पावर फाइनेंस कारपोरेशन को हरियाणा सरकार ने किया सम्मानित

by

Chandigarh: पावर सेक्टर में अग्रणी एनबीएफसी पावर फाइनेंस कारपोरेशन लिमिटेड (पीएफसी) को उसके कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी (CSR) के तहत किये गए सामाजिक सरोकार के कार्यों और कोविड 19 महामारी के दौरान किये गए अनुकरणीय राहत कार्यों के लिए हरियाणा सरकार ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया है.

राजीव चौक, गुरुग्राम के निकट स्थित ताऊ देवी लाल स्टेडियम में हुए गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में हरियाणा के शिक्षा मंत्री कँवर लाल ने पीएफसी को ‘सर्टिफिकेट ऑफ एप्रिसिऐशन’ से सम्मानित किया.

श्री पीके सिंह, डायरेक्टर (कॉमर्शियल) ने कंपनी की ओर से सर्टिफिकेट ऑफ एप्रिसिऐशन स्वीकार किया.

पीएफसी अपने सीएसआर अभियान के जरिये हरियाणा के कई वर्गों और समुदायों के उत्थान के लिए निरंतर प्रयास करता आ रहा है. जिसमें बेरोजगार युवाओं के सशक्तिकरण के लिए चलाये गए रोजगार उन्मुख स्किल ट्रेनिंग प्रोग्राम भी शामिल है. इसके अलावा पीएफसी ने रोटरी अम्बाला कैंसर एंड जनरल हॉस्पिटल (आरएसीजीएच) में फुली इक्विप्ड मोड्यूलर ऑपरेशन  थिएटर स्थापित करने के लिए प्रोजेक्ट मंजूर किया है. साथ ही आर्मी वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन (एडब्ल्यूडब्ल्यूए) के सहयोग से संचालित और अम्बाला, हिसार और पंचकूला में स्थित 3 आशा स्कूलों को 5 केवी क्षमता वाले एसपीवी पावर प्लांट्स को स्थापित करने के लिए एक योजना को हरी झंडी दिखा दी है. अब तक पीएफसी ने अपनी सीएसआर योजनाओं के तहत देशभर में 1142 करोड़ रुपए मंजूर किए हैं.

पीएफसी ने कोविड 19 के फैलाव और महामारी के दौरान हुई मानवीय क्षति की रोकथाम के लिए प्रभावशाली प्रयास किए हैं. पीएम केयर्स फण्ड में 200 करोड़ का योगदान करने के अलावा, पीएफसी ने राम मनोहर लोहिया अस्पताल, नई दिल्ली को मेडिकल उपकरण और सेवाओं जैसे हेल्थ मास्क, सेनिटाइजर्स, मैकेनिकल वेंटीलेटर्स, पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट (पीपीई), एम्बुलेंस और डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ के लिए राशन और फूड पैकेट्स के प्रबंधन और वितरण लिए 6.35 करोड़ की आर्थिक सहायता भी दी है.

पीएफसी ईको-फ्रेंडली तकनीकों, स्वच्छ जल और सेनिटेशन संबंधी सुविधाओं बच्चों की शिक्षा और पोषण, महिला सशक्तिकरण और रोजगार उन्मुख स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग को बढ़ावा देने और इनका लाभ उठाने के उद्देश्य के साथ सक्रिय रूप से देश भर में सीएसआर पहल का संचालन करता रहा है.

Categories Haryana

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.