरेंस बरला (जो कि गोल्ड मेडलिस्ट है इंटरनेशनल मीट का और झारखंड की एक मात्र महिला रनिंग में भारत को दो गोल्ड मेडल इंटरनेशनल मिट में दिलाया) की परेशानियों के बारे में समाज सेवक सुवेन्दु भट्टा दा के कहने पर संज्ञान लेते हुए फ्लोरेंस बारला को खाद्य सामग्री रोटरी रांची साउथ के तरफ से दिया गया.

उनके खाने पीने की दिक्कत को दूर करते हुए रोटरी रांची साउथ ने 25 किलो चावल, 15 किलो दो तरह के डाल, 10 किलो चना, 5 किलो गुड़ तथा 5 लीटर सरसो तेल दे कर उनके दो महीने का खाने का व्यवस्था कर दिया गया और रोटरी इंटरनेशनल डिस्ट्रिक्ट 3250 के जोन 16 के अस्सिस्टेंट गवर्नर रोटेरियन मुकेश तनेजा ने फ्लोरेंस बारला और उनके कोच भाटिया को आश्‍वस्‍त किया कि और भी कोई भी दिक्कत हो तो वे बेझिजक रोटरी से संपर्क कर सकते है.

Read Also  डोर स्टेप डिलीवरी द्वारा की जाएगी मजदूरी, 15 अगस्त से पहले मजदूरों को मिलेगा बकाया भुगतान: संतोष सोनी

रोटेरियन डॉ सुभाष कुमार (प्रिंसिपल टौरिण वर्ल्ड स्कूल) ने फ्लोरेंस बारला को रोटरी रांची साउथ के तरफ से स्मृति चिन्ह दे कर सम्मानित किया और भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी तथा फूल के हैंगिंग गमले फूल के साथ उपाध्यक्ष रोटेरियन सुमित दास और रोटेरियन स्पाउस पिंकी तिग्गा (डायरेक्टर ओररायन्स स्कूल) ने फ्लोरेन्स को शुभकामनाएं दी.

शौचालय निर्माण के लिए फ्लोरेंस बारला को 11 हजार रुपये एडवांस

फ्लोरेंस बारला और उनकी बहन आशा बारला के पैतृक आवास गुमला के गांव में है और उनकी स्थिति ठीक नहीं है. ये बड़ी ही विडंबना है कि भारत को गोल्ड दिलाने वाली और नेशनल रेकॉर्ड होल्डर इतने बेहतरीन झारखंड के प्रतिभाओ के घर पर एक शौचालय भी नही हैं और उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. इस बात की भी संज्ञान लेते हुए रोटरी रांची साउथ के अध्यक्ष रथीन भद्रा जी ने सभी मेंबर्स के अनुमति से और अस्सिस्टेंट गवर्नर मुकेश तनेजा जी के परमिशन से फ्लोरेंस बारला और आशा बारला के पैतृक आवास में रोटरी के तरफ से शौचालय बनाने का प्रस्ताव रखा और सभी मौजूद रोटेरियन ने इसे एक सुर में तुंरत पास किया. साथ ही 11000/- की एक अग्रिम राशि शौचालय निर्माण के लिए देने का ऐलान किया.

Read Also  हड़िया-दारू निर्माण और बिक्री छोड़ अलग व्यवसाय अपना रहीं आदिवासी महिलाएं

वहीं सुवेन्दु भटा ने भी शौचालय निर्माण में अपना पर्सनल कॉन्ट्रिब्यूशन देने का ऐलान किया. सुभेन्दु भट्ट जी के सर्विस above सेल्फ के जस्बे को देखते हुए रोटेरियन रथीन भद्रा ने सभी मेंबर्स की अनुमति लेते हुए सुवेन्दु भट्टा जी को रोटरी का मपेल पिन असिस्टेंट गवर्नर द्वारा पहना कर रोटरी रांची साउथ का मेंबर बनाया गया.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.