गूगल से भारतीय प्रकाशकों के लिए विज्ञापन की आय में हिस्सेदारी बढ़ाने की मांग

by

New Delhi: प्रिंट मीडिया (Print Media) का प्रतिनिधित्व करने वाला इंडियन न्यूजपेपर सोसाइटी (INS) ने गुरुवार को आईटी प्रौद्योगिकी कंपनी गूगल (Google) से विज्ञापन आय में प्रकाशकों की हिस्सेदारी बढ़ाकर 85 प्रतिशत करने को कहा. उसने अमेरिकी कंपनी से प्रकाशकों को उपलब्ध कराई जाने वाली आय रिपोर्ट में और पारदर्शिता भी सुनिश्चित करने को कहा.

आईएनएस के अध्यक्ष एल आदिमूलम ने गूगल इंडिया को लिखे पत्र में कहा कि प्रकाशकों को विज्ञापन व्यवस्था में पारदर्शिता की कमी का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि उन्हें गूगल के विज्ञापन की मूल्य श्रृंखला के बारे में विस्तार से जानकारी नहीं मिल पाती.

आईएनएस ने गूगल से भारतीय अखबारों में छपी खबरों के उपयोग को लेकर व्यापक रूप से क्षतिपूर्ति देने और विज्ञापन से प्राप्त आय के मामले में समुचित रूप से हिस्सा देने को कहा. आईएनएस ने एक बयान में कहा, ”सोसाइटी इस बात पर जोर देती है कि गूगल को विज्ञापन आय में प्रकाशकों की हिस्सेदारी बढ़ाकर 85 प्रतिशत करना चाहिए. साथ ही प्रकाशकों को उपलब्ध करायी जाने वाली आय रिपोर्ट में और पारदर्शिता भी सुनिश्चित की जाए.”

बयान के अनुसार अखबार जो खबर प्रकाशित करते हैं, उस पर अच्छा-खासा खर्चा आता है. और यह वही भरोसेमंद खबरें हैं जिसने गूगल को शुरूआत से ही विश्वसनीय बनाया.

आईएनएस ने कहा, ”अखबरों के छपी खबरों के लिये गूगल को भुगतान करना चाहिए. अखबार हजारों पत्रकारों को नियुक्त करते हैं और उनके जरिये खबरें प्राप्त करते हैं और उसका सत्यापन करते हैं. इसमें काफी खर्चा होता है.”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.