झारखंड नाम के लिए भी आंदोलनकारियों ने लड़ी थी लड़ाई, वर्ना झारखंडी कहलाते वनवासी

झारखंड नाम के लिए भी आंदोलनकारियों ने लड़ी थी लड़ाई, वर्ना झारखंडी कहलाते वनवासी

Ranchi: लाल रणविजय नाथ शाहदेव झारखंड के आंदोलनकारियों में से एक माने जाते हैं. उनका निधन 17 मार्च 2019 को हुआ. उनके पोते रितुराज शाहदेव ने अपने इंटरव्‍यू में बताया कि बीजेपी शासन में जब बिहार अलग हो रहा था तब नये राज्‍य का नाम वनांचल रखा जा रहा था. तब उनके दादाजी लाल रणविजय नाथ शाहदेव के नेतृत्‍व में झारखंड आंदोलनकारियों ने तत्‍कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और गृहमंत्री लालकृष्‍ण आडवाणी से मुलाकात की और बिहार से अलग हुए नये राज्‍य का नाम झारखंड कराया. इस नाम के लिए भी झारखंड के आंदोलनकारियों को संघर्ष करना पड़ा. देखिए वीडियो इंटरव्‍यू.

1 thought on “झारखंड नाम के लिए भी आंदोलनकारियों ने लड़ी थी लड़ाई, वर्ना झारखंडी कहलाते वनवासी”

Leave a Reply

%d bloggers like this: