Extra Income: Ideas and Tips for Increasing Your Earnings

Sanchar Sathi: गुम या चोरी मोबाइल ढूंढ निकालेगी सरकार की नई संचार साथी पोर्टल

गुम या चोरी मोबाइल को ढूंढ के निकालेगा सरकार का ये नया संचार साथी पोर्टल

World Telecom Day ‘वर्ल्‍ड टेलिकॉम डे’ 17 मई को है. भारत सरकार देश के मोबाइल यूजर्स के लिए संचार साथी (Sanchar Sathi) पोर्टल शुरू करने जा रही है. www.sancharsathi.gov.in के जरिए खोये हुए या चोरी हुए मोबाइल फोन को ट्रैक और ब्‍लॉक किया जा सकेगा.

भारत सरकार के दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव बुधवार को संचार साथी (CEIR) पोर्टल को ऑफ‍िशियली लॉन्‍च करेंगे. पोर्टल पर उपलब्‍ध जानकारी के अनुसार, इसकी मदद से देशभर के लोग अपने खोए या चोरी हुए मोबाइल फोन को ट्रैक कर पाएंगे. उसे ब्‍लॉक करा सकेंगे.

खास बात यह है कि अगर खोया या चोरी हुआ फोन पोर्टल की मदद से मिल जाता है, तो उसे अनब्‍लॉक कराकर दोबारा इस्‍तेमाल किया जा सकेगा.

संचार साथी पोर्टल के बारे में जानकारी

पोर्टल का नामSanchar Saathi Portal  
लॉन्च किया गयाकेंद्रीय टेलीकॉम मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव द्वारा  
विभागदूरसंचार विभाग भारत सरकार  
लाभार्थीदेश के नागरिक  
उद्देश्यखोए हुए फोन को आसानी से ढूंढने की सुविधा प्रदान करना
साल2023  
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन  
अधिकारिक वेबसाइटhttps://ceir.sancharsaathi.gov.in/  

मोबाइल फोन और नंबर ब्‍लॉक के लिए IMEI जरूरी

संचार साथी पोर्टल (Sanchar Sathi Portal) पर दी गई जानकारी के अनुसार, किसी भी व्‍यक्ति का मोबाइल फोन खो जाए या चोरी हो जाए, तो उसे फोन के IMEI को ब्लॉक करा देना चाहिए. IMEI का मतलब होता है, इंटरनेशनल मोबाइल इक्विपमेंट आइडेंटिटी. यह किसी भी डिवाइस की पहचान करने के लिए एक यूनीक नंबर होता है, जिसमें 15 अंक होते हैं. मोबाइल के पैकेजिंग बॉक्स पर IMEI लिखा होता है. अपने फोन में *#06# डायल करके भी आप IMEI नंबर चेक कर सकते हैं.

चोरी/खोए हुए मोबाइल फोन को कैसे करें ब्‍लॉक

चोरी या खोए हुए मोबाइल फोन को ब्‍लॉक करने के लिए www.sancharsathi.gov.in पर एक ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा. इस फॉर्म को भरने से पहले पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराना जरूरी है. फॉर्म भरने के समय इसकी पुलिस रिपोर्ट की कॉपी अपलोड करनी होती है. साथ ही अपने टेलिकॉम सर्विस प्रोवाइडर से डुप्‍लीकेट सिम भी ले लें, क्‍योंकि IMEI ब्लॉक करने की रिक्‍वेस्‍ट से जुड़ा ओटीपी आपके प्राइमरी मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा.

यहां ध्‍यान रहे कि डुप्‍लीकेट सिम में SMS की सुविधा 24 घंटे में शुरू होती है. पुलिस रिपोर्ट, आईडी प्रूफ, मोबाइल खरीदते वक्‍त मिला इनवॉइस जैसे दस्‍तावेजों की मदद से फोन ब्‍लॉक करने के लिए ऐप्‍लीकेशन दी जा सकती है. रिक्‍वेस्‍ट सबमिट होने के 24 घंटों के भीतर फोन ब्लॉक कर दिया जाता है. इसके बाद डिवाइस को देश में किसी भी मोबाइल नेटवर्क पर इस्‍तेमाल नहीं किया जा सकेगा. हालांकि पुलिस उस फोन को ट्रैक करती रहती है.

  • सबसे पहले आपको संचार साथी पोर्टल की à¤†à¤§à¤¿à¤•à¤¾à¤°à¤¿à¤• वेबसाइट à¤ªà¤° जाना होगा.
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा.
  • होम पेज पर आपको CEIR Services à¤•à¥‡ ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद आपको Block Stolen/Lost Mobile à¤•à¥‡ ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा.
  • अब आपको इस पेज पर मोबाइल से संबंधित मांगी गई सभी जानकारी को दर्ज करना होगा.
  • पहले आपको मोबाइल की जानकारी दर्ज करनी होगी. जैसे मोबाइल नंबर, मोबाइल कंपनी, मोबाइल मॉडल और मोबाइल खरीद रशीद को अपलोड करना होगा.
  • इसके बाद आपको मोबाइल खोने से संबंधित जानकारी को दर्ज करना होगा. जैसे स्थान, तारीख, राज्य, केंद्र शासित प्रदेश, जिले का चयन, पुलिस स्टेशन का चयन, पुलिस शिकायत संख्या और पुलिस शिकायत प्रति को अपलोड करना होगा.
  • अब आपको मोबाइल मालिक की व्यक्तिगत जानकारी को दर्ज करना होगा जैसे कि मालिक का नाम, पता, पहचान संख्या, ईमेल आईडी और अंत में दिया गया कैप्चा कोड तथा ओटीपी के लिए मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा.
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको ओटीपी प्राप्त करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • आपके द्वारा दर्ज किए गए मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा. जिसे आपको ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा.
  • इस प्रकार आपकी गुम या चोरी हुए मोबाइल को ब्लॉक करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी.

