जेपीएससी छात्रों से हेमंत सोरेन बोले- छठी परीक्षा की बीमारी जड़ से दूर कर देंगे

जेपीएससी छात्रों से हेमंत सोरेन बोले- 5वीं व छठी परीक्षा की बीमारी जड़ से दूर कर देंगे

Ranchi: झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने जेपीएससी की गड़बडियों से परेशान छात्रों को आश्‍वासन दिया है. जेपीएसएसी छात्रों से मिलने के दौरान मुख्‍यमंत्री ने आश्‍वासन कि जेपीएससी की गड़बडियों का इतिहास-भूगोल जानता हूं. जड़ से दूर कर देंगे बीमारी. उन्‍होंने छात्रों से कहा कि दो-चार दिनों में मंत्रिमंडल का गठन हो जाएगा. उसके बाद जेपीएससी की समस्‍या का निदान होगा.

छठी जेपीएससी परीक्षा रद्द करने की मांग

इसके पहले जेपीएससी छात्र रांची के मोराबादी स्थित बापू वाटिका के समक्ष अनिश्चित समय के लिए सत्‍याग्रह शुरू किया था. यहां छात्र लगातार तीन दिनों तक अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठे रहे. छात्रों की मांग है कि हेमंत सरकार अपना वादा को पूरा करें व तत्काल जेपीएससी परीक्षा को रद्द करें. नये सिरे से छठी को विज्ञापन के अनुसार व आरक्षण के साथ फिर से प्रारंभिक परीक्षा स्वच्छ वातावरण मे आयोजित करवाया जाये. छात्रों ने जेपीएससी को पीटी में 15 गुना आरक्षण की मांग भी की है.

Read Also  रामकुमार दीपक बने जीडीएस संघ के प्रमंडलीय सचिव

उमेश प्रसाद के नेतृत्व में छठी जेपीएससी के संदर्भ में मुख्यमंत्री के सकरात्मक आश्वासन के पश्चात सत्याग्रह को विराम दिया गया.

हेमंत सोरेन छात्रों से पहले भी कर चुके हैं वादा

जेपीएससी गड़बडी के खिलाफ भुक्‍तभोगी छात्र न्‍याय के लिए लंबे समय से आंदोलन करते आ रहे हैं. जब हेमंत सोरेन प्रतिपक्ष के नेता थे तब वे 12 मार्च 2016 को राजभवन के समक्ष आंदोलन कर रहे छात्रों का अनशन खत्‍म कराया था. अनशन पर बैठे सफी इमाम को नारियल पानी पिला कर अनशन तुड़वाया था. तब हेमंत सोरेन ने आश्‍वासन देते हुए कहा था- हिम्‍मत नहीं हारें. सच्‍चाई की जीत होगी. जेपीएससी के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़नी है.

हेमंत सोरेन ने की थी सीबीआई जांच की मांग

प्रतिपक्ष का नेता रहते हेमंत सोरेन ने छात्रों से कहा था कि जेपीएससी पांचवीं सिविल परीक्षा रद्द कर सीबीआई जांच करायी जाये.

Read Also  JAP-8 में फायरिंग के दौरान IRB का एक जवान घायल

मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन के मुलाकात कर जेपीएससी परीक्षा की गड़बडियो की बात रखने वालों में अभ्यर्थी में इमाम सफी, गुलाम हुसैन, रीना कुमारी, उमेश, सुमन अन्य कई सत्याग्रही मौजुद रहे. मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात के बाद इमाम सफी ने कहा कि मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने जो वादा 4 साल पहले किया था, अब व निभाएं. साथ ही उन्‍होंने कहा है कि सरकार द्वारा 30 दिनों के अंदर जेपीएससी परीक्षाओं पर फैसला नहीं लिया गया तो फिर से आमरण अनशन के जरिए आंदोलन किया जाएगा.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top
रांची के TOP Selfie Pandal लव राशिफल: 3 अक्‍टूबर 2022 India की सबसे सस्‍ती EV Car लव राशिफल: 2 अक्‍टूबर 2022 नोट पर गांधीजी कब से?