कैसे करें लॉकडाउन में वाहनों के ई-पास के लिए आवेदन, मोबाइल से अप्‍लाई करने का आसान तरीका

by

Ranchi: कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर रांची जिला प्रशासन द्वारा पूरे जिलाभर में लॉकडाउन की घोषणा के साथ ही धारा 144 लागू कर दी गई है. इस दौरान लोगों को किसी भी तरह की परेशानी ना हो, सभी आवश्यक सेवाएं जारी रहें इस पर पहल करते हुए रांची जिला प्रशासन द्वारा ई-पास सेवा की शुरुआत की गई है. इसके लिए एक एप्प भी जारी किया गया है. इस एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है और जरूरी वाहन पास के लिए आवेदन किया जा सकता है. जिसके बाद संबंधित पदाधिकारी द्वारा वहीं ऑनलाइन अप्रूवल देकर पास जारी कर दिया जाएगा.

कौन कर सकता है पास के लिए आवेदन

पास आवेदन का अप्रूवल सिर्फ उन्हीं लोगों को दिया जाएगा जो या तो आवश्यक सेवा में हैं या फिर किसी आपातकालीन सेवा में हैं. अलग-अलग सेवाओं के लिए अलग-अलग रंगों का पास जारी किया जाएगा. पास आवेदन के लिए इंडस्ट्री/मैन्यूफेक्चर, डोर टू डोर, होलसेल/रिटेल, निजी क्षेत्र, आवश्यक सरकारी सेवा, मेडिकल सेवा एवं अन्य आपातकालीन जरूरत के लिए लोग योग्य हैं.

Read Also  बाइक एंबुलेंस की शुरूआत, मरीजों को मिलेगी आपात चिकित्‍सा सहायता

इसे भी पढ़ें: लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ जरूरतमंदों को भोजन करा रही हैं महिलाएं

वाहनों के ई-पास के लिए कैसे करें आवेदन

स्‍टेप 1– आवेदन करने के लिए कोई जरूरतमंद पहले गूगल प्ले स्टोर के जरिए एप डाउनलोड कर सकते हैं.
स्‍टेप 2– गूगल प्ले स्टोर में जाकर ‘Pragyaam‘ सर्च करें.
स्‍टेप 3– सर्च रिजल्‍ट में ‘Grid by Pragyam‘ सर्च रिजल्ट में दिखाई देगा.
स्‍टेप 4– इसे अपने फोन में डाउनलोड करें.
स्‍टेप 5– इसके बाद एप को खोल कर झारखण्ड ई पास पर क्लिक करें.
स्‍टेप 6– इसके साथ ही लॉगइन डिटेल भर कर एप में लॉगइन किया जा सकता है.
स्‍टेप 7– इसके बाद ‘व्हीकल ई पास’ पर क्लिक करें.
स्‍टेप 8– अब दाहिनी ओर दिख रहे नीले रंग के + बटन पर क्लिक करें.
स्‍टेप 9– पूरे फॉर्म को भरें.
स्‍टेप 10– ओटीपी को भरें
स्‍टेप 11– इसके बाद आपके पास एसएमएस के जरिए आपको आपका पास लिंक के जरिए एसएमएस पर भेज दिया जाएगा.
स्‍टेप 12– यह पास ई फॉर्मेट में वैलिड है. इसके साथ आपको अपना एक वैलिड आईडी कार्ड भी दिखाना होगा.

Read Also  घर से बाहर बिना ईपास निकले तो देना होगा जुर्माना

तस्‍वीरों में पूरी जानकारी, क्लिक करें

कैसे करेंगे अधिकारी जांच

जांच के दौरान आप या तो पास का प्रिंट आउट या ई पास दिखा सकते हैं. इसके बाद आपसे आईडी कार्ड मांगा जाएगा. आईडी कार्ड के बाद, आपके ई-पास नम्बर को जांचकर्ता अधिकारी संबंधित एप्प के जरिए आपके पास नम्बर का मिलान करेंगे. इसमें पास धारक का नाम और मोबाइल नम्बर का मिलान किया जाएगा. किसी भी तरह की अनियमितता या फेक पास दिखाने पर आपके खिलाफ़ सुसंगत धाराओं के तहत जरूरी कानूनी कार्रवाई की जा सकती है.

इसे भी पढ़ें: निजी स्‍कूलों में फीस माफी का आदेश जारी करेगी झारखंड सरकार

पास अप्रूवल हेतु विभिन्न जिला स्तरीय पदधिकारियों को अलग-अलग केटेगरी में पास अप्रूवल की कमान सौंपी गई है. उपायुक्त रांची राय महिमापत रे ने कहा कि, “आमजनों को हर संभव हर जरूरी सामान उपलब्ध कराने हेतु ई-पास सिस्टम जारी किया गया है. इसके तहत एसेंशियल सेवा में लगी गाड़ियों जैसे, राशन का सामान लाने ले जाने के लिए इस्तेमाल होने वाले वाहन, दवाइयां पहुंचाने वाले वाहन, मेडिकल सेवा सहित अन्य जरूरी सेवाओं में लगी वाहनों के लिए इस एप के जरिये पास जारी किया जाएगा.”

Read Also  झारखंड लॉकडाउन ई-पास बनाने में प्राइवेसी सुरक्षित नहीं, तकनीकी कमियों का कोई भी कर सकता है गलत इस्‍तेमाल

इसे भी पढ़ें: श्रमिकों को बिना कटौती के वेतन देने व हाउस रेंट माफी का निर्देश

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.