प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गाली देने वाले की पिटाई के खिलाफ हेमंत सोरेन के निर्देश पर 10 बीजेपी कार्यकर्ता गिरफ्तार

by

Ranchi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गाली देने वाले की पिटाई करना भाजपा कार्यकर्ताओं को महंगा पड़ गया. ट्विटर पर शिकायत दर्ज करने के फौरन बाद मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने सक्रियता दिखाई. उन्‍होंने मामले पर धनबाद डीसी और झारखंड पुलिस को कार्रवाई करने का निर्देश दिया. हेमंत सोरेन के निर्देश के चंद घंटे के भीतर भाजपा के 8-10 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया. दरअसल एक युवक ने सीएम हेमंत सारेन को ट्वीटकर बताया कि इस ट्वीट पर सीएम हेमंत सोरेन को बताया गया कि मुस्लिम युवक को बीच सड़क पर धरना पर बैठे कार्यकर्ताओं ने पीटा. सड़क पर थूक कर चाटने को कहा और मुस्लिम युवक से जय श्री राम का नारा जबरन लगवाया गया.

Read Also  Guruji Student Credit Card से बिना गारंटर 10 लाख तक Education Loan

आइए बताते हैं क्‍या है पूरा मामला.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा पर चूक मामले के खिलाफ धनबाद में बीजेपी का मौन धरना कार्यक्रम चल रहा था. वहीं पर एक शख्‍स आ धमका. उसने भाजपा नेताओं के सामने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी के प्रदेश अध्‍यक्ष दीपक प्रकाश का नाम लेकर गालियां बकने लगा. इस पूरे घटनाक्रम का एक वीडियो रिकॉर्ड कर संजय कुमार श्रीवास्‍तव नाम के ट्वीटर यूजर ने सीएम हेमंत सोरेन और धनबाद पुलिस को टैग करते हुए ट्वीट कर दिया.  

बताया जाता है कि पीएम मोदी और बीजेपी अध्‍यक्ष को गालियां देने वाले इस शख्‍स की भाजपा कार्यकर्ताओं ने जम कर पिटाई कर दी. कहा जाता है कि उसे थूककर चटवाया गया और जय श्री राम के नारे लगवाए गए. इस पूरे घटनाक्रम के दौरान सांसद पीएन सिंह, विधायक राज सिन्‍हा समेत भाजपा के कई पदाधिकारी मौजूद थे.

Read Also  Guruji Student Credit Card से बिना गारंटर 10 लाख तक Education Loan

ट्वीट के जरिए मामले की जानकारी मिलते ही सीएम हेमंत सोरेन तुरंत एक्टिव हो गए. उन्‍होने धनबाद के डीसी और पुलिस को र्कावाई करने का निर्देश दिया. सीएम के निर्देश के बाद धनबाद की पुलिस ने भाजपा के जयंत चौधरी, बबलू सहाय, तमाल राय, जितेंद्र साव, पिंटू सिंह समेत 10 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है.

सीएम की कार्रवाई एकतरफा: भाजपा

बीजेपी के धनबाद जिलाध्‍यक्ष चंद्रशेखर सिंह ने पूरे मामले को साजिश बताया है. उन्‍होने कहा है कि पूरे मामले की जांच होनी चाहिए. सीएम के निर्देश पर हुई कार्रवाई एकतरफा है. हम शांति से मौन धरना दे रहे थे, तो वह आदमी वहां कैसे पहुंचा. उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री और बीजेपी अध्‍यक्ष को गाली कोई वर्कर बर्दाश्‍त नहीं कर सकता है.

Read Also  Guruji Student Credit Card से बिना गारंटर 10 लाख तक Education Loan

इधर कांग्रेस पार्टी के जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी ने भी ट्विटर पर सीएम हेमंत सोरेन से शिकायत की थी. उन्‍होंने सीएम से कहा कि ये है भाजपा का चाल और चरित्र. ये देश को आखिर कहां लेकर जाना चाहते हैं. जल्‍द से जल्‍द कार्रवाई हो और मुजरिमों को कड़ी से कड़ी सजा मिले.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.