बाबूलाल कोडरमा से लड़ेंगे चुनाव, शरद बोले- BJP को सबक सिखाने का समय

by

Koderma: झारखंड विकास मोर्चा के सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने मंगलवार को कोडरमा से चुनाव लड़ने के लिए ऐलान किया है. वह लोकतांत्रिक जनता दल के संरक्षक शरद यादव के साथ झुमरी तिलैया में कार्यकर्ता सम्‍मेलन किया.

10 फीसदी आरक्षण धोखा

शरद यादव ने बीजेपी और उसकी सरकारों पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि देश में आज हालत विकट है, एक तरह से अघोषित इमरजेंसी है. दस प्रतिशत आरक्षण अच्छा है, पर धोखा है.

अगर दस प्रतिशत आरक्षण है तो 50 प्रतिशत क्या है, इसे समझना होगा. अब चुनाव सिर पर है तो सोच समझ कर वोट करना होगा. वादा कर भूल जाने और धोखा देने वालों को सबक सिखाने का समय आ गया है.

विपक्षी मेल से बेचैन बीजेपी

बीजेपी सरकार के विरोध में विपक्षी दल मिल रहे हैं, तो बीजेपी और प्रधानमंत्री बेचैन हो रहे हैं. ये बेचैनी क्यों है. सत्ता जो उनका जाने वाला है.

उन्होंने कहा कि जात-पात, बिरदारी, धर्म-संप्रदाय के नाम पर बांटकर लड़ाने का काम हो रहा है. आदिवासी, दलित, व्यापारी, नौजवान, किसान सभी के मुद्दे गौण कर कारपोरेट घरानों का काम आसानी से हो रहा है.

उन्‍होंने कहा जिसने वादा किया, सपने दिखाए, इमान तोड़ा, छल किया उसे किसी भी कीमत पर नहीं बख्शें. उन्‍होंने आगे कहा, 2019 में मौका चूक गये तो फिर कोई नहीं बचेगा. भाजपा वाले गाय, गंगा, मंदिर-मस्जिद का नाम लेकर बांटने का प्रयास करेंगे.

jvam railly for babulal.jpg

शरद यादव का कहना है कि पिछले लोकसभा चुनाव में झारखंड, बिहार और उत्तरप्रदेश से भाजपा को 116 सीटें मिलीं थी. अकेले झारखंड से 12, इस बार यह गलती नहीं करनी है. एक भी सीट पर भाजपा को नहीं जीताना है.

 

उन्होंने कहा कि देश को ऐसा पीएम मिला है जो सुबह उठने के बाद से ही सपने दिखाते रहते हैं. स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश आज तक लागू नहीं हुई.

झारखंड में रघुवर दास की सरकार दिल्ली से चलती है. बिहार में नीतीश कुमार ने 11 करोड़ लोगों को धोखा दिया है. जनता उन्हें भी सजा देगी.

बाबूलाल कमल हैं

शरद यादव ने झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को सच्चाई व इमान वाला व्यक्ति बताया. कहा, मरांडी जैसे सच्चे व्यक्ति के बुलावे पर इनके सम्मान में आया हूं. जिस तरह किचड़ में कमल खिलता है उसी प्रकार झारखंड की सभी गंदगी के बीच बाबूलाल कमल हैं.  वोट इमान की चीज है तो इसे इमान वाले को ही दें और भाजपा को नेस्तानाबूद करें.

क्‍या हुआ तेरा वादा

बाबूलाल मरांडी ने कहा है कि भाजपा सरकार के द्वारा काला धन वापस लाने, रोजगार देने, किसानों को अच्छा दाम देने का वादा धरा रह गया. संवैधानिक संस्थाओं को प्रभावित कर सामाजिक सद्भावना तक को बिगाड़ने का काम हो रहा है. ऐसे में भाजपा को उखाड़ कर ही गरीब-गुरबों को न्याय मिल पायेगा.

मरांडी ने कहा कि कारपोरेट घरानों को लाभ पहुंचाने के लिए सभी कदम उठाए जा रहे हैं, लेकिन लोगों के रोजी-रोजगार से जुड़े कोडरमा इलाके में ढिबरा (अभ्रख चूरा) के मामले पर चुप्पी साध ली गयी. इससे उलट नियम-कानून का हवाला देकर ढिबरा चुनने का काम बंद करा दिया गया. भाजपा के पास कहने को कुछ नहीं है. चुनाव नजदीक है तो येलोग तरह- तरह के हथकंडे अपनाएंगे. लोगों को मंदिर-मस्जिद के नाम पर लड़ाएंगे.

अफसर भी जुमलेबाज

पूर्व मंत्री अन्नपूर्णा देवी ने कहा कि केंद्र व राज्य में सत्तासीन भाजपा की जुमलेबाज सरकार से हर कोई त्रस्त है. अलबत्ता भाजपा के साथ अधिकारी भी जुमलेबाज हो गये हैं. रोजगार के अवसर छीने जा रहे हैं. भाजपा सामाजिक समरसता बिगाड़ रही है. बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की बात हो रही है. बेटियां सुरक्षित नहीं हैं. और अधिकारी बिना काम किए इनाम बटोर रहे हैं. ये अखबारों की सुर्खियों में बना रहना चाहते हैं.

अन्नपूर्णा ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री ने इसी मैदान में माइका की चमक लौटाने की बात कही थी, पर कुछ हुआ नहीं. जिले की मुख्य आजीविका क्रशर, स्टोन, खदान, ढिबरा सब पर अंकुश लगाकर लोगों के पेट पर लात मार दिया गया. अन्नपूर्णा ने कहा कि आने वाला चुनाव निर्णायक होगा.

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.