सिंघु बॉर्डर किसान आंदोलन से घर लौट रहे चार किसानों की मौत

by

Mohali: सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन से घर लौटते समय सोमवार रात को चार किसानों की सड़क हादसे में मौत हो गई. वहीं जबकि 16 घायल होने की  खबर है. करनाल के तरावड़ी में हुए सड़क हादसे में दो किसानों की मौत और नौ घायल हो गए. वहीं मोहाली में हुए हादसे में दो किसानों की जान गई और सात घायल हो गए. सिंघु बॉर्डर से घर लौट रहे किसानों से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली को जीटी रोड पर तरावड़ी के समीप एक कैंटर ने टक्कर मार दी. 

हादसे में पटियाला के 24 वर्षीय गुरप्रीत सिंह और 65 वर्षीय लाभ सिंह की मौत हो गई. गुरप्रीत घर में इकलौता था, जिसकी शादी भी नहीं हुई थी. इनके अलावा हादसे में नौ किसान घायल हो गए. इसमें एक किसान की हालत गंभीर बनी हुई है. यह हादसा सोमवार देर रात करीब 1.30 हुआ. हादसे में कुलवंत सिंह, हरदेव सिंह, हरविंद्र सिंह, सुखविंद्र सिंह, हरमैल सिंह, मलकीत सिंह, चरणजीत सिंह, गुरविंद्र सिंह घायल हुए हैं. 

वहीं दूसरा हादसा मोहाली में बनूड-खरड़ रोड पर गांव भागोमाजरा के पास हुआ. यहां सिंघु बॉर्डर से घर लौट रहे किसानों के टेंपों की गलत दिशा से आ रहे एक तेज रफ्तार ट्राले से टक्कर हो गई. इसके बाद दोनों वाहन पलट गए. हादसे में सुखदेव सिंह निवासी गांव डडियाल जिला फतेहगढ़ साहिब और दीप सिंह निवासी पोपनयां जिला मोहाली की मौत हो गई. 

एक घायल किसान की काटनी पड़ी टांग

मनप्रीत सिंह, पवन कुमार, भाग सिंह पूर्व सरपंच, मूला राम महिपाल, दिलबाग सिंह रंगिया और सुखदर्शन सिंह घायल हो गए. सिविल अस्पताल से मनप्रीत सिंह, महिपाल और सुदर्शन सिंह को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया. वहीं मूलराम को चंडीगढ़ के सेक्टर-32 स्थित जीएमसीएच में दाखिल करवाया गया है.

बताया जा रहा है कि हादसे में घायल एक किसान की डॉक्टरों को टांग काटनी पड़ी. घायल किसानों से मिलने पहुंचे पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा कि इलाज का पूरा खर्च पंजाब सरकार उठाएगी. वहीं, पीड़ित परिवारों को मुआवजा दिलाने के लिए प्रयास किए जाएंगे.

नवांशहर जा रहे थे किसान

जीटी रोड पर करनाल के नीलोखेड़ी के समीप हुए दूसरे सड़क हादसे में सिंघु बॉर्डर धरने से पंजाब के नवांशहर वापस घर लौट रहे किसानों की ट्रैक्टर-ट्रॉली को अंबाला डिपो की बस ने टक्कर मार दी. इससे किसानों को काफी चोट लगी. जीटी रोड से गुजर रहे किसानों ने यह हादसा देखा तो उन्होंने जीटी रोड को जाम कर दिया. करीब 15 मिनट तक जाम लगा रहा. डीएसपी ने मौके पर पहुंचकर जाम को खुलवा दिया. बस संचालक ने चोटिल किसानों का इलाज कराने व नुकसान की भरपाई करने की जिम्मेदारी ली.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.