संचार साथी पोर्टल पर लॉगिन कैसे करें

  • पोर्टल पर उपलब्ध सुविधाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए सबसे पहले आपको Sanchar Saathi Portal की à¤†à¤§à¤¿à¤•à¤¾à¤°à¤¿à¤• वेबसाइट à¤ªà¤° जाना होगा.
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा.
  • होम पेज पर आपको Login à¤•à¤¾ ऑप्शन दिखाई देगा. आपको उस पर क्लिक करना होगा.
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा.
  • अब आपको इस पेज पर Username और Password दर्ज करना होगा.
  • इसके बाद आपको दिया गया कैप्चा कोड दर्ज कर Submit à¤•à¥‡ ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • इस प्रकार आप संचार साथी पोर्टल पर लॉगिन कर सकते हैं.

आवेदन à¤•à¥€ à¤¸à¥â€à¤Ÿà¥‡à¤Ÿà¤¸ à¤•à¥ˆà¤¸à¥‡ à¤šà¥‡à¤• à¤•à¤°à¥‡à¤‚?

  • सबसे पहले आपको दूरसंचार विभाग की à¤…धिकारिक वेबसाइट à¤ªà¤° जाना होगा.
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा.
  • होम पेज पर आपको Check Request Status à¤•à¥‡ ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने अपने एक नया पेज खुल जाएगा.
  • अब आपको इस पेज पर वह आईडी दर्ज करनी होगी जो आपको गुम या चोरी हुए मोबाइल को ब्लॉक करने की प्रक्रिया में प्राप्त हुई थी.
  • Request ID दर्ज करने के बाद आपको Submit à¤•à¥‡ ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • इस प्रकार आप अपने गुम या चोरी हुए मोबाइल का स्टेटस चेक कर सकते है.  

मोबाइल फोन को दोबारा कैसे करें अनब्‍लॉक

खोया या चोरी हुआ फोन मिल जाने पर उसे अनब्‍लॉक कराया जा सकता है. इसके लिए लोकल पुलिस को सूचना देनी होगी. उसके बाद संचार साथी पोर्टल पर फॉर्म भरकर फोन अनब्‍लॉक कराया जा सकता है.

दिल्ली-मुंबई में काम कर रहा पोर्टल

बताया जाता है कि यह पोर्टल अभी दिल्ली-मुंबई सर्कल्स में काम कर रहा है. करीब 4 लाख 80 हजार खोए या चोरी हुए मोबाइल फोन ब्लॉक किए गए हैं. 2 लाख 43 हजार से ज्‍यादा मोबाइल फोन ट्रैक किए गए हैं. 8 हजार फोन की बरामदगी भी हुई है.

FAQs about Sanchar Sathi Portal

संचार साथी पोर्टल क्या है?

संचार साथी पोर्टल केंद्र सरकार का दूर संचार विभाग का सेवा उपक्रम है. इसके जरिए कोई भी व्‍यक्ति अपने खोए या गुम हुए मोबाइल फोन को ब्‍लॉक या अनब्‍लॉक किया जा सकता है. इससे आपके फोन की प्राइवेसी और डेटा दोनों को सुरक्षित किया जा सकता है.

संचार साथी पोर्टल का उपयोग कैसे करें?

किसी की मोबाइल फोन गुम या चोरी हो जाती है तो इसे ब्‍लॉक संचार साथी पोर्टल के जरिए की जा सकती है. इसके लिए आप इस पोर्टल पर ऑनलाइन फॉर्म भरकर करने के लिए कुछ जरूरी स्‍टेप्‍स का पालन करते हुए अपने फोन के खोने या चारी होने की सूचना दे सकते हैं.

क्या संचार साथी पोर्टल उपयोग करने के लिए निःशुल्क है?

हां, संचार साथी पोर्टल का उपयोग बिल्‍कुल फ्री है. अपने खोए या चोरी हुए मोबाइल की सूचना दर्ज कराने के लिए आपसे कोई फीस लेने का प्रावधान नहीं है.

पिछले 10 सालों से रांची में डिजिटल मीडिया से जुड़ाव रहा है. Website Designing, Content Writing, SEO और Social Media Marketing के बदलते नए तकनीकों में दिलचस्‍पी है.

Sharing Is Caring:

1 thought on “Sanchar Sathi: गुम या चोरी मोबाइल ढूंढ निकालेगी सरकार की नई संचार साथी पोर्टल”

Leave a Reply