रांची के एसआरएल लैब, एस शरण लैब और मेडिका को उपायुक्‍त ने लगाया जमकर फटकार, कोविड टेस्‍ट में ढिलाई बरतने पर नोटिस जारी

by

Ranchi: रांची के उपायुक्‍त छवि रंजन की अध्यक्षता में निजी लैब संचालकों के साथ बैठक आयोजित की गई. इस बैठक में उप विकास आयुक्त रांची, अनुमंडल पदाधिकारी रांची सदर, उप समाहर्ता स्थापना रांची, विभिन्न निजी लैब के संचालक/प्रतिनिधि एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी शामिल हुए.

क्षमता के अनुसार टेस्टिंग करने का निर्देश

बैठक में सभी लैब संचालकों को अपनी-अपनी क्षमता के अनुसार कोविड-19 जांच करने का निर्देश दिया गया. उपायुक्त रांची छवि रंजन ने कहा कि सभी निजी लैब जांच की संख्या को बढ़ाएं और अपनी क्षमता के अनुसार सैंपल की जांच करें.

Read Also  झारखंड लॉकडाउन ई-पास बनाने में प्राइवेसी सुरक्षित नहीं, तकनीकी कमियों का कोई भी कर सकता है गलत इस्‍तेमाल

क्षमता के अनुसार जांच नहीं करने पर नोटिस

बैठक के दौरान उपायुक्त द्वारा सभी निजी लैब संचालकों से लैब की कैपेसिटी और प्रतिदिन की जाने वाली जांच की जानकारी ली गई. क्षमता से बहुत कम जांच करनेवाले लैब को उपायुक्त ने नोटिस करने का निर्देश संबंधित पदाधिकारी को दिया.  एसआरएल लैब, एस शरण लैब और मेडिका को नोटिस करने का निर्देश उपायुक्त द्वारा दिया गया. उपायुक्त ने लैब द्वारा जांच की संख्या शून्य दिखाने पर संबंधित पदाधिकारी को आवश्यक जांच करने का निर्देश दिया.

बैकलॉग क्लियर करें, ससमय जांच रिपोर्ट दें-उपायुक्त

बैठक के दौरान उपायुक्त छवि रंजन ने सभी निजी लैब संचालकों को बैकलॉग सैंपल जांच क्लियर करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा की रिपोर्ट देने में देरी ना करें, समय पर जिला प्रशासन के संबंधित सेल और व्यक्ति को रिपोर्ट उपलब्ध कराएं.

Read Also  रांची में 18 प्लस वैक्सीनेशन के लिए नहीं करना होगा इंतजार, जिला प्रशासन कर रही है खास तैयारी

निजी लैब्स की होगी रैंडम जांच, जांच नहीं करने पर किया जाएगा सील

क्षमता से कम जांच और जांच के कार्य में लापरवाही बरतने पर बैठक में निजी लैब संचालकों को उपायुक्त द्वारा जमकर फटकार लगाई गई. उपायुक्त ने कहा कि आम लोगों को किसी तरह की परेशानी नहीं होनी चाहिए. निजी लैब्स की मजिस्ट्रेट द्वारा रैंडम जांच की जाएगी. लैब बंद होने और सैंपल जांच नहीं करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

लैब में बनाए इंक्वायरी काउंटर – उपायुक्त

उपायुक्त छवि रंजन ने निजी लैब संचालकों से कहा कि जांच कराने आने वाले लोगों को किसी तरह की समस्या ना हो इसके लिए लैब में इंक्वायरी काउंटर बनाएं ताकि लोग जांच से संबंधित जानकारी आसानी से हासिल कर सकें. उन्होंने कहा कि एसआरएफ आईडी से अगर कोई जांच से संबंधित जानकारी पाना चाहता है तो इसकी भी व्यवस्था काउंटर पर होनी चाहिए.

Read Also  31 वर्षीय विधायक अंबा प्रसाद पर FIR, 48 लाख अवैध निकासी का आरोप

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.