ग्रैमी पुरस्कार विजेता बने यूनेस्को के ग्लोबल एम्बेसडर फॉर काइंडनेस

New Delhi : यूनेस्को (UNESCO) महात्मा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन फॉर पीस एंड सस्टेनेबल डेवलपमेंट (Mahatma Gandhi Institute Of Education For Peace And Sustainable Development) ने ग्रैमी पुरस्कार (Grammy Award) विजेता रिकी केज को ग्लोबल एम्बेसडर फॉर काइंडनेस (Global Ambassadors for Kindness) नामित किया है. अगले माहीने दिल्ली में यूनिस्को एमजीआईईपी(UNESCO MGIEP)  की वर्ल्ड यूथ कॉन्फ्रेंस (World outh Conference) का आयोजन होने जा रहा है. काइंडनेस एम्बेसडर (Kindness Ambassador)होने के नाते रिकी यहां ग्लोबली कैंपेन (Globally Campaign)  का संदेश देते नजर आएंगे.

काइंडनेस मेटर्स कॉन्सर्ट (Kindness Makers Concert) में रिकी अपनी वैश्विक संगीतकारों की टीम के साथ काइंडनेस मेटर्स एंथम (Kindness Makers Anthem) को लाइव रिलीज करेंगे.

वर्ल्ड यूथ कॉन्फ्रेंस (World Youth Conference) दयालुता को लेकर महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मना रहा है.

रिकी केज ने कहा, “ग्लोबल एम्बेसडर फॉर काइंडनेस(Global Ambassadors for Kindness)  होने के नाते मैं उम्मीद कर रहा हूं कि वैश्विक दयालुता के कृत्यों को उजागर करूं. खास तौर पर युवाओं में”

सस्टेनेबल डेवलपमेंट (Sustainable Development) के उद्देश्यों को लेकर होने वाला कैंपेन काइंडनेस मेटर्स वैश्विक रूप से 2 अक्टूबर 2018 को लॉन्च हुआ था.

शांति और दयालुता की संस्कृति को बढ़ावा देना इसका उद्देश्य है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.