रांची में जमीन कारोबारी के साथ पहले मारपीट की फिर सरेआम दाग दी गोली, पुलिस कार्रवाई पर उठ रहे सवाल

by

Ranchi: रांची जिले के नामकुम थाना के मौलाना आजाद कॉलोनी स्थित नूरी मस्जिद के पास रविवार की दोपहर अपराधियों ने एक जमीन कारोबारी पर गोली चलाई. हालांकि कारोबारी की किस्‍मत अच्‍छी थी. गोली उसे लगी नहीं और वह बाल-बाल बच गया.

पीड़ित जमीन कारोबारी का नाम बुलंद है और वह नामकुम थाना क्षेत्र का ही रहने वाला है. बुलंद अपने कुछ अन्य साथियों के साथ मौलाना आजाद कॉलोनी स्थित नूरी मस्जिद के पास खड़ा था. इसी दौरान अपराधी वहां पहुंचा और गोली चला दी. गोली चलने के बाद थोड़ी देर के लिए अफरा-तफरी का माहौल हो गया.

पहले तो किसी को कुछ समझ में नहीं आया, लेकिन अपराधियों को भागता देख मामला तुरंत स्पष्ट हो गया कि जमीन कारोबारी पर ही गोली चलाई गई थी.

बताया गया कि घटना के वक्त बुलंद नाम के जमीन कारोबारी के साथ मारपीट की गई और बाद में गोली मारी गई. गोली चलाने वाले अपराधी का नाम अनवर बंगाली बताया जा रहा है.

घटना की सूचना मिलते ही नामकुम थाना प्रभारी सुनील तिवारी मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है और इस बात का जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है कि अपराधियों ने आखिर क्यों गोलीबारी की है.

नामकुम थाने के एएसआइ गोलीकांड को दबाने का कर रहे थे प्रयास

नामकुम थाने के एएसआइ वाईपी सिंह गोलीकांड की सूचना के बाद सबसे पहले मौके पर पहुंचे थे और वह लगातार पूरे मामले को दबाने का प्रयास कर रहे थे. गोली चलने की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे मीडिया कर्मियों को भी वह झूठी जानकारी देते हुए गुमराह करने का प्रयास कर रहे थे. एएसआइ बिना जांच पूरी किए हुए ही गोली नहीं चलने की बात कहते हुए लगातार मामले को दबाने का प्रयास कर रहे थे.

एएसआइ का रवैया भी स्‍थानीय लोगों को नागवार गुजर रहा था. स्थानीय लोग तो दबी जुबान से आपस में यह भी बात करने लगे थे कि कहीं इस गोलीकांड के पीछे इस एएसआइ की भी संलिप्तता तो नहीं है. अगर इस गोलीकांड से एएसआइ पूरी तरह से अनभिज्ञ है, तो फिर मामले को दबाने का प्रयास क्यों कर रहा है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.