Take a fresh look at your lifestyle.

फास्टैग रिचार्ज कैसे करे : fastag recharge online in hindi

0 369

(फास्टैग रिचार्ज कैसे करे, fastag recharge online in hindi) फ़ास्टैग के बारे में आप सभी तो जानते ही होंगे इसे टोल टैक्स भरते समय होने वाली परेशानियों को ख़त्म करने के लिए एवं इसे इलेक्ट्रोनिक सिस्टम के रूप में तब्दील करने के लिए बनाया गया है. इसमें सभी वाहनों के लिए एक फ़ास्टैग दिया जायेगा, जोकि वाहन की विंड स्क्रीन पर लगा हुआ होगा. टोल नाके पर आते ही इसे ट्रैक कर लिया जायेगा और इससे आपके वाहन का टोल टैक्स का पेमेंट हो जायेगा. लेकिन अब बात आती हैं कि आपको फ़ास्टैग मिलेगा कहाँ से? और इससे पेमेंट किस तरह से होगा, तो हम इस लेख में इन सभी जानकारी को कवर कर रहे हैं.

फ़ास्टैग बनवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज (Documents Required for Fastag registration)

फ़ास्टैग बनवाते समय हमें निम्न दस्तावेजों की आवश्यकता होगी.

वाहन के रजिस्ट्रेशन के दस्तावेज :- आपके पास आपके वाहन के रजिस्ट्रेशन के सभी दस्तावेजों की ओरिजिनल एवं डुप्लीकेट दोनों कॉपी होना आवश्यक है. इसकी जाँच करने के बाद ही आपके वाहन के लिए आपको फ़ास्टैग जारी होगा.
बैंक खाते की जानकारी के लिए दस्तावेज :- फ़ास्टैग को आपके बैंक खाते से जोड़ा जायेगा, ताकि टोल नाके पर पहुँचने के बाद फ़ास्टैग को ट्रैक कर आपके खाते से पैसे कट जाये. इसलिए आपको अपने बैंक खाते की जानकारी के लिए पासबुक जैसे दस्तावेजों की कॉपी की आवश्यकता हो सकती है.
आईडी :- वाहन की पहचान के साथ – साथ वाहन चालक की पहचान होना भी आवश्यक है, इसलिए आवेदकों को अपनी आईडी के रूप में आधार कार्ड या वोटरआईडी कार्ड भी अपने साथ में रखना होगा.
पते का प्रमाण :- इसके अलावा आपके पास अपना पते का प्रमाण भी होना चाहिए, इसके लिए आप अपने स्थानीय पते के प्रमाण के रूप में बिजली या टेलीफोन के बिल की कॉपी का उपयोग कर सकते हैं.     

फ़ास्टैग के लिए आवेदन कैसे करें ? (How to Apply for Fastag ?)

चूकि 15 दिसंबर से सभी वाहनों पर फ़ास्टैग लगवाना अनिवार्य कर दिया गया हैं, इसलिए यदि आपको इसके लिए आवेदन करना है तो आप निम्न चरणों को फॉलो करें –

वाहन के मालिक यानि आपको सबसे पहले फ़ास्टैग के अधिकारिक पोर्टल की लिंक में जाकर एप्लीकेशन फॉर्म प्राप्त करना होगा.
लेकिन एप्लीकेशन फॉर्म प्राप्त करने से पहले आपको उस बैंक का चयन करना होगा जिस बैंक से आप फ़ास्टैग प्राप्त करना चाहते है. जैसे ही आप बैंक का चयन करेंगे आपकी स्क्रीन पर एक नई विंडो खुल जाएगी.
यहाँ से आप फ़ास्टैग के लिए आवेदन कर सकते हैं. यहाँ आपको इससे जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त हो जाएगी.
यहाँ पहुंचने के बाद आपको करना यह होगा कि वहां पर आपको एक फ़ास्टैग की लिंक दिखाई देगी उस पर क्लिक करना है. उसके बाद आपके सामने एक डिस्क्लेमर लिखा हुआ दिखेगा उसे पढ़ कर ‘आई अग्री’ बटन पर क्लिक करें.
इसके बाद फ़ास्टैग प्राप्त करने के लिए आपकी स्क्रीन पर एक फॉर्म खुल जायेगा. उसमें आपसे अपनी एवं अपने वाहन से जुडी कुछ जानकरी पूछी जाएगी, जिसे आपको भरना होगा. और साथ ही सभी दस्तावेजों को इसमें अटैच भी करना होगा.
सब कुछ हो जाने के बाद अंत में सबमिट बटन पर क्लिक कर आपको फ़ास्टैग कैसे प्राप्त होगा इसके निर्देश मिल जायेंगे. और साथ ही बैंक आपके नाम से एक स्लिप भी जारी कर देगा. उस स्लिप के माध्यम से आप फ़ास्टैग कार्ड को अपने बैंक खाते से लिंक भी कर सकते हैं.

