प्री मॉनसून बारिश से झारखंड के कई जिलों में जनजीवन तबाह, बिजली व्‍यवस्‍था ध्‍वस्‍त

by
Advertisements

हजारीबाग में 36 घंटे बिजली रही गुल, पलामू में भी भारी नुकसान 

#HAZARIBAGH/PALAMU : हजारीबाग में गुरुवार की देर शाम आयी आंधी और बारिश से पूरे जिले की बिजली व्यवस्था ठप हो गयी. 36 घंटे बीतने के बाद भी कई क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति बहाल नहीं हो पायी. सड़क पर गिरे पेड़ों की टहनी, टूटे तार व पोल वैसे ही पड़े हैं. बिजली नहीं रहने के कारण शुक्रवार को दिन में हजारीबाग में पानी की आपूर्ति नहीं हो सकी. लोग पानी के लिए इधर से उधर दौड़ लगाते रहे. वहीं, शुक्रवार को दिनभर प्रशासन बिजली व्यवस्था सामान्य करने के प्रयासमें  जुटा रहा. जानकारी के अनुसार, शुक्रवार की देर रात में शहर की बिजली सप्लाई दुरुस्त हो सकी.

चार फीडर से आपूर्ति बंद: आंधी से हुए  नुकसान के कारण संत कोलंबस, सिंदूर टाउन टू, मिशन के करगिल, जबरा सब-स्टेशन से शुक्रवार की शाम छह बजे तक बिजली आपूर्ति बहाल नहीं हो पायी थी. साकेतपुरी, कार्मेल चौक, मटवारी, कृष्णापुरी, बाबूगांव, कोर्रा, मुफस्सिल थाना क्षेत्र के हुरहुरू, जबरा सहित कई क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति 36 घंटों तक बंद रही.

7.5 केवीए का सोलर प्लेट क्षतिग्रस्त:

पलामू के हैदरनगर में गुरुवार की देर शाम आयी तेज आंधी, बारिश से भारी क्षति पहुंची. मोहम्मदगंज-जपला मुख्य पथ में लटपौरी गांव के सोनबरसा फ्यूल पेट्रोल पंप पर लगे 7.5 केवीए का सोलर प्लेट क्षतिग्रस्त हो गया. संचालक शंकर सिंह ने बताया कि पंप परिसर में बने भवन की छत पर लगे 24 सोलर प्लेट में 19 प्लेट पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गये.

लटपौरी, भाई बिगहा, हैदरनगर, कबरा कलां, रानी देवा, बभनडीह, बडंडा, सबनवा, रसूलपुर, केवाल, इस्लामगंज आदि गांवों में कई घरों के सीमेंट व लोहा के शीट उड़ गये. कई जगहों पर तार टूट जाने से बिजली गुल हो गयी है. नेशनल फीडर से सोन नगर आनेवाली 1.32 लाख वोल्ट का टावर सासाराम (बिहार) के समीप गिर गया है, जिससे ठीक होने के बाद ही बिजली मिलने की संभावना है. हैदरनगर अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का पुराना चिकित्सक आवास पर पेड़ गिरने से आवास का बड़ा भाग क्षतिग्रस्त हो गया है.

कोयलांचल में प्री-मॉनसून बारिश ने दी दस्तक

धनबाद : कोयलांचल में शुक्रवार को प्री-मॉनसून बारिश ने समय से दस्तक दी. शुक्रवार को लगभग एक घंटे तक हुई बारिश से पारा में तीन डिग्री की कमी आयी. साथ ही लोगों को ऊमस भरी गर्मी से भी राहत मिली. दिन में ही रात का नजारा देखने को मिला. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार ही शुक्रवार को प्री-मॉनसून बारिश हुई.

मौसम विभाग के अनुसार अगले एक सप्ताह तक यहां प्री-माॅनसून बारिश होती रहेगी. 10-11 जून तक यहां मॉनसून के पहुंचने की संभावना है. वहीं, आंधी-बारिश के कारण धनबाद के कई क्षेत्रों में पेड़ की डालियां टूट गयी. सरायढेला महतो टोला में सुरेश महतो के मकान पर विशालकाय पेड़ गिर गया. इससे मकान क्षतिग्रस्त हो गया. हालांकि, जान-माल का नुकसान नहीं हुआ.

ठनका गिरने से महिला की मौत

गिद्दी (हजारीबाग) : ठनका गिरने से छोटकाचुंबा गांव की वृद्ध महिला की मौत शुक्रवार को दोपहर में हो गयी. गिद्दी पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए हजारीबाग भेज दिया है. कुलदीप मुंडा के लिखित बयान पर गिद्दी थाना में मामला दर्ज किया गया है. जानकारी के अनुसार, धुनिया देवी सेनेगढ़ा गांव में अपने संबंधी से मुलाकात कर पैदल गांव लौट रही थी. इसी दौरान बिजली गर्जन के साथ बूंदाबांदी शुरू हुई. ठनका गिरने से धुनिया देवी की मौत धंधरियाटांड़ के रास्ते में हो गयी. मालूम हो कि इस इलाके में आठ-10 दिनों के अंदर ठनका गिरने से कई लोगों की मौत हो चुकी है.

महुआडांड़ में वज्रपात से 10 घायल : महुआडांड़ थाना के ग्राम बोहटा के समीप अवस्थित ईंट-भट्ठा में काम कर लौट रहे 10 मजदूर वज्रपात की चपेट में आकर घायल हो गये. सभी मजदूर सेमर बुढ़नी के रहने वाले हैं. घायलों को शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया.

डुमरी : वज्रपात से आम चुन रही बच्ची की मौत, लालघाटा रेपेटांड़ टोला के जंगल में ठनका से 14 पशु मरे

डुमरी थाना क्षेत्र के खुरजियो में शुक्रवार को वज्रपात में एक आठ वर्षीय बच्ची की मौत हो गयी़. थाना क्षेत्र के जांगिदीरी निवासी बुजू यादव की पुत्री लक्ष्मी कुमारी गर्मी की छुट्टी में अपने नानिहाल खुरजियो आयी थी़. शुक्रवार की दोपहर लक्ष्मी सहेलियों के साथ बागीचे में आम चुनने गयी थी़.

इसी दौरान वज्रपात हो गया जिसकी चपेट में उसकी मौत हो गयी. उधर, निरसा थाना क्षेत्र के लालघाटा रेपेटांड़ टोला के जंगल में शुक्रवार की दोपहर ठनका की चपेट में आने से 14 गाय, बैल व बछड़ा की मौत हो गयी है, जबकि तीन घायल हैं.

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.