पंडित रामा कृष्णा कैसे साबित करेंगे अपनी बेगुनाही और विजयनगर को बिकने से बचाएंगे?

by

मुश्किलों ने एक बार फिर से रामा का दरवाजे पर दस्‍तक दी है। चतुर पंडित रामा कृष्णा (कृष्णा भारद्वाज) पर राजा कृष्णदेवराय (तरुण खन्ना) की अनुमति के बिना विजयनगर के एक हिस्से को हिमडोंग के राजा (सत्यजीत गांवकर) को बेचने और गद्दारी करने का आरोप है। सोनी सब का शो ‘तेनाली रामा’ अपने दर्शकों का ध्यान खींचने के लिए तैयार है क्योंकि उनके अत्यधिक प्रशंसनीय किरदार को अब एक और चुनौती का सामना करना पड़ेगा, लेकिन इस बार गद्दारी करने के आरोपों के साथ। आगे के एपिसोड्स में दर्शकों के सामने कई चौंकाने वाले खुलासे होंगे क्योंकि शो को उसकी मजबूत कहानी और रामा की चतुराई व बुद्धिमता के लिए लगातार सहयोग और ढ़ेर सारा प्यार मिलता रहा है।

विजयनगर दरबार में स्थितियां तब चौंकाने वाला मोड़ लेती हैं जब कृष्णदेवराय को रामा के विश्वासघात के बारे में पता लगता है। हिमडोंग के राजा ने सभी को यह सूचित किया कि वह विजयनगर के एक हिस्से के असली मालिक हैं क्योंकि पंडित रामा कृष्णा ने उन्हें अतीत में यह ज़मीन बेची थी। क्रोधित कृष्णदेवराय ने रामा से 7 दिनों में अपनी बेगुनाही साबित करने की मांग की क्योंकि हर सबूत उनके खिलाफ है।

बदले में अपनी बुध्दि का उपयोग करते हुए, रामा ने सभी को उस विवादित भूमि पर बुलाया। रामा विजयनगर के पूरे साम्राज्य को बेचने के लिए सहमत है लेकिन सिर्फ एक शर्त पर। शर्त यह थी कि हिमडोंग राजा को विजयनगर को अपने पैरों के नीचे की थोड़ी जमीन देनी होगी। ऐसे में हिमडोंग के राजा जहां भी जाते हैं, विजयनगर के लिए भूमि इकट्ठा होती जाती।

रामा की चाल को समझने के बाद क्रोध से भरे हुए हिमडोंग का शासक विजयनगर में मच्छर भगाने के तेल की आपूर्ति में दिक्कतें उत्पन्न करना शुरू कर देता है। जिसकी वजह से राज्य के सभी नागरिकों को मच्छरों के गंभीर संक्रमण का सामना करना पड़ता है जिससे कई बीमारियां हो सकती हैं।

पंडित रामा कृष्णा विजयनगर में मच्छरों के खतरे से बचने का हल कैसे ढूंढेंगे?

पंडित रामा कृष्णा की भूमिका निभाने वाले कृष्णा भारद्वाज ने कहा, “पंडित रामा कृष्णा के सामने अब तक की सबसे चुनौतीपूर्ण स्थिति होगी। विश्वासघात का आरोप लगने के बाद, अब राज्य को एक बड़ी बीमारी के प्रकोप से बचाने के लिए उसके सामने चुनौती है। जबकि रामा को उसकी बुद्धिमता और चतुराई का इस्तेमाल करके किसी भी स्थिति से निपटने के लिए जाना जाता है। यह देखना काफी रोमांचक होगा कि विजयनगर में मच्‍छर भगाने वाले तेल के बिना मच्छरों को मारने के लिए वे क्या-क्या करते हैं। हिमडोंग के राजा लगातार विजयनगर के खिलाफ साजिश रच रहे हैं और केवल आगे के एपिसोड से पता चलेगा कि रामा कैसे उन्हें रोकने की योजना बनाते हैं। देखते रहिए ‘तेनाली रामा’ और बन जाइए उनकी रोमांचक और मजेदार कहानियों के साक्षी।”

अधिक जानने के लिए, देखते रहिए ‘तेनाली रामा’ हर सोमवार से शुक्रवार, रात 7:30 बजे, सिर्फ सोनी सब पर

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.