इसके अलवा यदि आप पॉइंट ऑफ़ सेल के माध्यम से फ़ास्टैग के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको पीओएस के अंतर्गत आने वाले टोल टैक्स प्लाजा या एजेंसी के पास जाना होगा और वहां जाकर अपने वाहन के लिए फ़ास्टैग खाता खुलवाना होगा. यदि आप यह जानना चाहते हैं कि पॉइंट ऑफ़ सेल कहाँ – कहाँ उपस्थित है, तो इसके लिए आप राष्ट्रीय हाईवे अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर इसका पता लगा सकते हैं.

इस तरह से आप अपने वाहन के लिए फ़ास्टैग प्राप्त करने के लिए आवेदन दे सकते हैं.

फ़ास्टैग कैसे मिलेगा ? (How to Get Fastag ?)

आपने फ़ास्टैग के लिए आवेदन तो दे दिया अब यह आपको मिलेगा कैसे तो चलिये इसके बारे में अब चर्चा करते हैं –

आप अपने वाहन के लिए फ़ास्टैग ऑनलाइन शौपिंग प्लेटफॉर्म या पीओएस या उस बैंक की ब्रांचेज में जाकर प्राप्त कर सकते है, जहाँ पर उनका खाता है. इसके लिए कुछ ही बैंकों को चयनित किया गया है जोकि फ़ास्टैग कार्ड बनाते हैं. और इन बैंकों में आप इसके लिए ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकते हैं.
वहां आपको आवेदन के दौरान जो स्लिप मिली थी उसे दिखाना पड़ेगा, इसलिए आप उसे अपने साथ रखें.
इसके बाद आपके द्वारा दी गई जानकारी की बैंक द्वारा जाँच की जाएगी. और फिर आपको फ़ास्टैग प्रदान कर दिया जायेगा. जिसे आपको अपनी गाड़ी पर लगाना होगा.
इस फ़ास्टैग खाते को आप अपने बैंक खाते के साथ संलग्न कर सकते हैं इसके लिए कुछ नियम का पालन भी करना होगा, जिसके बारे में जानकारी आपको उसी बैंक से प्राप्त हो जाएगी जहाँ से आप इसे प्राप्त कर रहे हैं.
इसके अलावा गूगल प्ले स्टोर से फ़ास्टैग एप्प को डाउनलोड कर फ़ास्टैग प्राप्त किया जा सकता है. इसमें आप अपनी एवं अपने वाहन की सभी जानकारी देते हुए इसमें रजिस्टर करें.
इस एप्प में एक बार रजिस्टर हो जाने के बाद आपके दिए हुए मोबाइल नंबर का ओटीपी के माध्यम से वेरिफिकेशन किया जायेगा. सब कुछ सही होने पर आपको यह फ़ास्टैग 

फ़ास्टैग जारी करने में लगने वाली राशि (Amount to Issue Fastag)

फ़ास्टैग के लिए आवेदन एवं उसे जारी करते समय आपको को कुछ शुल्क भी देना होगा. जिसकी जानकारी इस प्रकार है–

जब आप फ़ास्टैग प्राप्त करने के लिए जायेंगे तो आपको 100 रूपये का भुगतान करना होगा.
इसके साथ ही सुरक्षा के लिए जमा राशि जोकि उन्हें वापस कर दी जाएगी वह है, इसके लिए उन्हें 200 रूपये देने होंगे.
टोल कार्ड का वॉलेट प्राप्त करने के लिए भी आवेदकों को 100 रूपये देने होंगे.
इसके अलावा फ़ास्टैग में जो मासिक वॉलेट लागू करने की राशि है और फ़ास्टैग कार्ड में जो अधिकतम मौजूद राशि है वह 20 हजार रूपये होनी चाहिए, यह सीमित केवाईसी के लिए होगी. जबकी पूर्ण केवाईसी के लिए यह अधिकतम मौजूद राशि 1 लाख रूपये होनी चाहिए.

फ़ास्टैग टोल में भुगतान कैसे होगा ? (How to Pay Fastrak Toll)

आपको फ़ास्टैग मिल जाने के बाद अब जब आपका वाहन टोल प्लाजा के पास पहुंचेगा, तो वहां पहुंचने के बाद टोल प्लाजा में लगे हुए सेंसर के माध्यम से आपकी गाडी में लगे हुए फ़ास्टैग को ट्रैक कर लिया जायेगा. और उसमें ऐसी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जायेगा कि आपके फ़ास्टैग खाते से पैसे कट जायेंगे. पैसे कटने के बाद एसएमएस के माध्यम से आपको यह पता चल जायेगा कि आपका टोल टैक्स भरा जा चूका है. इस तरह से फ़ास्टैग का भुगतान होगा. और यदि आप अपने फ़ास्टैग खाते को अपने बैंक खाते के साथ लिंक करते हैं तो पैसे सीधे आपके बैंक खाते से कट जायेंगे. और आपको अपने फ़ास्टैग खाते को रिचार्ज भी नहीं पड़ेगा.

फ़ास्टैग खाते को रिचार्ज कैसे करें ? (How to Recharge Fastag A/c ?)

