किसानों की पांचवें दौर की वार्ता भी विफल, 8 दिसंबर को भारत बंद का ऐलान

by

New Delhi: किसानों की सरकार से वार्ता आज फिर विफल हो गई. पांचवे दौर में की वार्ता में कोई हल नहीं निकल पाया. जिसके बाद किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद करने का ऐलान कर दिया है और सरकार ने अब 9 दिसंबर को पूर्वाहन 11:00 छठे दौर की वार्ता करने का निर्णय लिया है.

इसे भी पढ़ें: रांची रेलवे स्टेशन पर 24 घंटे उपलब्ध रहेगी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन की एंबुलेंस

विधेयकों को वापस लेने पर अड़े किसान नेता

आज केंद्रीय मंत्रियों और किसान नेताओं के बीच चली कई घंटे की वार्ता के बाद भी कोई हल नहीं निकल पाया. केंद्र सरकार किसान नेताओं को इस बात पर राजी करना चाहती थी कि कृषि विधेयकों में कुछ संशोधन कर दिया जाएगा. लेकिन, किसान नेता तीनों विधेयकों को पूरी तरह वापस लेने पर अड़े हुए हैं.

Read Also  सदर अस्प‍ताल रांची से शुरू हुई झारखंड में कोरोना वैक्सीनेशन, हेमंत सोरेन ने कहा- वरदान साबित होगा

किसान नेताओं ने बताया कि सरकार ने यह भी कहा कि एमएसपी के बारे में बाद में विचार कर लिया जाएगा लेकिन किसानों नेताओं ने स्पष्ट किया कि एमएसपी का फैसला भी इसी बैठक में किया जाएगा. किसान नेताओं ने बताया कि सरकार संशोधन को तैयार है लेकिन जब तक विधेयक वापस नहीं होंगे किसान का भला नहीं होगा.

इसे भी पढ़ें: आदि की शादी के पांच दिन बाद बर्बादी शुरू, पत्‍नी श्‍वेता को दी मायके भेजने की धमकी

8 दिसंबर को भारत बंद

किसान नेताओं ने 8 दिसंबर को भारत बंद को जोर-शोर से करने का ऐलान किया है, इसी बीच सरकार और किसान नेताओं में तय हुआ है कि 9 दिसंबर को 11:00 बजे किसान नेताओं से सरकार की फिर वार्ता होगी. सरकार ने किसान नेताओं से अपने प्रस्ताव लिखित में देने के लिए भी कहा है. फिलहाल किसान आंदोलन जारी है.

Read Also  सदर अस्प‍ताल रांची से शुरू हुई झारखंड में कोरोना वैक्सीनेशन, हेमंत सोरेन ने कहा- वरदान साबित होगा

2 thoughts on “किसानों की पांचवें दौर की वार्ता भी विफल, 8 दिसंबर को भारत बंद का ऐलान”

  1. Pingback: Anonymous

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.