रांची में लॉक डाउन की सख्ती के लिए अब तीन शिफ्ट में काम करेगी फ्लाइंग स्क्वायड टीम

by

Ranchi: रांची जिला में कोविड-19 कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षा व्यवस्था एवं एहतियाती व्यवस्था संधारण के लिए बनाई गई फ्लाइंग स्क्वायड टीम अब तीन पालियों में काम करेगी. पहले फ्लाइंग स्क्वायड टीम दो पालियों में काम कर रही थी.

तीन अलग-अलग शिफ्ट इस प्रकार होंगे

शिफ्ट A- सुबह 6:00 बजे से से 2:00 बजे दोपहर तक

शिफ्ट B- दोपहर 2:00 बजे से 10:00 बजे रात तक

शिफ्ट C- 10:00 बजे रात से सुबह 6:00 बजे तक

इन्हीं तीन पालियों के आधार पर कर्मियों को प्रतिनियुक्त भी किया गया है. पूरे शहरी क्षेत्र को अंचलवार चार भागों में बांटा गया है. संबंधित क्षेत्र के अंचल अधिकारी इंसिडेंट कमांडर होंगे. अंचल अधिकारी अपने संबंधित फ्लाइंग स्क्वायड टीम से संपर्क कर आवश्यकतानुसार सहायता उपलब्ध कराएंगे.

Read Also  घर से बाहर बिना ईपास निकले तो देना होगा जुर्माना

अंचलवार प्रभारी अंचल अधिकारी निम्न प्रकार से हैं

शहर अंचल – श्री प्रकाश कुमार, अंचल अधिकारी सदर.

बड़गांई अंचल – श्री शैलेश कुमार, अंचल अधिकारी, बड़गाईं

हेहल अंचल – श्री दिलीप कुमार, अंचल अधिकारी, हेहल.

अरगोड़ा अंचल – श्री रविंद्र कुमार, अंचल अधिकारी अरगोड़ा.

हर टीम में एक/दो शिक्षक एवं एक डॉक्टर/एक स्वास्थ्य कर्मी होंगे. शिक्षक के प्रभारी जिला शिक्षा पदाधिकारी श्री कमला सिंह हैं। डॉक्टर /स्वास्थ्य कर्मी के प्रभारी शशि भूषण खलखो डीआरसीएचओ रांची बनाये गए हैं.

प्रतिनियुक्त पदाधिकारी एवं कर्मचारी प्राप्त सूचना के आधार पर आवश्यक कार्रवाई करते हुए नियंत्रण कक्ष को सूचित करेंगे, जो जिला समाहरणालय ब्लॉक A, कमरा संख्या 609 में 24 * 7 कार्यरत है.

अपर समाहर्ता, रांची जिला नियंत्रण कक्ष के वरीय प्रभार में है तथा जिला भू अर्जन पदाधिकारी नियंत्रण कक्ष को आवश्यक सहयोग करेंगी.

Read Also  31 वर्षीय विधायक अंबा प्रसाद पर FIR, 48 लाख अवैध निकासी का आरोप

फ्लाइंग स्क्वायड टीम के कार्य

फ्लाइंग स्क्वायड टीम कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति के पास पहुंच कर वस्तुस्थिति की जानकारी लेगी. जिन व्यक्तियों को घर से अलग क्वॉरेंटाइन रखना है उसे अलग रखने की व्यवस्था करेगी. जिन्हें घर पर क्वॉरेंटाइन करना है उनके हाथ पर होम क्वॉरेंटाइन का मुहर लगाकर इसकी जानकारी टीम द्वारा दी जाएगी.

क्वॉरेंटाइन की स्थिति में 14 दिनों तक उस व्यक्ति की नियमित रूप से जांच करनी है, 14 दिनों तक यदि स्थिति सामान्य रहे तो उसे सेल्फ रिपोर्टिंग हेतु अगले 14 दिनों तक निगरानी में रखा जाएगा. इस दौरान किसी भी प्रकार के लक्षण होने पर टोल फ्री नंबर 1950 पर टीम द्वारा सूचना दी जाएगी. फ्लाइंग स्क्वायड टीम आवश्यकतानुसार संबंधित अंचल अधिकारी से सहायता प्राप्त करेगी.

Read Also  रांची में 18 प्लस वैक्सीनेशन के लिए नहीं करना होगा इंतजार, जिला प्रशासन कर रही है खास तैयारी

प्रत्येक ग्राम पंचायत में आंगनबाड़ी सेविका/सहिया 15 दिनों के अंदर दूसरे देश/राज्य से आए हुए व्यक्तियों की सूचना एएनएम को देंगी. एएनएम इस सूचना को अपने बीडीओ एवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को देंगी. बीडीओ, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी आवश्यक कार्रवाई करते हुए जिला नियंत्रण कक्ष को किए गए कार्रवाई की सूचना देंगे.

शहर अंचल फ्लाइंग स्क्वायड टीम का मुख्यालय एसडीए मिशन हॉस्पिटल बरियातू, बड़गाई अंचल का सदर हॉस्पिटल रांची, हेहल अंचल का सीएचसी डोरंडा तथा अरगोड़ा अंचल का रांची नगर निगम हॉस्पिटल रातू रोड चौराहा निर्धारित किया गया है.

अनुमंडल पदाधिकारी सदर/बुंडू अपने क्षेत्र के प्रभार में हैं तथा उप विकास आयुक्त रांची संपूर्ण प्रभार में हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.