Take a fresh look at your lifestyle.

आंधी-तूफान से देशभर में 35 मौतें, बिहार में मौसम विभाग ने जारी किया रेड अलर्ट

Support Journalism
0 27

New Delhi: देशभर में मंगलवार को मौसम अचानक बदल गया. गुजरात, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, राजस्थान, झारखंड, हिमाचल, हरियाणा, नई दिल्ली में बारिश, आंधी और बिजली गिरने से 35 लोगों की मौत हो गई. वहीं 40 लोग घायल हुए हैं.

बिहार के लिए जारी रेड अलर्ट

मौसम विभाग ने बिहार के लिए रेड अलर्ट जारी किया है.  जारी अलर्ट में 20 साल बाद भारी तूफान की संभावना जताई गयी है. 16 और 17 अप्रैल के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है. जो एडवाइजरी जारी की गई है, उसके अनुसार लोगों को आंधी-तूफान के दौरान सुरक्षित स्थान पर रहने की सलाह दी गई है. वज्रपात, ओलापात, 60 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा बहने की आशंका जताई जा रही है. राज्य के सीमावर्ती जिले पूर्वी चंपारण, पश्चमी चंपारण समेत पूरे राज्य के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है.

वहीं तूफान का ज्यादा असर गुजरात, राजस्थान और मध्यप्रदेश पर पड़ा है. 32 मौतें इन तीन राज्यों में हुई हैं. बारिश से इन राज्यों में तापमान 40 डिग्री से कम हो गया है. मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक बुधवार और गुरुवार को भी मौसम ऐसा ही रहने का अनुमान है.

गुजरात: 11 लोगों की मौत

गुजरात में 11 लोगों की मौत हो गई. राज्य के 33 में से 18 जिलों में बारिश हुई. पाटण, राजकोट, अरावल्ली, बनासकांठा, महेसाणा, अहमदाबाद, गांधीनगर, सुरेन्द्रनगर, मोरबी जिलों के विभिन्न हिस्सों में अचानक मौसम बदल गया. सबसे अधिक तीन मौतें महेसाणा में हुई हैं, जबकि दो-दो बनासकांठा और मोरबी जिलों में हुई. राजकोट के खाखराबेला में पेड़ गिरने से एक महिला की और साबरकांठा के चिंधमाल में बिजली का खंभा गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई।

मध्यप्रदेश: 14 लोगों की मौत

मध्य प्रदेश में 14 लोगों की मौत हो गई. इनमें बिजली गिरने से मारे गए 13 लोग हैं. इंदौर के हातोद में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हुई. बारिश से मंडियों में रखा सैकड़ों क्विंटल गेहूं और लहसुन भीग गया.

राजस्थान: 7 लोगों की मौत

राजस्थान में 7 लोगों की मौत हो गई. जबकि 20 लोग घायल हो गए. यहां 70 किमी की रफ्तार से धूल भरी हवाएं चलीं. सबसे ज्यादा नुकसान झालावाड़ में हुआ. उदयपुर में सबसे ज्यादा 26.5 मिमी बारिश हुई.

73वें स्‍वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं
प्रेम शाही मुंडा, केंद्रीय अध्‍यक्ष, आदिवासी जन परिषद

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.