यदि आपका फ़ास्टैग खाता बैंक के साथ लिंक नहीं है और जब आपके फ़ास्टैग खाते में पैसे ख़त्म हो जायें, तो उसके बाद आपको उसे रिचार्ज करना होता है क्योकि आपके फ़ास्टैग खाते में कम से कम 100 रूपये और ज्यादा से ज्यादा 1 लाख रूपये होना आवश्यक है. आवेदक फ़ास्टैग को रिचार्ज करने के लिए अपनी सुविधा के अनुसार क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड एवं नेटबैंकिंग का उपयोग कर सकते हैं. इसके लिए निम्न बिन्दुओं पर नजर डालिए –

फोन पे एप्प के माध्यम से :- आप फ़ोन पे एप्प पर भीम यूपीआई आईडी का उपयोग करके फ़ास्टैग खाते को रिचार्ज कर सकते हैं इसकी प्रक्रिया इस प्रकार है –

सबसे पहले आप अपने फोन पर फोन पे एप खोलें, यह आपके एंड्राइड स्मार्ट फोन में पहले से ही डाउनलोड रहता है.
इसे खोलने के बाद इसके होमपेज में ‘टू कांटेक्ट’ का विकल्प दिखाई देता है उस पर क्लिक करें.
इसके बाद आप ‘भीम यूपीआई आईडी’ पर जाएँ. इसके बाद नीचे आपको ऐड ‘भीम यूपीआई आईडी’ पर क्लिक करना है जहाँ से आपको अपना मोबाइल नंबर वैलिडेट करना होगा. तब आपके फोन में एक एसएमएस भी आयेगा.
फिर आपको अपनी भीम यूपीआई आईडी, रजिस्टर्ड नेम और निकनेम डालकर कन्फर्म करना होगा. आप पेमेंट पेज पर पहुँच जायेंगे. रजिस्टर्ड नाम में आपको अपने उस बैंक का नाम डालना होगा जहाँ से आपने फ़ास्टैग के लिए आवेदन किया था.
इसके बाद आप अपने फ़ास्टैग खाते को जितना रिचार्ज करना चाहते है वह राशि उसमें इंटर कर दीजिये. और फिर आपके वाहन का फ़ास्टैग खाता रिचार्ज हो जायेगा.
आपके संबंधित बैंक से सफलता पूर्वक भुगतान हो जाने के बाद आपको भुगतान की पुष्टि और फ़ास्टैग रिचार्ज का आपके फोन पर एक मेसेज आ जायेगा.

गूगल पे एप्प के माध्यम से :- इसके अलावा यदि आप भीम यूपीआई आईडी का उपयोग कर गूगल पे एप के माध्यम से रिचार्ज करना चाहते हैं तो वह भी कर सकते हैं इसके लिए निम्न बिन्दुओं पर ध्यान दें –

सर्वप्रथम आप आपके स्मार्टफोन में इन्सटाल्ड गूगल पे एप को खोलें, इसके लिए आपको गूगल पिन नंबर की आवश्यकता होगी.
इसके बाद आपकी स्क्रीन पर ‘न्यू’ बटन शो होगी उस पर क्लिक करें और फिर आपकी स्क्रीन पर भुगतान के लिए पेज खुल जायेगा. वहां से आपको ‘यूपीआई आईडी या यूआर’ विकल्प पर क्लिक करना है.
फिर जो टैब खुलेगा वह आपका ‘पे टू’ टैब होगा जहाँ से आपको पेमेंट करने के लिए ‘यूपीआई आईडी’ पर क्लिक करना हैं, और अपनी यूपीआई आईडी इंटर करनी पड़ेगी.
फिर आपकी स्क्रीन पर वेरीफाई की बटन मौजूद होगी आप उस पर क्लिक कर दें. फिर आपकी स्क्रीन पर बैंक पेमेंट का पेज खुल जायेगा.
यहाँ आपको भुगतान करने के लिए अपने बैंक का चयन करना है और भुगतान बटन पर क्लिक कर भुगतान करना है. इसमें आपको उतनी ही राशि का भुगतान करना है जितना आप फ़ास्टैग खाते को रिचार्ज करना चाहते हो.
बैंक की शुद्धता की पुष्टि के लिए टेस्टिंग के रूप में 1 रूपये भेजें. और यह वेरीफाई हो जाने के बाद पूरा भुगतान कर दें.
अंत में आपको एक एसएमएस आयेगा जिसमें आपको मोबाइल फोन पर भुगतान की पुष्टि और फ़ास्टैग रिचार्ज की जानकारी दी हुई होगी.

फास्टैग रिचार्ज कैसे करे : fastag recharge online in hindi

अतः इस तरह से आपका फ़ास्टैग खाता रिचार्ज हो जायेगा. जिससे टोल प्लाजा में आपके वाहन को ट्रैक कर भुगतान भी प्रक्रिया टेक्नोलॉजी के मध्यम से खुद ब खुद ही हो जाएगी. इसमें आपको परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.